महिला क्रिकेट: 11 मार्च से घरेलू टूर्नामेंट के मुकाबले शुरू होंगे, 6 वेन्यू भी तय हुए

7 मार्च से भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच वनडे और टी20 सीरीज भी शुरू हो रही है.

7 मार्च से भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच वनडे और टी20 सीरीज भी शुरू हो रही है.

कोरोना के कारण भारतीय महिला टीम का मौजूदा सीजन अब तक शुरू नहीं हो सका है. अगले महीने से 50 ओवर टूर्नामेंट से इसकी शुरुआत होने जा रही है. फाइनल 4 अप्रैल को होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 26, 2021, 2:49 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोराना के भारतीय महिला खिलाड़ियों (Womens Cricket) के घरेलू टूर्नामेंट (Domestic Season) अब तक शुरू नहीं हो सके हैं. अगले महीने से बीसीसीआई (Bcci) इसकी शुरुआत करने जा रहा है. 11 मार्च से 50 ओवर के टूर्नामेंट शुरू होंगे और 6 वेन्यू पर मुकाबले होंगे. सभी टीमों को 4 मार्च तक वेन्यू पर पहुंचना होगा. 4, 6 और 8 फरवरी को तीन काेरोना टेस्ट के बाद ही खिलाड़ी बायो बबल में जाएंगे.

कोरोना के कारण पिछले सीजन में घरेलू टूर्नामेंट के एक भी मुकाबले नहीं खेले जा सके. आईपीएल का आयोजन देश के बाहर यूएई में कराना पड़ा था. पुरुषाें की मुश्ताक अली ट्रॉफी के साथ घरेलू टूर्नामेंट की वापसी 10 जनवरी से हुई. मौजूदा समय में पुरुषों का वनडे टूर्नामेंट विजय ट्रॉफी टूर्नामेंट चल रहा है. हालांकि बोर्ड की ओर से अब तक महिलाओं के घरेलू टूर्नामेंट को लेकर कोई बयान नहीं आया है. लेकिन बोर्ड सचिव जय शाह की ओर से सभी स्टेट एसोसिएशन को जानकारी भेज दी गई है. मुकाबले जिन छह वेन्यू पर खेले जाएंगे उनमें सूरत, राजकोट, जयपुर, इंदौर, चेन्नई और बेंगलुरू शामिल हैं. मालूम हो कि 7 मार्च से भारत और दक्षिण अफ्रीका की महिला टीम के बीच वनडे और टी20 सीरीज भी शुरू हो रही है. ये मुकाबले लखनऊ के एकाना इंटरनेशनल स्टेडियम में खेला जाएंगे.

महिला वनडे टूर्नामेंट में कुल 37 टीमें शामिल हो रही हैं. पांच एलिट ग्रुप बनाए हैं. हर ग्रुप में 6-6 टीमें हैं. प्लेट ग्रुप में 7 टीमें हैं. महिला कैटेगरी में सर्विसेस की टीम नहीं खेलती है. हर ग्रुप की टॉप टीम नॉकआउट के लिए क्वालिफाई करेगी. अंतिम दो टीम का फैसला प्री-क्वार्टर फाइनल राउंड से होगा. क्वार्टर फाइनल के मुकाबले 29 मार्च को जबकि सेमीफाइनल 1 अप्रैल को होगा. फाइनल 4 अप्रैल को होगा. नॉकआउट मुकालबों के वेन्यू बाद में घोषित किए जाएंगे.

टीमें इस तरह से हैं
एलिट ग्रुप ए: झारखंड, ओडिशा, हैदराबाद, गुजरात, छत्तीसगढ़, त्रिपुरा.

एलिट ग्रुप बी: रेलवे, बंगाल, सौराष्ट्र, हरियाणा, असम, उत्तराखंड.

एलिट ग्रुप सी: आंध्र, उप्र, महाराष्ट्र, राजस्थान, गोवा, चंडीगढ़.



एलिट ग्रुप डी: मप्र, मुंबई, केरल, बड़ौदा, पंजाब, नागालैंड.

एलिट ग्रुप ई: कर्नाटक, दिल्ली, हिमाचल, तमिलनाडु, विदर्भ, मेघालय.

प्लेट ग्रुप: पुडुचेरी, जम्मू-कश्मीर, मिजोरम, बिहार, मणिपुर, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज