होम /न्यूज /खेल /IND vs AUS: विराट कोहली को बेकार लगती है स्लेजिंग, लेकिन टिम पेन जरूरत पड़ने पर नहीं हटेंगे पीछे

IND vs AUS: विराट कोहली को बेकार लगती है स्लेजिंग, लेकिन टिम पेन जरूरत पड़ने पर नहीं हटेंगे पीछे

क्रिसमस के अगले दिन खेले जाने वाले टेस्‍ट मैच को  बॉक्सिंग डे टेस्‍ट कहा जाता है (Photo : Twitter/cricket.com.au)

क्रिसमस के अगले दिन खेले जाने वाले टेस्‍ट मैच को बॉक्सिंग डे टेस्‍ट कहा जाता है (Photo : Twitter/cricket.com.au)

ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट कप्तान टिम पेन हालांकि सहमत थे कि आक्रामक होने की जरूरत नहीं है, लेकिन वह और उनके खिलाड़ी जरूरत पड़न ...अधिक पढ़ें

    एडिलेड. कोरोना महामारी 2020 ने लोगों को अलग अलग चीजें सिखाई हैं, भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) को इसने महसूस कराया कि छींटाकशी कितनी व्यर्थ चीज है. उन्होंने वादा किया कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आगामी टेस्ट सीरीज (India vs Australia) के दौरान ऐसी गैर जरूरी चीजों को बाहर कर दिया जाएगा. वहीं, उनके ऑस्ट्रेलियाई समकक्ष टिम पेन (Tim Paine) का कहना है कि अगर मैच के दौरान इसकी जरूरत पड़ती है तो वह इससे पीछे नहीं हटेंगे.

    विराट कोहली ने एडिलेड में डे-नाइट (Day Night Test) शुरुआती टेस्ट की पूर्व संध्या पर कहा, ''मुझे लगता है कि महामारी के कारण इस साल लोगों ने बहुत सारी चीजें महसूस की हैं, जिनकी पहले शायद जरूरत नहीं पड़ी होगी जिसमें आपके मन में शिकायत रहती है या फिर टीमों या व्यक्तियों के बीच गैर जरूरी तनाव होता हो जो पूरी तरह से व्यर्थ है.''

    IND vs AUS: रहाणे की कप्‍तानी के फैन हुए तेंदुलकर, कहा- वह हल्‍के में नहीं लेते कोई बात

    ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट कप्तान टिम पेन हालांकि सहमत थे कि आक्रामक होने की जरूरत नहीं है, लेकिन वह और उनके खिलाड़ी जरूरत पड़ने पर पीछे नहीं हटेंगे. उन्होंने कहा, ''हां, देखिये, जहां तक मैदान के अंदर की बात है तो हमें इंतजार करना होगा और देखना होगा.''

    पेन ने कहा, ''आप निश्चित रूप से योजना बनाकर नहीं जा सकते या फिर अतिरिक्त आक्रामक या ऐसा कुछ नहीं कर सकते. हम मैदान पर जाकर अपनी योजना के अनुसार चलने की कोशिश करते हैं. ''लेकिन पेन ने स्वीकार किया कि कभी कभार मैदान पर चीजें आक्रामक हो जाती हैं. और अगर ऐसा होता है तो उन्होंने कहा, ''इसमें कोई शक नहीं कि यह टीम पीछे कदम नहीं करेगी.''

    IND vs AUS: एडिलेड टेस्‍ट में लारा और तेंदुलकर के 2 बड़े रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं कोहली

    भारतीय कप्तान को हालांकि लगता है कि अगर कोई आक्रामक होता है तो किसी को व्यक्तिगत होने की जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा, ''आप फिर भी पेशेवर हो और सुनिश्चित कीजिये कि आप सकारात्मक रहो और अपने शारीरिक हावभाव व मैदान में आप कैसे चीज करते हो, उसमें आक्रामक रहो.'' कोहली ने कहा, ''लेकिन मुझे नहीं लगता कि चीजें उस तरह से व्यक्तिगत होंगी जैसे पहले हुआ करती थीं क्योंकि हम सभी समझते हैं कि हम बड़े उद्देश्य में योगदान दे रहे हैं. और अंत में गैर जरूरी चीजों को मैं खुद ही बाहर कर दूंगा.''

    Tags: Adelaide Test, Border Gavaskar Trophy, India vs Australia, Sledging, Tim paine, Virat Kohli

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें