होम /न्यूज /खेल /INDvsAUS: एडिलेड टेस्ट में चेतेश्वर पुजारा ने तोड़ा जो रूट का यह खास रिकॉर्ड

INDvsAUS: एडिलेड टेस्ट में चेतेश्वर पुजारा ने तोड़ा जो रूट का यह खास रिकॉर्ड

पुजारा मोटेरा में अब तक आउट नहीं हुए हैं और एक दोहरा शतक भी लगाया है.

पुजारा मोटेरा में अब तक आउट नहीं हुए हैं और एक दोहरा शतक भी लगाया है.

इस विशेषज्ञ बल्लेबाज ने 43 रन बनाए और 160 गेंदों का सामना किया. भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच एडिलेड ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. दिग्गज भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar pujara) ने टेस्ट क्रिकेट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ गुरुवार (17 दिसंबर) को नया इतिहास रच डाला है. रेड बॉल क्रिकेट के विशेषज्ञ बल्लेबाज कहे जाने वाले पुजारा ने पहले टेस्ट में अपनी अल्ट्रा डिफेंसिव तकनीक से नई धैर्यपूर्वक मैराथन पारी खेली है. इस विशेषज्ञ बल्लेबाज ने 43 रन बनाए और 160 गेंदों का सामना किया. भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच एडिलेड में खेले जा रहे पहले डे नाइट टेस्ट मैच (Adelaide Test) में पिंक बॉल का सामना करते हुए उन्होंने इंग्लैंड के कप्तान जो रूट को पीछे छोड़ दिया है.

    चेतेश्वर पुजारा ने पिछले दशक (1 जनवरी 2011 से अबतक) में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सबसे ज्यादा गेंदें खेलने का रिकॉर्ड अपने नाम किया है. पुजारा ने 28 पारियों में 3609 गेंदों का सामना किया. वहीं, भारतीय कप्तान विराट कोहली ने 35 पारियों में 3115 गेंदों का सामना किया है. इंग्लैंड के पूर्व खिलाड़ी एलिएस्टर कुक ने 3,274 गेंदों का सामना किया है. इस लिस्ट में दक्षिण अफ्रीका के एबी डिविलियर्स पांचवे नंबर पर हैं, जिन्होंने 2300 गेंदें खेली हैं.

    IND vs AUS First Test: टीम इंडिया का शर्मनाक सरेंडर, आखिरी 7 विकेट 56 रन पर गंवाए

    जो रूट 28 पारियों में 3607 गेंदों का सामना कर चुके हैं. हालांकि, पुजारा एडिलेड टेस्ट में अपना अर्द्धशतक बनाने से चूक गए. नाथन लायन ने उन्हें पारी के 50वें ओवर में आउट कर दिया. नाथन लायन की ऑफ ब्रेक गेंद पर गली में मार्नस लाबुशेन को आसान कैच देकर आउट हुए. पुजारा ने 160 गेंदों में 43 रन की पारी खेली.

    चेतेश्वर पुजारा ने सुबह के सत्र में नई गेंद का बखूबी सामना किया. वह 2018-19 की सीरीज में भी ऑस्ट्रेलियाई आक्रमण के सामने चट्टान की तरह खड़े रहे थे.आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाजों ने हालांकि उनपर इतना दबाव बना दिया था कि पुजारा ने एक समय लगातार 34 डॉट गेंदें खेली. पुजारा ने एक चौका लगाने के लिए 148 गेंदों का इंतजार किया.

    IND vs AUS: डेविड वॉर्नर को बॉक्सिंग डे टेस्ट में खेलने की उम्मीद

    चेतेश्वर पुजारा ने मैच के बाद कहा, ''हमें इस बात की जरूरत थी कि हम विकेटों को बचाकर रखें, क्योंकि गेंद स्विंग हो रही थी. यह टेस्ट क्रिकेट के लिए एक शानदार दिन था. हमें अपनी रणनीति पर कोई अफसोस नहीं है. हमने अपने शाट्स खेलते हुए ज्यादा विकेट नहीं गंवाए.''

    Tags: Adelaide Test, Border Gavaskar Trophy, Cheteshwar Pujara, India vs Australia, Joe Root

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें