होम /न्यूज /खेल /

IND VS AUS: रवि शास्त्री का बड़ा बयान, कहा- भारत 36 रन पर जरूर सिमटा लेकिन हमें हार मानना नहीं आता

IND VS AUS: रवि शास्त्री का बड़ा बयान, कहा- भारत 36 रन पर जरूर सिमटा लेकिन हमें हार मानना नहीं आता

IND VS AUS: टीम इंडिया को हार मानना नहीं आता- रवि शास्त्री (साभार-एपी और सोशल मीडिया)

IND VS AUS: टीम इंडिया को हार मानना नहीं आता- रवि शास्त्री (साभार-एपी और सोशल मीडिया)

ब्रिसबेन टेस्ट में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर बॉर्डर-गावस्कर सीरीज लगातार दूसरी बार जीती. कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) बोले-हार मानना शब्दकोश में नहीं है

    नई दिल्ली. भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने फिटनेस समस्याओं से जूझ रही अपनी टीम की ऑस्ट्रेलिया पर टेस्ट सीरीज में जीत पर खुशी जताते हुए कहा कि एडिलेड में टेस्ट क्रिकेट में अपने न्यूनतम स्कोर 36 रन पर सिमटने के बाद यह ‘अवास्तविक’ लगता है . शास्त्री ने ऑस्ट्रेलिया के इस दौरे को अपना अब तक का सबसे कठिन दौरा बताया . उन्होंने कहा ,'यह सबसे कठिन दौरा था . इससे बढकर कुछ नहीं . 36 रन पर आउट होने के बाद यह अवास्तविक लगता है .' भारत ने आखिरी टेस्ट तीन विकेट से जीतकर सीरीज 2 - 1 से अपने नाम की .

    टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री ने कहा ,' हारना एक अलग बात है लेकिन हार मानना हमारे शब्दकोष में नहीं है .' बता दें ब्रिसबेन में भारतीय टीम ने 328 रन का रिकॉर्ड लक्ष्य हासिल करके बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी अपने पास रखी . शास्त्री ने कहा कि क्रिकेट जगत इस प्रदर्शन को लंबे समय तक याद रखेगा . ऋषभ पंत की 89 रन की नाबाद पारी के दम पर भारत ने 32 बरस बाद ऑस्ट्रेलिया को ‘गाबा के किले’ पर धूल चटाई .

    ऋषभ पंत की नजर सिर्फ जीत पर थी-शास्त्री
    विकेट के पीछे खराब प्रदर्शन के लिये आलोचना झेलने वाले पंत का बचाव करते हुए शास्त्री ने कहा ,' पंत जब से मैदान पर उतरा, उसकी नजरें लक्ष्य पर ही थी . वह स्कोर बोर्ड देख रहा था .'
    उन्होंने कहा ,'वह अच्छा श्रोता है . एक कोच किसी का स्वाभाविक खेल नहीं बदल सकता लेकिन आक्रामकता और सजगता के बीच संतुलन बिठाना होता है . आप गैर जिम्मेदार नहीं हो सकते . ऋषभ ने यह सीख लिया है .'

    IND VS AUS: ऋषभ पंत बोले-टीम इंडिया मुझे मैच विनर समझती है, ब्रिसबेन में साबित किया 

    शास्त्री ने कहा कि सिडनी टेस्ट में 97 रन बनाने वाला पंत अगर टिक जाता तो भारत वह मैच भी जीत सकता था . उन्होंने कहा ,' वह सिडनी में भी जीत दिला देता अगर क्रीज पर कुछ देर और टिक गया होता . इस बार उसने सुनिश्चित किया कि अंत तक डटे रहना है . जब अच्छी विकेटकीपिंग नहीं करता तो उसकी आलोचना होती है लेकिन वह इस तरह से मैच जिता सकता है .'undefined

    Tags: IND vs AUS Brisbane Test, India vs Australia, Ravi shastri

    अगली ख़बर