पाकिस्तानी कप्तान ने टॉस जीतने के बाद यह सोचकर चुनी थी बॉलिंग, फ्लॉप हो गई चाल!

Ind Vs Pak Match analysis: पाकिस्तानी कप्तान के दिमाग में यह रणनीति चल रही थी कि अगर पाकिस्तानी गेंदबाज भारतीय बल्लेबाजों को कम रनों में सिमटा देते हैं और दूसरी पारी में पाकिस्तानी टीम को महज कुछ ओवर ही खेलने पड़ते हैं तो उसमें पाकिस्तानी टीम पूरी तरह से सक्षम है.

News18Hindi
Updated: June 17, 2019, 10:32 AM IST
पाकिस्तानी कप्तान ने टॉस जीतने के बाद यह सोचकर चुनी थी बॉलिंग, फ्लॉप हो गई चाल!
शोएब ने कहा, ''हमारी मैनेजमेंट बेवकूफ है. हमारा कप्तान मैनेजमेंट के सामने मामू बना हुआ है. उसे कुछ समझ ही नहीं आती. वो कुछ भी नहीं करा सकता. 10वीं क्लास की बच्चे की तरह है, जिसे कहते हैं कि जा करके आ''.
News18Hindi
Updated: June 17, 2019, 10:32 AM IST
भले मैच हारने के बाद पाकिस्तान कप्तान सरफराज अहमद की तीखी आलोचना हो रही है. हालांकि पाकिस्तानी टीम मैनेजमेंट और टीम दोनों ही इस बात को ध्यान में रखकर क्रिकेट खेल रहे थे कि मैच में बारिश होने की पूरी उम्मीद है. इतिहास गवाह है डकवर्थ-लूइस के नियम का हमेशा पहले बॉलिंग करने वाली टीम को ही मिला है.

एक दिन पहले हुई थी भारी बारिश
असल में मैनचेस्टर के इस मैदान में मैच के ठीक एक दिन पहले दोपहर में भारी बारिश हुई थी, बल्कि मैच से ठीक पहले भी यहां बूंदा-बादी जारी थी. इसलिए पाकिस्तानी खेमे का पूरा जोर इस बात पर था कि अगर बारिश के चलते मैच में व्यवधान पड़ता है तो किस तरह से भारत के हाथ से मैच निकाला जाए. ऐसे में पाकिस्तान के सबसे सफल रणनीति यही थी कि पहले गेंदबाजी की जाए, क्योंकि पाकिस्तान को हमेशा से अपने बल्लेबाजों से ज्यादा गेंदबाजों पर भरोसा रहा है.

भारत को कम रनों पर रोककर डकवर्थ लूइस का फायदा उठाने की ताक में था पाक

ऐसे में पाकिस्तानी कप्तान के दिमाग में यह रणनीति चल रही थी कि अगर पाकिस्तानी गेंदबाज भारतीय बल्लेबाजों को कम रनों में सिमटा देते हैं और दूसरी पारी में पाकिस्तानी टीम को महज कुछ ओवर ही खेलने पड़ते हैं तो उसमें पाकिस्तानी टीम पूरी तरह से सक्षम है.

टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करना पाकिस्तान के लिहाज से था फायदेमंद


पाकिस्तान के बल्लेबाज चाहे इमाम उल हक हो, बाबर आजम या फिर फकर जमान या इसके बाद मोहम्मद हफीज और शोएब मलिक और सरफराज अहमद तक सभी कम ओवरों में अच्छा खेलने के लिए जाने जाते हैं.
Loading...

ये भी पढ़ें: INDvPAK: विश्व कप में भारत ने लगातार 7वीं बार पाकिस्तान को रौंदा, 89 रनों से दर्ज की जीत

अगर इस टीम को डकवर्थ लूइस के तहत 15 या 20 ओवरों में 150 या इससे ज्यादा रन भी चेज करना होता तो टीम पूरी ताकत लगा देती. पाकिस्तानी टीम में इसी रणनी‌ति को अपनाते हुए टॉस जीतने के बाद पहले गेंदबाजी का फैसला किया.

रोहित-राहुल-कोहली ने बिगाड़ा पाकिस्तान का खेल
लेकिन संयोग से बारिश ने उस स्तर पर मैच में खलल डाला नहीं और जब डाला तो मैच पाकिस्तान के हाथ से निकल चुका था. हालांकि पाकिस्तानी रणनीति की हवा भारतीय बल्लेबाजों ने ही निकाल दी थी. क्योंकि जिस तैयारी के साथ पाकिस्तान ने पहले गेंदबाजी चुनी वैसा करने में पूरी तरह विफल रहे.

रोहित शर्मा ने पूरी चाल बिगाड़ दी.


गेंदबाजी मोहम्मद आमिर के अलावा कोई दूसरा गेंदबाज प्रभावित नहीं कर सका और भारत की ओर से रोहित शर्मा, केएल राहुल और कप्तान कोहली ने जिस तेजी से रन बनाया उससे पाकिस्तान की हवा निकल गई.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: June 17, 2019, 9:33 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...