• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • टीम इंडिया को कैश अवार्ड न मिलने पर भड़के गावस्कर, कहा- ये शर्मनाक

टीम इंडिया को कैश अवार्ड न मिलने पर भड़के गावस्कर, कहा- ये शर्मनाक

सुनील गावस्कर (फ़ाइल फोटो)

सुनील गावस्कर (फ़ाइल फोटो)

टीम इंडिया को पहली बार ऑस्ट्रेलिया में वनडे की बाइलैट्रल सीरीज़ में जीत मिली है. तीसरे और आखिरी वनडे में टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया 7 विकेट से हरा दिया

  • Share this:
    भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज जीतने के बाद टीम इंडिया को कैश अवार्ड न मिलने को लेकर नाराजगी जताई है. गावस्कर के मुताबिक सीरीज़ से ऑस्ट्रेलिया को जो कमाई हुई है उसमें टीम इंडिया का भी हक बनता है.

    टीम इंडिया को पहली बार ऑस्ट्रेलिया में वनडे की दि्वपक्षीय सीरीज़ में जीत मिली है. तीसरे और आखिरी वनडे में टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया 7 विकेट से हरा दिया. इस जीत के साथ टीम इंडिया ने तीन मैचों की सीरीज़ पर 2-1 कब्जा कर लिया. मैन ऑफ द मैच रहने वाले युजवेंद्र चहल और मैन ऑफ द सीरीज़ का खिताब जीतने वाले महेन्द्र सिंह धोनी कोो 500-500 अमेरिकी डॉलर दिए गए. जिसे इन दोनों खिलाड़ियों ने दान कर दिया.

    टीम इंडिया को सीरीज जीतने के बाद सिर्फ एक ट्रॉफी दी गई. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की आलोचना करते हुए गावस्कर ने कहा, ''500 अमेरिकी डॉलर से क्या होता है. ये शर्मनाक है कि टीम इंडिया को सीरीज़ जीतने के बाद सिर्फ एक ट्रॉफी दी गई. उन्हें ब्रॉडकास्ट राइट बेचने से इतनी कमाई होती है फिर वो खिलाड़ियों को कैश अवार्ड क्यों नहीं देते. खिलाड़ियों के चलते ही उन्हें स्पॉन्सर मिलता है और उनकी मोटी कमाई होती है.''

    गावस्कर ने आगे कहा, ''विम्बलडन में देखिए कितना पैसा मिलता है.'' पिछले साल विम्बलडन के पहले राउंड में हारने वाले खिलाड़ी को 36 लाख रुपये मिले. जबकि विजेता को करीब 21 करोड़ रुपये मिले.

    टीम इंडिया को इस बार ऑस्ट्रेलिया में  टेस्ट और वनडे दोनों सीरीज़ में जीत मिली.

    ये भी पढ़ें:

    टीम इंडिया ने सीरीज जीतकर रचा इतिहास, ऑस्ट्रेलिया ने लगाया हार का 'छक्का'

    विकेटों के पीछे धोनी ने फिर किया कमाल, बना डाला बड़ा रिकॉर्ड

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज