IND vs AUS: एक साथ सफेद और लाल गेंद से अभ्‍यास कर रही है टीम इंडिया, देखें Video

रविवार को टीम इंडिया ने नेट अभ्‍यास किया
रविवार को टीम इंडिया ने नेट अभ्‍यास किया

टीम इंडिया को मेजबान ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ तीन वनडे, तीन टी20 और चार टेस्‍ट मैचों की सीरीज खेलनी है. भारत के इस दौरे का आगाज 27 नवंबर को वनडे सीरीज से होगा

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 15, 2020, 8:47 PM IST
  • Share this:
सिडनी. टीम इंडिया (Team India) ने रविवार को अपने पहले पूर्ण नेट सत्र में सीमित ओवरों और टेस्ट मैच के लिए एक साथ सभी खिलाड़ियों के साथ अभ्यास किया. शनिवार को पहले अभ्यास सत्र में खिलाड़ियों ने जिम और रनिंग सत्र में भाग लिया था. दूसरे दिन मैदान पर अभ्यास करना सही समझा. भारतीय दल के साथ टेस्ट विशेषज्ञ भी ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर गए हैं. बीसीसीआई ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर जो वीडियो साझा किया है उसे देखकर समझा जा सकता है कि खिलाड़ी सफेद और लाल गेंद फॉर्मेट का अभ्यास एक साथ कर रहे हैं.

भारत के दो विशेषज्ञ स्लिप फील्‍डर विराट कोहली (Virat Kohli) और चेतेश्वर पुजारा को लंबे समय तक लाल गेंद के साथ कैच अभ्यास करते हुए देखा गया. वहीं दूसरी तरफ भारतीय टीम के नये तेज गेंदबाज टी नटराजन नेट पर सफेद कूकाबुरा के साथ गेंदबाजी कर रहे थे. नटराजन ने दिन के नेट सत्र में सफेद गेंद के लगभग सभी शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों को गेंदबाजी की. बीसीसीआई ने ट्वीट किया कि हमने उन्हें आईपीएल में भी बहुत सफलता के साथ गेंदबाजी करते हुए देखा है और पहली बार भारतीय दल के लिए चुने जाने के बाद यहां नटराजन नेट सत्र में गेंदबाजी कर रहे हैं. सपना सच होने जैसा पल.


सनराइजर्स हैदराबाद के मेंटर वीवीएस लक्ष्मण ने इस ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा ‘प्रेरक कहानी’.चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, पृथ्वी शॉ, हनुमा विहारी, ऋषभ पंत, रविचंद्रन अश्विन जैसे टेस्ट दल के खिलाड़ी केवल लाल गेंद से प्रशिक्षण लेंगे, जबकि दोनों टीम में शामिल अन्य खिलाड़ी अभ्यास कार्यक्रम के अनुसार दोनों गेंद से होने वाले सत्रों में भाग लेंगे.



ये भी पढ़ें : 

राष्ट्रीय चयन पैनल : 3 पदों के लिए 4 दिग्‍गज खिलाड़ी दौड़ में, अजित अगरकर बन सकते हैं चेयरमैन

खुद की सुरक्षा को भूले शाहिद अफरीदी, खतरनाक हेलमेट पहनकर बल्‍लेबाजी करने उतरे

नेट पर दोनों फॉर्मेट के खिलाड़ियों के साथ अभ्यास इसलिये कराया जा रहा ताकि वे परिस्थितियों के साथ ठीक से सामंजस्य बैठा सके. टेस्ट टीम के खिलाड़ियों ने मार्च के पहले सप्ताह के बाद प्रतिस्पर्धी क्रिकेट नहीं खेला है. सीमित ओवरों की श्रृंखला के बाद भारतीय टीम को टेस्ट मैच के लिए दो अभ्यास मुकाबले खेलने है जिसमें से एक मैच गुलाबी गेंद (दिन-रात्रि) से होगा. टीम प्रबंधन चाहता है कि इन मैचों से पहले टेस्ट विशेषज्ञों को जितना संभव हो उतना नेट अभ्यास मिल सके. भारतीय टीम 27 नवंबर से तीन वनडे, तीन टी20 और चार टेस्ट मैच खेलेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज