INDvPAK: आखिरी 138 गेंदों में केवल एक सिक्‍स, फिर भी भारत ने कैसे ठोके 336 रन

इसमें बड़ा योगदान रहा भारतीय बल्‍लेबाजों की रनिंग बिटवीन द विकेट का. उन्‍होंने चौके-छक्‍कों के लिए जाने के बजाय एक-एक दो-दो रन पर पूरा जोर दिया. इससे भारत का रनरेट बरकरार रहा.

News18Hindi
Updated: June 17, 2019, 12:39 PM IST
INDvPAK: आखिरी 138 गेंदों में केवल एक सिक्‍स, फिर भी भारत ने कैसे ठोके 336 रन
भारत की जीत में रोहित शर्मा और हार्दिक पंड्या. (AP Photo)
News18Hindi
Updated: June 17, 2019, 12:39 PM IST
भारत ने आईसीसी क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019 में पाकिस्‍तान को बारिश से प्रभावित मैच में एकतरफा अंदाज में 89 रन से हरा दिया. पहले खेलते हुए टीम इंडिया ने सलामी बल्‍लेबाज रोहित शर्मा (140), विराट कोहली (77) और केएल राहुल (57) की पारियों के बूते 5 विकेट पर 336 रन का चुनौतीपूर्ण स्‍कोर खड़ा किया. इसके जवाब में पाकिस्‍तान 40 ओवर में 6 विकेट पर 212 रन ही बना सका. उसे डकवर्थ लुइस मैथड के तहत 40 ओवर में 301 रन बनाने थे. बता दें कि मैच के दौरान तीन बाद बारिश ने खलल डाला. रोहित शर्मा को उनकी शतकीय पारी के लिए ''मैन ऑफ द मैच'' चुना गया. भारत वर्ल्‍ड कप 2019 में 4 में से 3 मैच जीत चुका है और अंक तालिका में तीसरे पायदान पर है.

पाकिस्‍तान के खिलाफ मैच में भारत शुरू से ही हमलावर रहा. रोहित शर्मा अक्‍सर शुरुआत में धीमे खेलते हैं और एक बार 50-100 रन का आंकड़ा पार करने के बाद तूफानी बल्‍लेबाजी करते हैं. लेकिन पाकिस्‍तान के खिलाफ उन्‍होंने शुरू से ही ताबड़तोड़ बैटिंग की. उन्‍होंने अपना सबसे तेज अर्धशतक लगाया. भारत पिछले कुछ सालों में बल्‍लेबाजी में एक सेट पैटर्न पर काम करता है.

इसके तहत पहले 10 ओवर में संभलकर बल्‍लेबाजी होती है. बाद में जैसे-जैसे पारी आगे बढ़ती है तो रनगति भी बढ़ती जाती है और आखिरी 10 ओवरों में तो निचले क्रम के बल्‍लेबाजों के पास धुंआधार खेलने का मौका होता है.

india pakistan match, india pakistan rain, duckworth lewis method
हार्दिक पंड्या ने दो गेंद में दो विकेट लेकर पाकिस्‍तान की कमर तोड़ दी. (AP Photo)


आखिर 23 ओवर में केवल एक सिक्‍स
पाकिस्‍तान के खिलाफ भारत ने पहले 10 ओवर में बिना विकेट गंवाए 53 रन बनाए जो कि उसका हाल के सालों में शुरुआत का औसत स्‍कोर रहता है. दिलचस्‍प बात है कि पाक के खिलाफ भारतीय बल्‍लेबाजों ने आखिरी 23 ओवरों में केवल एक छक्‍का लगाया. इसके बावजूद भारत ने 300 रन का आंकड़ा आसानी से छू लिया. आखिर भारत ने ऐसा कैसे किया. इसमें बड़ा योगदान रहा भारतीय बल्‍लेबाजों की रनिंग बिटवीन द विकेट का. उन्‍होंने चौके-छक्‍कों के लिए जाने के बजाय एक-एक दो-दो रन पर पूरा जोर दिया. इससे भारत का रनरेट बरकरार रहा.

31-40 ओवर में विकेटों के बीच दौड़ ने बनाया माहौल
Loading...

31 से 40 ओवर के बीच भारत ने केवल ए‍क विकेट गंवाया और 76 रन बनाए. इस दौरान भारतीय बल्‍लेबाजों ने अपनी फिटनेस और रनिंग बिटवीन द विकेट से कमाल दिखाया. कोहली क्रीज पर थे और उन्‍होंने सिंगल-डबल से स्‍कोरबोर्ड को चलाए रखा. इस दौरान भारत ने 25 डबल रन लिए जिनमें कोहली के अकेले के 12 थे. साथ ही लगभग हर ओवर में एक चौका आता रहा. इससे भारत का रनरेट ऊंचा रहा.

rohit sharma century, rohit sharma pakistan match, rohit sharma world cup, india pakistan match, cricket world cup 2019
रोहित शर्मा ने वर्ल्‍ड कप में दूसरा शतक लगाया. (AP Photo)


आखिर 10 ओवर में 88 रन
40 ओवर के बाद भारत का स्‍कोर 2 विकेट पर 248 रन था. ऐसे में आखिरी 60 गेंदों में तूफानी बल्‍लेबाजी की उम्‍मीद थी. इसलिए हार्दिक पंड्या को नंबर चार पर बल्‍लेबाजी के लिए भेजा गया था. पंड्या ने 26 रन बनाए लेकिन वे उस गति से नहीं थे जिस गति से ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ उनका बल्‍ला चला था. एमएस धोनी भी कुछ खास नहीं कर पाए और एक रन बनाकर आउट हो गए. दोनों को मोहम्‍मद आमिर ने आउट किया.

दूसरे छोर पर विराट कोहली टिके हुए थे. उन्‍होंने काफी नियंत्रित आक्रामकता दिखाई. जब भी मौका मिला तब चौका लगाया नहीं तो सिंगल और डबल पर उनका जोर रहा. 43वें ओवर के बाद भारतीय पारी में कोई छक्‍का नहीं लगा. यह दिखाता है कि उन्‍होंने किस तरह से पिच और मौसम को देखते हुए अपनी शैली में बदलाव किया. इन सबके बाद भी भारत ने आखिरी 10 ओवर में 88 रन बनाए.

यह भी पढ़ें- IND vs PAK : मोहम्मद आमिर को अंपायर ने दो बार दी चेतावनी 

भारत-पाक भिड़ंत के वो किस्से,जो लोगों के दिलों में अमर हो गए

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
First published: June 17, 2019, 12:12 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...