INDvPAK: जब पाकिस्‍तानी बल्‍लेबाज को मारने के लिए हरभजन ने उठा लिए थे छुरी-कांटा

2003 वर्ल्‍ड कप में भारत पाकिस्‍तान के मैच को सचिन तेंदुलकर की 98 रन की पारी के लिए याद किया जाता है.

News18Hindi
Updated: June 15, 2019, 7:25 AM IST
INDvPAK: जब पाकिस्‍तानी बल्‍लेबाज को मारने के लिए हरभजन ने उठा लिए थे छुरी-कांटा
हरभजन सिंह ने भारत की ओर से तीन वर्ल्‍ड कप खेले हैं.
News18Hindi
Updated: June 15, 2019, 7:25 AM IST
भारतीय ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह और पाकिस्‍तान के बल्‍लेबाज मोहम्‍मद युसुफ के बीच दक्षिण अफ्रीका में हुए 2003 वर्ल्‍ड कप में झगड़ा हो गया था. हरभजन का कहना है कि अब वे उस घटना का याद करते हैं तो हंस पड़ते हैं. यह घटना भारत और पाकिस्‍तान के मैच के दौरान घटी थी जब यूसुफ ने हरभजन को लेकर कुछ निजी टिप्पणी की और फिर उनके धर्म के बारे में भी कुछ बात बोली. इसके बाद दोनों अपने हाथों में छुरी-कांटे लेकर एक दूसरे से भिड़ गए थे.

हरभजन ने इस घटना के बारे में समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा कि ऐसा 16 साल पहले सेंचुरियन में हुआ था लेकिन साथ ही माना कि कि उस समय यह लड़ाई इतनी बढ़ गई थी कि इसमें बीच बचाव के लिए महान खिलाड़ी वसीम अकरम, राहुल द्रविड़ और जवागल श्रीनाथ को दखल देनी पड़ी थी. उन्‍होंने कहा, ‘यह सब एक चुटकुले से शुरू हुआ लेकिन बाद में यह झगड़े में तब्दील हो गया. मुझे उस मैच के लिए प्‍लेइंग इलेवन में नहीं लिया गया था और अनिल भाई उसमें खेल रहे थे क्योंकि टीम प्रबंधन को लगा कि पाकिस्तान के खिलाफ उनके अच्छे रिकॉर्ड को देखते हुए वह इसके लिए बेहतर विकल्प थे. मैं थोड़ा निराश था.’



उन्होंने कहा, ‘लंच के समय मैं टेबल पर बैठा था और युसुफ व शोएब अख्तर दूसरी टेबल पर बैठे थे. हम दोनों पंजाबी बोलते हैं और एक दूसरे की खिंचाई कर रहे थे, तब अचानक उसने निजी टिप्पणी कर दी और फिर मेरे धर्म के बारे में कुछ बोला. फिर मैंने भी तुरंत ऐसा ही करारा जवाब दिया. इससे पहले कि कोई समझ पाता, हम दोनों के हाथ में ‘छुरी-कांटे’ थे और हम अपनी कुर्सी से उठकर एक दूसरे पर वार करने के लिए तैयार थे.’

india vs pakistan match, india pakistan world cup match, harbhajan singh, india pakistan match when harbhajan singh picked fork and knife to kill mohammad yousuf, harbhajan india pakistan match when harbhajan singh picked fork and knife to kill mohammad yousuf fight, हरभजन सिंह, मोहम्‍मद युसुफ, भारत पाकिस्‍तान मैच, वर्ल्‍ड कप 2019
हरभजन सिंह अभी कमेंट्री के लिए इंग्‍लैंड में हैं.


हरभजन ने बताया, ‘राहुल द्रविड़ और जवागल श्रीनाथ ने मुझे रोका जबकि वसीम भाई और सईद भाई ने यूसुफ को रोका. दोनों टीमों के सीनियर खिलाड़ी नाराज थे और हमें कहा गया कि यह सही व्यवहार नहीं था. इस घटना को अब 16 साल हो गए हैं. अब जब मैं युसुफ से मिलता हूं तो हम दोनों इस घटना को याद कर हसंते हैं.’

बता दें कि 16 साल पहले हुए उस मैच को सचिन तेंदुलकर की 98 रन की पारी के लिए याद किया जाता है. पाकिस्तान ने पहले बल्‍लेबाजी करते हुए 274 रन का स्‍कोर खड़ा किया था. लेकिन सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग की आतिशी शुरुआत के दम पर भारत ने आसानी से यह मैच जीत लिया था.

धोनी की वजह से फ्री में भारत-पाक का मैच देखता है ये पाकिस्‍तानी, 8 साल से है माही का दीवाना
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...