होम /न्यूज /खेल /मोईन अली की सेंचुरी के पीछे है ये पाकिस्तानी, इंडिया आने से पहले दिया था 'गुरुमंत्र'

मोईन अली की सेंचुरी के पीछे है ये पाकिस्तानी, इंडिया आने से पहले दिया था 'गुरुमंत्र'

(BCCI)

(BCCI)

मोइन ने 117 रनों की शानदार शतकीय पारी और जोए रूट के साथ चौथे विकेट के लिए 179 रनों की साझेदारी कर टीम को खराब शुरुआत से ...अधिक पढ़ें

    राजकोट| भारत के खिलाफ खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड को मजबूत स्थिति में पहुंचाने वाले मोईन अली ने कहा है कि मेहमान टीम को मैच के तीसरे दिन धैर्य रखने की जरूरत होगी। मोइन ने 117 रनों की शानदार शतकीय पारी और जोए रूट के साथ चौथे विकेट के लिए 179 रनों की साझेदारी कर टीम को खराब शुरुआत से बाहर निकाला था।

    सकलैन ने दिया था ये गुरुमंत्र
    अली ने कहा- हमें सही जगह गेंदबाजी करने की जरूरत है और बाकी पिच पर छोड़ देना है। हमें धैर्य बनाए रखने की जरूरत है, जिसका जिक्र सकलैन ने भी किया है। इसी के आधार पर हमने बैटिंग की और सक्सेस पाई। बता दें कि सकलैन पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर हैं और इंडियन पिचों से पूरी तरह परिचित हैं।

    तीसरे दिन की है ये रणनीति
    दूसरे दिन के बाद अली ने कहा- हम दिन के अंत में काफी अच्छा खेले। मेरा मानना है कि पिच में स्पिन थी और बीच में गेंद रिवर्स भी हो रही थी, इसलिए हमें कल के लिए उम्मीद रखनी चाहिए। धीमी गति की गेंद दूसरी बॉल से ज्यादा स्पिन ले रही थी।

    संघर्ष करते नजर आए इंडियन स्पिनर्स
    भारतीय स्पिन गेंदबाजों रविचन्द्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा और अमित मिश्रा ने मिलकर इंग्लैंड के सिर्फ छह विकेट ही लिए थे। लेकिन अली का मानना है कि पिच स्पिनरों की मदद करेगी। भारत को 2012-2013 के दौरे पर अपनी ऑफ स्पिन से परेशान कर चुके अली ने कहा है कि इंग्लैंड के स्पिनरों को सही जगह गेंद डालने की जरूरत है।

    Tags: Rajkot

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें