पाकिस्‍तान के कप्‍तान ने नहीं मानी अपने प्रधानमंत्री की बात, लिया उल्‍टा फैसला

पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सरफराज से टॉस जीतकर बल्‍लेबाजी करने को कहा था. लेकिन सरफराज ने उनकी बात नहीं मानी.

पीटीआई
Updated: June 17, 2019, 6:53 AM IST
पाकिस्‍तान के कप्‍तान ने नहीं मानी अपने प्रधानमंत्री की बात, लिया उल्‍टा फैसला
पाकिस्‍तान के कप्‍तान सरफराज अहमद ने टॉस जीतकर बल्‍लेबाजी चुनी.
पीटीआई
Updated: June 17, 2019, 6:53 AM IST
भारत के खिलाफ आईसीसी क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019 के मैच में पाकिस्‍तान के कप्‍तान सरफराज अहमद ने टॉस जीता. उन्‍होंने पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया. भारत पाकिस्‍तान के बीच वर्ल्‍ड कप में ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी कप्‍तान ने टॉस जीतने के बाद गेंदबाजी चुनी है. इससे पहले के छह मौकों पर जिसने भी टॉस जीता उसने बल्‍लेबाजी का फैसला लिया था. ऐसे में सरफराज के फैसले ने सभी को चौंकाया. वैसे भारत के कप्‍तान विराट कोहली ने भी कहा कि वे भी टॉस जीतते तो पहले गेंदबाजी ही करते.

इससे पहले दिन में पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सरफराज से टॉस जीतकर बल्‍लेबाजी करने को कहा था. लेकिन सरफराज ने उनकी बात नहीं मानी. देखने वाली बात है कि उनका फैसला कितना साबित होता है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में भारत पाकिस्‍तान के खिलाफ मैच से पहले पांच ट्वीट किए थे. उन्‍होंने टीम से निडर होकर खुले दिमाग से खेलने को कहा था.

साथ ही उन्‍होंने पाकिस्‍तान के कप्‍तान सरफराज से टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी करने को कहा था. इमरान ने लिखा था, 'जीत की रणनीति के तहत सरफराज को बल्लेबाजों और गेंदबाजों के साथ जाना चाहिए क्योंकि कामचलाऊ बल्लेबाज या गेंदबाज शायद ही कभी दबाव में प्रदर्शन करते हैं, खासकर आज जैसे दबाव वाले मैच में. जब पिच में नमी ना हो सरफराज को टास जीतकर बल्लेबाजी करनी चाहिए.'

india vs pakistan, india vs pakistan world cup match, sarfraz ahmed, sarfraz ahmed toss, imran khan, imran khan toss tweet, भारत पाकिस्‍तान मैच, सरफराज अहमद, इमरान खान, सरफराज अहमद टॉस
पाकिस्‍तान क्रिकेट टीम. (AP Photo/Aijaz Rahi)


उन्‍होंने कहा कि हार के डर के साथ खेलना नकारात्मकता और रक्षात्मक रणनीति की ओर ले जाता है. क्रिकेटर से राजनीतिज्ञ बने इमरान की कप्तानी में पाकिस्तान ने 1992 में वर्ल्‍ड कप का खिताब जीता था.

इमरान खान ने कहा, ‘हारने की सभी आशंकाओं को दिमाग से निकाल देना चाहिए क्योंकि दिमाग में एक समय में एक ही विचार आ सकता है. हारने का डर एक नकारात्मक और रक्षात्मक रणनीति की ओर ले जाता है और इससे विरोधी टीम की अहम गलतियों पर ध्यान नहीं जाता. ये सरफराज और पाकिस्तान टीम के लिए मेरे कुछ सुझाव हैं.’

पाकिस्तान ने हालांकि विश्व कप मुकाबले में भारत को कभी नहीं हराया है. दोनों टीमों के बीच खेले गये सभी छह मैच भारत ने जीते हैं. इमरान ने कहा, ‘हम भाग्यशाली है कि सरफराज के रूप में हमारे पास एक साहसी कप्तान हैं और आज उसे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा.’
IND vs PAK : गेंदबाज पिट रहे थे, सरफराज ले रहे थे उबासी

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...