अपना शहर चुनें

States

IND vs ENG: कोहली ने कहा- स्पिन गेंदबाज अहम रहेंगे लेकिन तेज गेंदबाजों की अनदेखी नहीं कर सकते

कोहली तीसरा टेस्ट जीत लेते हैं तो घर में सबसे ज्यादा मैच जीतने वाले भारतीय कप्तान बन जाएंगे.
कोहली तीसरा टेस्ट जीत लेते हैं तो घर में सबसे ज्यादा मैच जीतने वाले भारतीय कप्तान बन जाएंगे.

मोटेरा में होने वाले पिंक बॉल टेस्ट से पहले कप्तान विराट कोहली ने कहा कि यहां स्पिन गेंदबाज अहम रहेंगे. लेकिन तेज गेंदबाजों की अनदेखी नहीं कर सकते. पिंक बॉल रेड बॉल की अपेक्षा अधिक स्विंग करती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 23, 2021, 5:45 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत और इंग्लैंड (India vs England) के बीच तीसरा टेस्ट बुधवार से मोटेरा (Motera Test) स्टेडियम में होना है. यह डे-नाइट टेस्ट है और पिंक बॉल से खेला जाएगा. मैच की पूर्व संध्या पर कप्तान विराट कोहली  (Virat Kohli) ने कहा कि मैच में स्पिन गेंदबाज महत्वपूर्ण होंगे, लेकिन तेज गेंदबाजों की अनदेखी नहीं की सकती है. पिंक बॉल रेड बॉल की अपेक्षा अधिक स्विंग करती है. देश में दूसरी बार पिंक बॉल से टेस्ट मैच होने जा रहा है. चार मैचों की सीरीज अभी 1-1 से बराबर है.

चेपॉक में हुए दूसरे टेस्ट में भारत ने इंग्लैंड को 317 रन के बड़े अंतर से हराया था. इंग्लैंड के 20 में से 17 विकेट हमारे स्पिन गेंदबाजों ने झटके थे. कोहली ने कहा कि किसी भी तरह की पिच हो, पिंक बॉल से खेलना हमेशा चुनौतीपूर्ण होता है. विशेषकर शाम को. हां, निश्चित तौर पर स्पिनरों की भूमिका होगी, लेकिन मुझे नहीं लगता कि तेज गेंदबाजों की अनदेखी की जा सकती है। नई गेंद हमेशा परेशान करेगी. भारत ने अब तक पिंक बॉल से सिर्फ दो टेस्ट खेले हैं। उन्होंने कहा कि पिंक बॉल रेड बॉल से अधिक स्विंग करती है। जब 2019 में हम बांग्लादेश के खिलाफ पहली बार उतरे थे तो हमने ऐसा अनुभव किया था. पहले सेशन में बल्लेबाजी करना आसान होता है, सूरज ढलने के बाद दूधिया रोशनी में बल्लेबाजी आसान नहीं रहती है. वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने के लिए टीम इंडिया को सीरीज के बचे दो मैच में से एक जीतना होगा, जबकि एक ड्रॉ कराना होगा. इस पर कप्तान कोहली ने कहा कि हमारी नजरें एक मैच जीतने और एक ड्रॉ कराने पर नहीं हैं. हम दोनों मैच जीतने की कोशिश करेंगे. हमारे लिए यह क्रिकेट के दो मुकाबले हैं और हमारा ध्यान सिर्फ इसी पर है.

नए सिरे से तैयार किए गए मोटेरा स्टेडियम में पहली बार कोई इंटरनेशनल मुकाबला होने जा रहा है. एक लाख 10 हजार क्षमता वाले स्टेडियम में 50 फीसदी फैंस को आने की अनुमति दी गई है. ऐसे में पहले दिन लगभग 55 हजार फैंस स्टेडियम पहुंच सकते हैं. फैंस के आने पर कोहली ने कहा कि इससे टीम को सपोर्ट मिलता है और चेन्नई में भी हमें इसका फायदा भी मिला था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज