IPL 2020 में दिल्‍ली के खिलाड़ी को हुआ बड़ा फायदा, भारत के खिलाफ ऑस्‍ट्रेलियाई टीम में होगी वापसी!

एलेक्‍स कैरी को उम्‍मीद है कि भारत के खिलाफ उन्‍हें ऑस्‍ट्रेलिया की टी20 टीम में मौका मिलेगा (फोटो क्रेडिट: दिल्‍ली कैपिटल्‍स)
एलेक्‍स कैरी को उम्‍मीद है कि भारत के खिलाफ उन्‍हें ऑस्‍ट्रेलिया की टी20 टीम में मौका मिलेगा (फोटो क्रेडिट: दिल्‍ली कैपिटल्‍स)

29 साल के इस खिलाड़ी को खराब फॉर्म के कारण इंग्लैंड के खिलाफ सितंबर में टी20 सीरीज के आखिर मैच में टीम से बाहर कर दिया गया था

  • Share this:
मेलबर्न. विकेटकीपर बल्लेबाज एलेक्स कैरी (Alex Carey) ने मंगलवार को कहा कि हाल ही में आईपीएल के दौरान रिकी पोटिंग की देखरेख में खेल के ‘छोटे तकनीकी’ पहलुओं पर काम करने के बाद उन्हें उम्मीद है कि भारत के खिलाफ श्रृंखला के लिए वह ऑस्ट्रेलियाई टी-20 टीम में अपनी जगह फिर से बना लेंगे.

कैरी यूएई में खेली गई आईपीएल (IPL 2020) में दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) की टीम में थे, जिसके कोच ऑस्ट्रेलिया के विश्व कप विजेता पूर्व कप्तान पोंटिंग थे. कैरी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से पत्रकारों से कहा कि मुझे पहली बार आईपीएल का हिस्सा बनने का मौका मिला और दिल्ली के कोच के रूप में पोंटिंग और कुछ अन्य जाने-पहचाने चेहरों की मौजूदगी ने इन दो महीने को मेरे लिए मनोरंजक बना दिया.

बहुत जल्दी छोटी-छोटी खामियों पकड़ लेते हैं पोंटिंग
आईपीएल के अनुभव के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि मैं पिछले साल विश्व कप के दौरान उनके साथ काम करके भाग्यशाली रहा और उनसे अच्छा रिश्ता बना. वह एक अद्भुत खिलाड़ी थे और शानदार कोच हैं. वह वास्तव में बहुत जल्दी छोटी-छोटी खामियों को भी पकड़ लेते है. 29 साल के इस खिलाड़ी को खराब फॉर्म के कारण इंग्लैंड के खिलाफ सितंबर में टी20 सीरीज  के आखिर मैच में टीम से बाहर कर दिया गया था.
यह भी पढ़ें : 



IND vs AUS: एयरलिफ्ट करके सिडनी भेजे गए कप्‍तान टिम पेन सहित कई ऑस्‍ट्रेलियाई खिलाड़ी

बड़ा हादसा: टीम इंडिया के होटल के करीब हुआ प्‍लेन क्रैश, घबरा कर भागे क्रिकेटर

आईपीएल में भी उनका प्रदर्शन खराब रहा, जहां तीन मैचों में उन्होंने 32 रन बनाये. भारतीय टीम का ऑस्ट्रेलिया दौरा तीन मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला से 27 नवंबर से शुरू होगा, जबकि इतने ही मैचों की टी-20 श्रृंखला का पहला मुकाबला चार दिसंबर को खेला जाएगा. कैरी ने कहा कि आईपीएल में उन्हें ज्यादा मौकें नहीं मिले, लेकिन इसने खेल के तकनीकी पहलुओं पर काम करने का मौका दिया. इससे आगामी सत्र में मुझे अपने खेल में सुधार करने में मदद मिलेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज