लाइव टीवी

'बड़े टेस्ट' से पहले रोहित शर्मा को वीवीएस लक्ष्मण की सलाह, उनकी तरह गलतियां करने से बचें

भाषा
Updated: September 28, 2019, 2:28 PM IST
'बड़े टेस्ट' से पहले रोहित शर्मा को वीवीएस लक्ष्मण की सलाह, उनकी तरह गलतियां करने से बचें
रोहित शर्मा साउथ अफ्रीका के खिलाफ पहली बार टेस्ट क्रिकेट में ओपनिंग करेंगे

1996-98 के बीच मध्यक्रम बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण (VVS laxman) को भी पारी का आगाज करने के लिए कहा गया था

  • भाषा
  • Last Updated: September 28, 2019, 2:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत के स्टार बल्लेबाज रो‌हित शर्मा (Rohit Sharma) को साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए पहली बार बतौर ओपनर टीम में चुना गया है. हालांकि अभ्यास मैच में वह डक हो गए, लेकिन बतौर ओपनर उनका बड़ा इम्तिहान अभी बाकी है. भारत के दिग्गज खिलाड़ी वीवीएस लक्ष्मण (VVS laxman) चाहते हैं कि रोहित शर्मा को साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के दौरान अपने नेचुरल गेम पर अडिग रहना चाहिए, क्योंकि पारी के आगाज के दौरान तकनीक में बदलाव से उनके खुद के प्रदर्शन पर नकारात्मक असर पड़ा था.

लक्ष्मण मध्यक्रम के विशेषज्ञ बल्लेबाज थे, पर उन्हें 1996-98 के बीच में पारी का आगाज करने के लिए कहा गया था लेकिन वह कभी भी इस स्थान पर सहज महसूस नहीं करते थे. लक्ष्मण ने पूर्व भारतीय क्रिकेटर दीप दासगुप्ता को उनके यूट्यूब चैनल ‘दीप प्वाइंट’ को दिए इंटरव्यू में कहा कि सबसे बड़ी फायदे की चीज यह है कि रोहित के पास अनुभव है जो उनके पास नहीं था.

मानसिकता में बदलाव के कारण गलती
वीवीएस लक्ष्मण (VVS laxman) ने कहा कि उन्होंने केवल चार टेस्ट मैच खेलने के बाद टेस्ट क्रिकेट में पारी का आगाज किया था. रोहित 12 साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल चुके हैं. इसलिए उसमें परिपक्वता और अनुभव मौजूद है और साथ ही वह अच्छी फॉर्म में हैं. लक्ष्मण ने 134 टेस्ट में 8781 रन बनाए हैं. 44 साल के पूर्व क्रिकेटर ने कहा कि मेरा मानना है कि मैंने पारी का आगाज करते हुए जो गलती की, वो मानसिकता में बदलाव की थी, जिससे मुझे मध्यक्रम के बल्लेबाज के तौर पर काफी सफलता दिलाई थी, भले ही वह तीसरे नंबर पर हो या फिर चौथे नंबर पर.

rohit sharma, cricket, vvs laxman, sports news, india vs south africa, रोहित शर्मा, विराट कोहली, स्पोर्ट्स न्यूज, भारत बनाम साउथ अफ्रीका
मध्यक्रम बल्लेबाज के तौर पर वीवीएस लक्ष्मण हमेशा ‘फ्रंट-प्रेस’ के बाद गेंद की ओर जाते थे.


कोच के कहने पर तकनीक में किया था बदलाव
उन्होंने कहा कि मैंने अपनी तकनीक में भी बदलाव करने की कोशिश की थी. मध्यक्रम बल्लेबाज के तौर पर मैं हमेशा ‘फ्रंट-प्रेस’ के बाद गेंद की ओर जाता था, लेकिन सीनियर खिलाड़ियों और कोचों से बात करने के बाद मैंने इसमें बदलाव किया. इस बदलाव ने मेरी बल्लेबाजी प्रभावित की और मैं उम्मीद करता हूं कि रोहित (Rohit Sharma) को ऐसा नहीं करना चाहिए. लक्ष्मण ने कहा कि अगर आप अपने नेचुरल खेल से ज्यादा छेड़छाड़ करोगे, तो आपको परिणाम नहीं मिलेगा, क्योंकि आपके दिमाग में उलझन होगी और आप लय खो सकते हो. लक्ष्मण ने स्वीकार करते हुए कहा कि जब उन्हाेंने पारी का आगाज किया तो उनकी लय प्रभावित हुई थी. रोहित ऐसे खिलाड़ी हैं जो लय में आने के बाद अच्छा प्रदर्शन करते हैं और अगर उसकी लय प्रभावित हुई तो यह मुश्किल होगा.टेस्ट क्रिकेट में पहली बार ओपनिंग करने उतरे रोहित, दो गेंद खेलकर हो गए डक

प्रैक्टिस मैच में फ्लॉप रोहित को फैंस ने किया ट्रोल, कहा-टेस्ट में युवा हैं आप

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 28, 2019, 2:27 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर