अपना शहर चुनें

States

IND VS AUS: रोहित शर्मा पर BCCI से हुई बड़ी गलती, वीवीएस लक्ष्मण बोले-कमरे से बाहर भी नहीं आ पाएंगे

वीवीएस लक्ष्मण ने रोहित शर्मा के मुद्दे पर बीसीसीई की आलोचना की (फोटो-वीवीएस लक्ष्मण इंस्टाग्राम)
वीवीएस लक्ष्मण ने रोहित शर्मा के मुद्दे पर बीसीसीई की आलोचना की (फोटो-वीवीएस लक्ष्मण इंस्टाग्राम)

ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को टेस्ट टीम में चुना गया है लेकिन उनका पहले दो टेस्ट मैचों में खेलना मुश्किल है. इस मामले पर वीवीएस लक्ष्मण और गौतम गंभीर ने बीसीसीआई को आड़े हाथों लिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 30, 2020, 8:47 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया दौरे पर टीम इंडिया वनडे सीरीज गंवा चुकी है. इसकी बड़ी वजह टीम के साथ रोहित शर्मा (Rohit Sharma) का ना होना भी है. आईपीएल 2020 के दौरान टीम इंडिया का सेलेक्शन हुआ था जिसमें रोहित शर्मा को अनफिट बताकर टीम में नहीं चुना गया. लेकिन टीम चयन के बाद रोहित शर्मा आईपीएल 2020 के फाइनल में भी खेले और अर्धशतक लगाकर मुंबई को पांचवीं बार चैंपियन भी बनाया. बता दें रोहित शर्मा को टेस्ट सीरीज के लिए टीम इंडिया में मौका दिया गया है लेकिन ऑस्ट्रेलिया के क्वारंटीन नियमों के हिसाब से ये खिलाड़ी पहले दो टेस्ट में नहीं खेल पाएगा. रोहित शर्मा के मुद्दे पर बीसीसीआई की जमकर किरकिरी हुई है और अब पूर्व क्रिकेटर वीवीएस लक्ष्मण और गौतम गंभीर ने भी बोर्ड को आड़े हाथों लिया है.

लक्ष्मण बोले-रोहित शर्मा के मामले में बीसीसीआई से गलती हो गई
वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) ने स्टार स्पोर्ट्स के साथ खास बातचीत में कहा कि रोहित शर्मा के मुद्दे पर बीसीसीआई ने गलती कर दी है. उन्होंने कहा, 'रोहित शर्मा को टीम के साथ ही भेजना चाहिए था. मैं उनका टीम में सेलेक्शन करता और नाम के आगे लिखता फिट होने पर खेलेंगे. अब आप रोहित शर्मा को कमर्शियल फ्लाइट के साथ ऑस्ट्रेलिया ले जाएंगे तो वो वहां के नियमों के मुताबिक रूम के बाहर ही नहीं आ सकते. ये बात बीसीसीआई को सोचनी चाहिए थी.'

IND VS AUS: संजय मांजरेकर को फैंस ने दिया जवाब-टीम इंडिया स्कूली क्रिकेट टीम नहीं!
गंभीर बोले-आसानी से सुलझ सकता था रोहित शर्मा का मामला


पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने भी कहा कि रोहित शर्मा का मुद्दा आसानी से सुलझाया जा सकता था. उन्होंने कहा, बहुत आसान तरीका था. ज्यादा लोगों को मीटिंग में रखने की जरूरत ही नहीं थी. हेड फीजियो, चीफ सेलेक्टर और हेड कोच के बीच सही तालमेल हो तो सब सही रहेगा. विराट कोहली को शास्त्री सारी अपडेट दे ही देते.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज