Home /News /sports /

IND vs SA Test Series: द्रविड़-कोहली की गलती टीम इंडिया पर पड़ेगी भारी, कुंबले से भी नहीं लिया सबक

IND vs SA Test Series: द्रविड़-कोहली की गलती टीम इंडिया पर पड़ेगी भारी, कुंबले से भी नहीं लिया सबक

India vs South Africa: भारत-दक्षिण अफ्रीका के बीच पहला टेस्ट मैच 26 दिसंबर से खेला जाएगा. (AFP)

India vs South Africa: भारत-दक्षिण अफ्रीका के बीच पहला टेस्ट मैच 26 दिसंबर से खेला जाएगा. (AFP)

India vs South Africa Test Series: विराट कोहली (Virat Kohli) की अगुवाई में भारतीय टीम इन दिनों दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर है. दोनों टीमों के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला 26 दिसंबर से खेला जाएगा. टेस्ट सीरीज के लिए 18 सदस्यीय में रविचंद्रन अश्विन और जयंत यादव के रूप में दो ऑफ स्पिनर हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. टीम इंडिया तीन टेस्‍ट और तीन वनडे मैचों की सीरीज के लिए साउथ अफ्रीका के (India vs South Africa) दौरे है. विराट कोहली (Virat Kohli) की अगुआई में भारतीय टीम 26 दिसंबर को सेंचुरियन टेस्‍ट से अपने अभियान का आगाज करेगी. कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) का ये भारतीय टेस्ट टीम के साथ पहला विदेशी दौरा है. भारत ने टेस्ट सीरीज के लिए 18 सदस्यीय टीम चुनी है जिसमें एक भी लेग स्पिनर शामिल नहीं है. द्रविड़-कोहली की यह गलती टीम इंडिया (Team India) पर भारी पड़ सकती है.

    टीम में छह तेज गेंदबाज और दो स्पिनर शामिल

    भारतीय टीम में रविचंद्रन अश्विन  और जयंत यादव के रूप में दो ऑफ स्पिनर शामिल हैं. ऑस्ट्रेलया दौरे पर तहलका मचाने वाले शार्दुल ठाकुर बतौर तेज गेंदबाज ऑलराउंडर खेल सकते हैं. इसके अलावा पांच विशेषज्ञ तेज गेंदबाज टीम में चुने गए हैं. भारत-दक्षिण अफ्रीका टेस्ट सीरीज  के इतिहास पर नजर डालें तो पूर्व लेग स्पिनर अनिल कुंबले  सबसे सफल गेंदबाज हैं. उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 21 टेस्ट मैचों में 84 विकेट चटकाया है. वहीं अफ्रीकी धरती पर 12 टेस्ट मैचों में उनके नाम 45 विकेट है.

    भारतीय टीम को खलेगी लेग स्पिनर की कमी

    पूर्व भारतीय कप्तान अनिल कुंबले के संन्यास के बाद भारतीय टीम उनके जैसा लेग स्पिनर तलाशने में असफल रही. युजवेंद्र चहल  पिछले 5 सालों से टीम इंडिया का हिस्सा जरूर हैं लेकिन वह वनडे और टी20 में ज्यादा उपयोगी गेंदबाज हैं. उन्हें टेस्ट डेब्यू का करने का मौका तक नहीं मिला. कुंबले के बाद दिल्ली के अमित मिश्रा भारतीय टेस्ट टीम में जगह बनाने में जरूर सफल रहे लेकिन वह सिर्फ 22 टेस्ट मैच ही खेल पाए. उनके नाम 76 विकेट दर्ज है. हालांकि अमित मिश्रा टी20 क्रिकेट में ज्यादा सफल रहे.

    कुलदीप यादव भी अपनी छाप छोड़ने में असफल रहे
    वनडे में दो बार हैट्रिक लेने का कारनामा करने वाले कुलदीप यादव  बाएं हाथ से लेग स्पिन गेंदबाजी करते हैं. वह भारत की तरफ से वनडे में सबसे तेज 100 विकेट लेने वाले स्पिनर हैं. उन्हें 7 टेस्ट मैच खेलने का मौका भी मिला जिसमें उनके नाम 26 विकेट है. 2018-19 में ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर कोच रवि शास्त्री ने उन्हें भारत का नंबर स्पिनर भी कहा था. लेकिन पिछले 4 सालों में वह भारतीय टीम में अपनी जगह पक्की नहीं कर सके.

    भारत की तरफ से 174 विकेट ले चुके कुलदीप अब वनडे और टी20 टीम से भी बाहर हैं. अब लेग स्पिनर राहुल चाहर नए दावेदार बनकर उभरे हैं. 18 फर्स्ट क्लास मैचों में उनके नाम 70 विकेट दर्ज है. 22 साल के राहुल को आईपीएल में शानदार प्रदर्शन के दम पर वनडे-टी20 डेब्यू करने का मौका मिल चुका है.

    रोहित शर्मा NFT के जरिए फैंस को देंगे खास तोहफा, जानिए क्या होता है एनएफटी

    अश्विन से भारतीय टीम को उम्मीदें
    भारतीय टीम में लेग स्पिनर की कमी को अश्विन पूरा सकते हैं. अफ्रीका के खिलाफ ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह का भी जबरदस्त रिकॉर्ड है. हरभजन ने 11 टेस्ट मैचों में 60 विकेट चटकाया है. अश्विन ने भारत-इंग्लैंड टेस्ट सीरीज, आईपीएल 2021, टी20 वर्ल्ड कप और हाल में समाप्त हुए भारत न्यूजीलैंड टेस्ट सीरीज में कमाल की गेंदबाजी की है. वह इस साल टेस्ट क्रिकेट में 52 विकेट ले चुके हैं.

    दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए भारतीय टेस्ट टीम: विराट कोहली (कप्तान), केएल राहुल, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, श्रेयस अय्यर, हनुमा विहारी, ऋषभ पंत, ऋद्धिमान साहा, रविचंद्रन अश्विन, जयंत यादव, ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, जसप्रीत बुमराह, शार्दुल ठाकुर, मोहम्मद सिराज, प्रियांक पांचाल.

    Tags: Anil Kumble, Cricket news, India vs South Africa, Rahul Dravid, Virat Kohli

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर