अपना शहर चुनें

States

गालियों के बावजूद अजिंक्य रहाणे ने रखी ऑस्ट्रेलिया की इज्जत, कंगारू केक काटने से किया मना

IND vs AUS: अजिंक्य रहाणे ने जीता फैंस का दिल (साभार-एपी)
IND vs AUS: अजिंक्य रहाणे ने जीता फैंस का दिल (साभार-एपी)

ऑस्ट्रेलिया से टेस्ट सीरीज जीतकर लौटे अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने अब फैंस का दिल जीत लिया है. रहाणे का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें उन्होंने ऑस्ट्रेलिया की इज्जत रखी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 22, 2021, 3:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीतकर टीम इंडिया वापस आ चुकी है. अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) की कप्तानी में टीम इंडिया ने कंगारुओं को 2-1 से हराकर इतिहास रचा. रहाणे की लीडरशिप की चारों ओर चर्चा हो रही है. ऑस्ट्रेलिया में सीरीज जीतने के बाद अब अजिंक्य रहाणे ने लोगों के दिल जीत लिये हैं. रहाणे का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसे देख हर कोई उन्हें सलाम कर रहा है. सीरीज जीतकर मुंबई लौटे अजिंक्य रहाणे का उनके घरवालों ने जबर्दस्त स्वागत किया. रहाणे के लिए ढोल बजाए गए. उनपर फूलों की बौछार हुई और रेड कारपेट भी बिछाया गया. रहाणे के लिए उनके फैंस ने स्पेशल केक भी बनाया था लेकिन इस क्रिकेटर ने उसे काटने से इनकार कर दिया.

दरअसल इस केक पर एक पिच बनी थी और उसमें कंगारू तिरंगा (Kangaroo Cake) लिये बैठा हुआ था. ये केक भारत की ऑस्ट्रेलिया पर जीत को दर्शा रहा था लेकिन रहाणे इससे खुश नहीं दिखे. रहाणे ने केक को काटने से इनकार कर दिया क्योंकि उनका मानना था कि इससे ऑस्ट्रेलिया का अपमान होगा. रहाणे का केक को काटने से इनकार करने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया और अब फैंस उन्हें जमकर सलाम कर रहे हैं.

रहाणे ने रखी ऑस्ट्रेलिया की इज्जत
अजिंक्य रहाणे ने कंगारू केक ना काटकर ऑस्ट्रेलिया की इज्जत रखी. जिस ऑस्ट्रेलिया के दर्शकों ने भारतीय खिलाड़ियों को नस्लीय गालियां दी, रहाणे ने उन्हें हराने के बाद भी सम्मान दिया. रहाणे की इस सोच ने उन्हें फैंस का और चहेता बना दिया है.





बड़ी गलती के बाद हरभजन सिंह ने मांगी माफी, फैंस बोले-देश बदनाम करने में आगे क्यों रहते हो?

बता दें अजिंक्य रहाणे ने विराट कोहली की गैरमौजूदगी में टीम इंडिया का जबर्दस्त नेतृत्व किया. भारतीय टीम एडिलेड में महज 36 रनों पर ऑल आउट होकर शर्मनाक अंदाज में 8 विकेट से पहला टेस्ट गंवा बैठी थी और उसके बाद कप्तान कोहली पैटरनिटी लीव पर चले गए. रहाणे ने टीम की बागडोर संभाली और भारत ने मेलबर्न में ऑस्ट्रेलिया को पटखनी दी. रहाणे ने इस मैच में शानदार शतक ठोका. इसके बाद रहाणे की अगुवाई में भारत ने सिडनी टेस्ट ड्रॉ कराया और अंत में ब्रिसबेन टेस्ट में रोमांचक जीत दर्ज की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज