Home /News /sports /

भारतीय क्रिकेट में नेपोटिज्‍म पर आकाश चोपड़ा की बड़ी बात, कहा- अर्जुन तेंदुलकर को...

भारतीय क्रिकेट में नेपोटिज्‍म पर आकाश चोपड़ा की बड़ी बात, कहा- अर्जुन तेंदुलकर को...

आकाश चोपड़ा ने भारतीय क्रिकेट में नेपोटिज्‍म से इनकार किया (फाइल फोटो)

आकाश चोपड़ा ने भारतीय क्रिकेट में नेपोटिज्‍म से इनकार किया (फाइल फोटो)

आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra ) ने कहा कि स्‍टेट टीम में एक खिलाड़ी काफी लंबे समय तक टीम का कप्‍तान बना रहा था, जबकि वो अच्‍छा खिलाड़ी भी नहीं था

    नई दिल्‍ली. बॉलीवुड एक्‍टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की आत्‍महत्‍या के बाद से देशभर में नेपोटिज्‍म का मुद्दा गर्माया हुआ है. इस दौरान लोग भारतीय क्रिकेट में भी नेपोटिज्‍म की बात कहते हुए महान बल्‍लेबाज सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के बेटे अर्जुन तेंदुलकर (Arjun Tendulkar) को ट्रोल कर रहे हैं. इन ट्रोलर्स को पूर्व भारतीय सलामी बल्‍लेबाज आकाश चोपड़ा (Akash Chopra) ने करारा जवाब दिया. आकाश चोपड़ा ने भारतीय क्रिकेट में नेपोटिज्‍म की बात से इनकार करते हुए कहा कि यहां पर ऐसा कुछ नहीं है.

    अपने यूट्यूब चैनल पर उन्‍होंने कहा कि घरेलू क्रिकेट के छोटे स्‍तर पर नेपोटिज्‍म होता है, मगर भारतीय क्रिकेट के बड़े स्‍तर पर ऐसा नहीं होता. उन्होंने कहा कि स्‍टेट टीम में उन्‍होंने ऐसा देखा था, जहां एक खिलाड़ी लंबे समय तक कप्‍तान रहा. वह किसी खिलाड़ी का नहीं, बल्कि अधिकारी का बेटा था. वह अच्‍छा खिलाड़ी भी नहीं था. मगर ऊंचे स्‍तर पर ऐसा नहीं होता है. उन्‍होंने इसके लिए रोहन गावस्‍कर और अर्जुन  तेंदुलकर का उदाहरण भी दिया, जो महान बल्‍लेबाजों के बेटे हैं. उन्‍होंने कहा कि अगर नेपोटिज्‍म होता तो सुनील गावस्‍कर के बेटे रोहन काफी लंबे समय तक क्रिकेट खेलते, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. जब उन्‍होंने टीम इंडिया की तरफ से खेलना शुरू किया था, तब उनका सबसे बड़ा कारण बंगाल के लिए किया गया उनका शानदार प्रदर्शन था. सुनील गावस्‍कर ने अपने बेटे को मुंबई में खेलने नहीं दिया.

    अर्जुन भी कर रहे हैं टीम में जगह बनाने की कोशिश
    यही बात सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन के लिए भी कही जा सकती है.अर्जुन को कुछ भी प्‍लेट में परोसा नहीं जा रहा. अगर वो टीम इंडिया या फिर मुंबई के लिए खेलते हैं तो इसके पीछे उनकी खुद की काबिलियत होगी. उन्‍होंने कहा कि जब भी चयन की प्रक्रिया होती है तो वो पूरे तरह से प्रदर्शन के आधार पर ही होती है. ऊपर कोई समझौता नहीं है. उन्‍होंने कहा कि उन्‍हें नहीं लगता कि बाकी इंडस्‍ट्रीज की तुलना में क्रिकेट में नेपोटिज्‍म हैं .

    यह भी पढ़ें: 

    233 साल पुराना इतिहास बदलने जा रही हैं ये दिग्‍गज ऑलराउंडर, भारत के खिलाफ ली थी हैट्रिक

    राहुल द्रविड़ की इस सलाह ने बदली पुजारा की जिंदगी, कहा-हमेशा रहूंगा आभारी

    बेयरस्‍टो हो गए थे चोटिल
    अर्जुन तेंदुलकर मुंबई की रणजी टीम में जगह बनाने की कोशिश कर रहे हैं. वह इंग्‍लैंड टीम के नेट गेंदबाज भी रह चुके हैं. वह जितने अच्‍छे गेंदबाज हैं, उतने ही अच्‍छे बल्‍लेबाज भी हैं. एक बार जॉनी बेयरस्‍टो उनकी गेंद से चोटिल हो गए थे. वह आईपीएल में मुंबई की टीम के नेट सेशन में भी हिस्‍सा लेते हैं, हालांकि उन्‍हें अभी तक आईपीएल में किसी फ्रेंचाइजी का कॉन्‍ट्रैक्‍ट नहीं मिला .

    Tags: Akash chopra, Arjun tendulkar, BCCI, Cricket, Sports news, Sunil gavaskar

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर