Home /News /sports /

IND vs SA: मोहम्मद शमी को 200 विकेट लेते ही आई पिता की याद, नम आंखों से सुनाई संघर्ष की कहानी- VIDEO

IND vs SA: मोहम्मद शमी को 200 विकेट लेते ही आई पिता की याद, नम आंखों से सुनाई संघर्ष की कहानी- VIDEO

IND vs SA: मोहम्मद शमी ने सेंचुरियन टेस्ट की पहली पारी में 5 विकेट लिए. इसके साथ ही उन्होंने अपने 200 टेस्ट विकेट भी पूरे किए. (AFP)

IND vs SA: मोहम्मद शमी ने सेंचुरियन टेस्ट की पहली पारी में 5 विकेट लिए. इसके साथ ही उन्होंने अपने 200 टेस्ट विकेट भी पूरे किए. (AFP)

IND vs SA: मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) ने सेंचुरियन टेस्ट के तीसरे दिन कमाल की गेंदबाजी की. उन्होंने 44 रन देकर 5 विकेट झटके. इस दौरान उन्होंने टेस्ट में अपने 200 विकेट भी पूरे किए. शमी ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद बीसीसीआई टीवी को दिए इंटरव्यू में पिता के संघर्ष को याद किया ऐसा करते हुए शमी की आंखों में नम हो गईं थीं.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. भारत ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन टेस्ट (IND vs SA Centurion Test) पर अपनी पकड़ मजबूत कर ली है. भारत ने पहली पारी में 327 बनाए थे. इसके जवाब में मेजबान टीम को पहली पारी में 197 रन पर समेट दिया. इसमें तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी का अहम योगदान रहा. उन्होंने पहली पारी में 44 रन देकर 5 विकेट लिए. शमी ने जसप्रीत बुमराह के चोटिल होने के बाद 49 ओवर तक भारतीय गेंदबाजी आक्रमण की कमान संभाली और दूसरी बार पहली पारी में 5 विकेट लेने का कारनामा किया. इसी दौरान उन्होंने कैगिसो रबाडा को आउट कर टेस्ट क्रिकेट में अपने 200 विकेट भी पूरे किए. वो भारत की तरफ से ऐसा करने वाले ओवरऑल 11वें गेंदबाज बने. शमी की बदौलत ही भारत पहली पारी में 130 रन की बढ़त हासिल कर पाया.

    मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) ने सेंचुरियन टेस्ट के तीसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद बॉलिंग कोच पारस म्हाम्ब्रे (Paras Mhambrey) से बीसीसीआई टीवी पर खास बातचीत की और 200 टेस्ट विकेट पूरे करने के बाद खास तरह से जश्न मनाने का राज खोला. शमी ने 200 विकेट पूरे करने के बाद आसमान की तरफ देखकर अपना हाथ हिलाया था. इसके जरिए उन्होंने अपने पिता को याद दिया, जिनका 2017 में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था. शमी ने अपना 200वां टेस्ट विकेट भी पिता को समर्पित किया.

    पिता मुझे साइकिल से कोचिंग के लिए ले जाते थे: शमी
    शमी ने भरी आंखों से पिता के संघर्ष को याद करते हुए कहा, “मैं आज जो कुछ भी हूं, मेरे पिता ने मुझे बनाया है. मैं ऐसे गाँव से आता हूं, जहां बहुत सुविधाएं नहीं हैं और आज भी वहां खेल से जुड़ी बहुत सुविधाएं नहीं हैं. फिर भी, मेरे पिता मुझे कोचिंग कैंप में ले जाने के लिए 30 किमी साइकिल चलाते थे. मुझे उनका वो संघर्ष आज भी याद है. उन दिनों और उन परिस्थितियों में, उन्होंने मुझमें निवेश किया और मैं हमेशा उनका आभारी रहूंगा.

    ‘सपने में भी 200 विकेट लेने का नहीं सोचा था’
    शमी ने 200 टेस्ट विकेट को लेकर कहा, कोई भी कभी सपने में भी नहीं सोच सकता है कि जब आप अपनी छाप छोड़ने के लिए संघर्ष कर रहे हों तो भविष्य में क्या हासिल करेंगे? शुरू में आपका सपना सिर्फ भारत के लिए खेलना होता है और उनके साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करना, जिन्हें आपने टीवी पर खेलते देखा है. आपके हाथ में सिर्फ मेहनत करना होता है और अगर आप पसीना बहाएंगे तो फिर नतीजे भी आपके हक में आने लगते हैं.

    ‘इस बार 5 विकेट लेने की पूरी उम्मीद थी’
    पिछली बार 4 और इस बार 5 विकेट, क्या यह आपका पसंदीदा मैदान है? पारस म्हाम्ब्रे के इस सवाल पर शमी ने कहा कि पिछली बार सेंचुरियन में हैं 5 विकेट लेने से चूक गया था. इस बार पांच और 200 विकेट पूरे करने के लिए प्रयास और संभावना दोनों थे. क्योंकि मैं सही लाइन और लेंथ में गेंदबाजी कर रहा था.

    IND vs SA: मोहम्मद शमी टेस्ट में भारत के सबसे बेस्ट बॉलर, कपिल देव भी नहीं हैं आस-पास

    टीम इंडिया ने किया 2 बड़ा कारनामा, साउथ अफ्रीका पर मिली बड़ी जीत, ऑस्ट्रेलिया से भी लिया बदला

    200 टेस्ट विकेट के एलीट क्लब में प्रवेश करने के बाद आप क्या महसूस कर रहे हैं? इस पर शमी ने कहा कि में देश का प्रतिनिधितत्व करने में सक्षम होने पर गर्व महसूस कर रहा हूं. इस खुशी को मैं बयां नहीं कर सकता हूं. आगे भी मेरी बेहतर प्रदर्शन करने की कोशिश होगी.

    Tags: Cricket news, Ind vs sa, India vs South Africa, Jasprit Bumrah, Mohammad Shami

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर