अपना शहर चुनें

States

चहल-कुलदीप को साथ नहीं खिलाने पर निराश ये खिलाड़ी, कहा- दूसरी टीमों में दोनों की इज्जत भारत से ज्यादा

युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव काफी समय से साथ में नहीं खेले
युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव काफी समय से साथ में नहीं खेले

India vs West Indies: वेस्टइंडीज के खिलाफ टीम इंडिया की गेंदबाजी काफी ज्यादा संघर्ष कर रही है, मिडिल ओवर्स में विकेट नहीं मिल रहे हैं, जिसकी वजह चहल-कुलदीप की जोड़ी को साथ नहीं खिलाना बताया जा रहा है

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 16, 2019, 2:51 PM IST
  • Share this:
चेन्नई. वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज के बाद अब वनडे सीरीज में भी टीम इंडिया के गेंदबाजों की जमकर धुनाई हो रही है. टी20 सीरीज में टीम इंडिया जरूर जीती लेकिन बल्लेबाजों की बदौलत. अब वनडे सीरीज में भारतीय टीम को पहले ही मैच में हार का सामना करना पड़ा, जिसकी वजह खराब गेंदबाजी रही. न्यूजीलैंड के पूर्व तेज गेंदबाज साइमन डूल (Simon Doull) के मुताबिक टीम इंडिया की गेंदबाजी इसलिए कमजोर लग रही है क्योंकि वो सिर्फ 4 गेंदबाजों के साथ ही मैदान में उतर रही है. साथ ही वो चहल (Yuzvendra Chahal) और कुलदीप (Kuldeep Yadav) को एक साथ नहीं खिलाने से भी हैरान हैं. उनके मुताबिक इन दोनों गेंदबाजों को साथ में मौका देना चाहिए, जिससे विरोधी टीमों पर दबाव बढ़े. साइमन डूल ने बड़ा बयान देते हुए कहा कि चहल को टीम इंडिया में उतनी इज्जत नहीं मिलती जितना उन्हें विदेशी टीमें देती हैं.

चहल और कुलदीप मिडिल ओवर्स में विकेट लेने में माहिर


चहल को नहीं मिलती टीम इंडिया में इज्जत!
साइमन डूल (Simon Doull) ने क्रिकबज के शो में कहा कि दुनियाभर के विदेशी खिलाड़ियों को चहल खतरा लगते हैं लेकिन टीम इंडिया उन्हें इतनी अहमियत नहीं देती. भारत में सिर्फ बल्लेबाजों की बात होती है लेकिन चहल एक जबर्दस्त गेंदबाज हैं. भारत में अब लोग अच्छे क्रिकेटर नहीं स्टार खिलाड़ी को पसंद करते हैं. वो हर खिलाड़ी में स्टार ही ढूंढते हैं, आईपीएल ने काफी कुछ बदल दिया है. साइमन डूल ने कहा कि युजवेंद्र चहल ने चिन्नास्वामी जैसे मुश्किल मैदान पर गेंदबाजी सीखी है और वो वहां रन नहीं देते हैं, ये किसी गेंदबाज की काबिलियत को दर्शाता है.
'चहल-कुलदीप को साथ खिलाना जरूरी'


साइमन डूल (Simon Doull) ने क्रिकबज के ही दूसरे शो में कहा कि टीम इंडिया बहुत ही ज्यादा सेफ खेलती है. वर्ल्ड कप में भी वो नंबर 8 तक बल्लेबाज रख रही थी. ऐसा गेंदबाज टीम में शामिल किया जा रहा था जो गेंदबाजी कर सकता है. डूल ने आगे कहा, 'मुझे लगता है टीम इंडिया को चहल और कुलदीप को प्लेइंग इलेवन में रखना चाहिए, ये बेस्ट स्पिनर्स हैं और मिडिल ओवर्स में विकेट लेते हैं. यही किसी भी टीम को चाहिए होता है.'

साइमन डूल ने टीम इंडिया की रणनीति पर उठाए सवाल


बता दें साइमन डूल (Simon Doull) की बात काफी हद तक सही भी है. कुलदीप और चहल के आंकड़े इसकी तस्दीक भी करते हैं. जनवरी तक के आंकड़ों की बात करें तो इन दोनों गेंदबाजों ने साथ में 23 मैच खेले थे जिसमें से 16 में भारत को जीत मिली थी. हालांकि टीम इंडिया अब प्लेइंग इलेवन में ऐसे गेंदबाजों को मौका दे रही है जो बल्लेबाजी भी कर सकते हैं लेकिन इससे भारतीय टीम को नुकसान ज्यादा हो रहा है.

इस बल्लेबाज ने जडेजा' को जमकर पीटा, लगाए ताबड़तोड़ 9 छक्के
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज