IND vs ENG: विराट कोहली ने हार्दिक पंड्या से दोगुने मैच खेले, वर्कलोड कौन मैनेज कर रहा?

विराट कोहली टेस्ट और टी20 के बाद वनडे सीरीज भी जीतना चाहेंगे. (Pic: AP)

विराट कोहली टेस्ट और टी20 के बाद वनडे सीरीज भी जीतना चाहेंगे. (Pic: AP)

विराट कोहली (Virat Kohli) ने दूसरे वनडे (India vs England) के बाद कहा कि हार्दिक पंड्या का वर्कलोड मैनेज करने के लिए उनसे गेंदबाजी नहीं कराई जा रही है. लेकिन तीन साल में कोहली ने हार्दिक से दोगुने मैच खेले हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 27, 2021, 5:16 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने दूसरे वनडे (India vs England) के बाद कहा कि हार्दिक पंड्या का वर्कलोड मैनेज किया जा रहा है. वे टीम के महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं. इस कारण उनसे वनडे में गेंदबाजी नहीं कराई जा रही है. लेकिन पिछले तीन साल के रिकॉर्ड को देखें तो विराट कोहली ने हार्दिक पंड्या ने दोगुने इंटरनेशनल मैच खेले हैं. ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर वर्कलोड कौन मैनेज कर रहा है? खिलाड़ी या मैनेजमेंट.

टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने भी वर्कलोड को लेकर सवाल उठाए हैं. उनका कहना है कि इस सीरीज के बाद खिलाड़ियाें को आईपीएल खेलना है. ऐसे में अगर हार्दिक 4 से 5 ओवर गेंदबाजी करते हैं तो इससे उनके वर्कलोड पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा. आखिर वे 50 ओवर तक तो मैदान में फिल्डिंग करते ही हैं. 1 जनवरी 2018 से अब तक के भारतीय खिलाड़ियों के रिकॉर्ड को देखें तो तीनों फाॅर्मेट को मिलाकर विराट कोहली ने सबसे ज्यादा इंटरनेशनल मैच खेले हैं.

कप्तान विराट कोहली ने टेस्ट, वनडे और टी20 को मिलाकर 114 मैच खेले हैं. इसके अलावा टी20 सीरीज के पहले दो मैच में आराम करने वाले रोहित शर्मा 107 मैच के साथ दूसरे नंबर पर हैं. टीम इंडिया की ओर से अन्य कोई खिलाड़ी इस दौरान 100 मैच का आंकड़ा नहीं छू सका है. यानी टीम इंडिया के दो दिग्गज खिलाड़ी कोहली और रोहित सबसे ज्यादा मैच खेलने वाले खिलाड़ी हैं. ऐसे में इनके वर्कलोड की बात क्यों नहीं की जाती. यह आंकड़ा तो सिर्फ इंटरनेशनल मुकाबलों का है. इसके अलावा दोनों खिलाड़ियों ने तीन सीजन के आईपीएल के मुकाबले भी खेले हैं.

यह भी पढ़ें: IND vs ENG: टीम इंडिया के लिए वनडे महत्वपूर्ण नहीं! नजर वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप और टी20 वर्ल्ड कप पर
हार्दिक पंड्या को सिर्फ 56 मैच में मौका मिला

तीन साल के दौरान हार्दिक पंड्या की बात की जाए तो तीनों फॉर्मेट में उन्हाेंने सिर्फ 56 मुकाबले खेले हैं. यानी विराट कोहली से आधा. इसके अलावा शिखर धवन ने 88, केएल राहुल ने 79 और जसप्रीत बुमराह ने 73 मैच में उतरे. इस दौरान सिर्फ 13 खिलाड़ियों को 50 या उससे अधिक मैच खेलने का मौका मिला है. तीनों फॉर्मेट में तीन साल टीम इंडिया ने 51 खिलाड़ियों को आजमाया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज