होम /न्यूज /खेल /IND vs SA: दक्षिण अफ्रीका में कोरोना केस बढ़े तो क्या होगा? CSA ने टीम इंडिया को दी ये गारंटी

IND vs SA: दक्षिण अफ्रीका में कोरोना केस बढ़े तो क्या होगा? CSA ने टीम इंडिया को दी ये गारंटी

IND vs SA: कोरोना वायरस केस बढ़ने की स्थिति में टीम इंडिया कभी भी दक्षिण अफ्रीका छोड़ सकती है. (AP)

IND vs SA: कोरोना वायरस केस बढ़ने की स्थिति में टीम इंडिया कभी भी दक्षिण अफ्रीका छोड़ सकती है. (AP)

India vs South Africa: दक्षिण अफ्रीका में ओमिक्रॉन का खतरा मंडरा रहा है. ऐसी संभावना है कि भारत का दौरा बीच में ही रद्द ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट टीम का दक्षिण अफ्रीका दौरा 26 दिसंबर से सेंचुरियन में पहले टेस्ट (India vs South Africa) के साथ शुरू होगा, लेकिन कोविड-19 के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) के बढ़ते मामलों की वजह से यह दौरा बीच में भी रुक सकता है. दक्षिण अफ्रीका ने भारतीय क्रिकेटरों (Team India) को गारंटी दी है कि अगर कोरोना की वजह से बॉर्डर बंद होते हैं तो उन्हें घर वापस पहुंचाया जाएगा. दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस का ओमिक्रॉन वेरिएंट मिलने के बाद यह सीरीज खतरे में नजर आ रही थी. इसके बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) और क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (CSA) ने रजामंदी से इस सीरीज को करने का फैसला किया.

    हालांकि, इस सीरीज के शुरू होने में देरी हुई और इसके साथ ही दोनों देशों के बीच टी20 सीरीज को स्थगित किया है. भारत के दक्षिण अफ्रीका दौरे को एक बार फिर से शेड्यूल किया गया. 10 दिनों के लिए आगे बढ़ाए गए इस दौरे का पहला मैच 17 दिसंबर को होना था, लेकिन अब सीरीज की शुरुआत 26 दिसंबर से हो रही है. क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) द्वारा बीसीसीआई को दी गई कई गारंटियों में भारतीय खिलाड़ियों को किसी भी कारण से भर्ती होने की आवश्यकता होने पर अस्पताल में बिस्तर भी शामिल हैं.

    ICC Test Rankings: जो रूट से नंबर-1 की कुर्सी छिनी, विराट कोहली को भी नुकसान; जानिए कौन है बेस्ट

    न्यूज 23 डॉट कॉम ने सीएसए के मुख्य चिकित्सा अधिकारी शुएब मांजरा के हवाले से कहा, ”यदि किसी भारतीय खिलाड़ी को किसी भी कारण से अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता होती है, तो हमने कुछ अस्पताल समूहों से संपर्क किया है, जिन्होंने हमें अस्पतालों में बिस्तर की गारंटी दी है.”

    उन्होंने आगे कहा, ”यदि स्वदेश लौटने की आवश्यकता है और सीमाएं बंद हैं, तो सरकार ने गारंटी दी है कि वे खिलाड़ियों और टीम को भारत वापस जाने की अनुमति देंगे.” पूरा दौरा बंद दरवाजों के पीछे खेला जाएगा, जिसमें भारतीय खिलाड़ियों को आम जनता से संपर्क की अनुमति नहीं होगी. मांजरा ने कहा कि सीएसए ने मेहमाम टीम की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सब कुछ किया है और अगर वे जब भी वापस जाना चाहते हैं तो उनके रास्ते खुले हैं.

    शुएब मांजरा ने कहा, ”एक चीज जिसे हम नियंत्रित नहीं कर सकते हैं, वह यह है कि भारत सरकार इससे कैसे निपटती है. हमारा DIRCO (अंतरराष्ट्रीय संबंध और सहयोग विभाग) भारत सरकार से बात कर रहा है, लेकिन सीएसए के रूप में, खिलाड़ियों के वापस जाने पर नियम और कानून क्या हैं, इस पर हमारा नियंत्रण नहीं है.”

    पाकिस्तान के हिंदू क्रिकेटर ने शेयर किया मंदिर में तोड़फोड़ का VIDEO, PM से कहा- हमारी धार्मिक आजादी बचाएं

    उन्होंने कहा, ”मुझे लगता है कि खिलाड़ियों की सुरक्षा और घर वापसी को लेकर जो भी उपाय किए जा सकते थे, हमने सब किए हैं. भारतीय टीम न केवल यहां सुरक्षित है, बल्कि क्या उन्हें किसी भी कारण से वापस जाने की आवश्यकता है तो उनके लिए वह रास्ते भी खुले हैं.” भारत को दक्षिण अफ्रीका दौरे पर तीन टेस्ट और तीन वनडे मैच खेलने हैं.

    Tags: Cricket news, India vs South Africa, Omicron, Team india

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें