होम /न्यूज /खेल /मैच फिक्सिंग का गढ़ है भारत, इस दिग्गज खिलाड़ी ने लगाया बड़ा आरोप

मैच फिक्सिंग का गढ़ है भारत, इस दिग्गज खिलाड़ी ने लगाया बड़ा आरोप

आकिब जावेद का भारत पर गंभीर आरोप

आकिब जावेद का भारत पर गंभीर आरोप

हाल ही में कई क्रिकेट खिलाड़ियों ने वसीम अकरम (Wasim Akram) के खिलाफ कई गंभीर आरोप लगाए हैं, अब एक और पूर्व पाकिस्तानी ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. पाकिस्तान में पिछले कुछ दिनों से मैच फिक्सिंग का मुद्दा छाया हुआ है. कई बड़े खिलाड़ियों ने पूर्व कप्तान वसीम अकरम पर मैच फिक्सिंग के गंभीर आरोप लगाए हैं. आमिर सोहेल, सरफराज नवाज जैसे बड़े खिलाड़ियों ने वसीम अकरम को इस मामले में घेरा था. अब पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज आकिब जावेद (Aaqib Javed) ने मैच फिक्सिंग को लेकर एक बड़ा बयान दे डाला है. आकिब जावेद ने आरोप लगाया है मैच फिक्सिंग एक बहुत बड़ा अंडरवर्ल्ड है और भारत इसका गढ़ है.

    आकिब जावेद का गंभीर आरोप
    पाकिस्तान के एक निजी चैनल से बातचीत करते हुए आकिब जावेद (Aaqib Javed) ने खुलासा किया कि उन्हें कई बार मैच फिक्सिंग के खिलाफ बोलने के लिए जान से मारने की धमकियां मिल चुकी हैं. जावेद ने कहा कि जस्टिस कयूम खुद कह चुके हैं कि मैच फिक्सिंग की सजा बहुत सख्त हो सकती थी. सलीम मलिक ज्यादा मामलों में दोषी पाए गए थे इसलिए उनपर लाइफ बैन लगा, वहीं दूसरे खिलाड़ियों को सिर्फ जुर्माने के साथ छोड़ दिया गया.

    " isDesktop="true" id="3091171" >

    आकिब जावेद (Aaqib Javed) ने भारत के खिलाफ गंभीर आरोप लगाते हुए कहा, 'फिक्सिंग का गढ़ भारत है. भारत के आईपीएल में भी फिक्सिंग हुई और पाकिस्तान में भी फिक्सिंग को अंजाम देने वाले लोग मौजूद हैं. जावेद ने कहा, 'फिक्सिंग जैसी चीजों में आप मर्जी से शामिल होते हो और आप फिर निकल नहीं सकते हैं. ये बहुत बड़ा अंडरवर्ल्ड माफिया है. खिलाड़ियों को लगता है वही दिन होते हैं पैसे कमाने के.'आकिब जावेद ने ये भी कहा कि उनका करियर इसलिए छोटा रहा क्योंकि उन्होंने मैच फिक्सिंग के खिलाफ आवाज उठाई थी.

    पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर उठाए आकिब जावेद ने सवाल
    आकिब जावेद (Aaqib Javed) ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के रवैये पर भी सवाल खड़े किये. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान बोर्ड को कभी भी फिक्सिंग के दोषियों को दूसरा मौका नहीं देना चाहिए. उन्होंने कहा, 'अगर आप फिक्सिंग करने वाले लोगों को दोबारा मौका देते हो तो ये उन लोगों को बढ़ावा देना होता है जो कि मैच फिक्सिंग करते हैं. बता दें हाल ही में पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने भी उमर अकमल के मसले पर पीसीबी को घेरा था. अख्तर ने आरोप लगाया था कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड एक ही जुर्म की सजा हर खिलाड़ी को अलग-अलग देता है.

    बनाए करीब 10 हजार रन, झटके 791 विकेट, आज दुकान चलाकर परिवार का पेट पाल रहा है ये खिलाड़ी

    रोहित शर्मा ने फैन को दी थी जमकर गालियां, कहा- बाहर आकर बल्ला मारूंगा

    Tags: Match fixing, Pakistan National Cricket Team, Sports news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें