लाइव टीवी

IND vs BAN: राजकोट में क्या गलतियों को सुधारकर हार को टाल पाएगी टीम इंडिया?

भाषा
Updated: November 7, 2019, 2:06 PM IST
IND vs BAN: राजकोट में क्या गलतियों को सुधारकर हार को टाल पाएगी टीम इंडिया?
भारत ने बांग्लादेश के खिलाफ आसानी से सात विकेट से पहला टी20 मैच गंवा दिया था

टीम इंडिया (Team India) ने एक के बाद एक कई गलतियां करके बांग्‍लादेश के खिलाफ पहला टी20 मैच गंवा दिया था

  • Share this:



राजकोट. क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में एक बार फिर दबाव में आया भारत गुरुवार को यहां बांग्लादेश (Bangladesh) के खिलाफ होने वाले दूसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में जीत के साथ सीरीज बराबर करने के इरादे से उतरेगा. इस मैच में चक्रवातीय तूफान का खतरा भी मंडरा रहा है. भारत को दिल्ली में वायु प्रदूषण के बीच रविवार को पहले टी20 मैच में सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा था. बांग्लादेश के लिए यह नतीजा बेहतरीन है जो वेतन और अन्य मुद्दों को लेकर खिलाड़ियों की हड़ताल के बाद यहां आई है.
भारत को पिछले कुछ समय में टी20 फॉर्मेट में वैसी सफलता नहीं मिली है जैसी टीम ने वनडे अंतरराष्ट्रीय और टेस्ट क्रिकेट में हासिल की है और यह इस साल के नतीजों में भी झलकता है.

युवा खिलाड़ियों के पास मौका
भारत को इस साल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू सरजमीं पर हार का सामना करना पड़ा, जबकि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज बराबरी पर रही. भारत ने टेस्ट क्रिकेट में दक्षिण अफ्रीका का क्लीन स्वीप किया था. नियमित कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) सहित कुछ सीनियर खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में युवा खिलाड़ियों के पास इस सीरीज में अपनी क्षमता दिखाने का मौका है.
यह सारी चीजें हालांकि इस पर निर्भर करेंगी कि चक्रवात ‘महा’ का शहर के मौसम पर क्या असर पड़ता है. इस चक्रवातीय तूफान के मैच के दिन गुजरात के तट से टकराने की संभावना है.
Loading...

धवन की स्ट्राइक रेट चिंता का कारण
सीरीज के पहले मैच में हार के बाद कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने स्वीकार किया था कि भारतीय टीम उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाई और डीआरएस पर कुछ गलत फैसलों ने भी इस हार में भूमिका निभाई. गुरुवार को होने वाले मैच से पहले शिखर धवन (Shikhar Dhawan) की फॉर्म और स्ट्राइक रेट भी चिंता का विषय है. भारत अगर बांग्लादेश के खिलाफ सीरीज गंवाता है तो उसकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं क्योंकि उसकी नजरें अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप के लिए टीम तैयार करने पर टिकी हैं.
दिल्ली के अरूण जेटली स्टेडियम में भारतीय बल्लेबाजों को जूझना पड़ा था. टीम हालांकि वापसी करते हुए 148 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा करने में सफल रही. बांग्लादेश ने अनुभवी बल्लेबाज मुशफिकुर रहीम के नाबाद अर्धशतक की बदौलत आसानी से लक्ष्य हासिल कर लिया था.

india vs bangladesh, virat kohli, rohit sharma, rishabh pant, cricket, sports news भारत बनाम बांग्लादेश, ऋषभ पंत, विराट कोहली, रोहित शर्मा, क्रिकेट
शिखर धवन की धीमी बल्लेबाजी टीम के लिए चिंता का कारण बनी हुई है



केएल राहुल और पंत पर दबाव
इसके अलावा लोकेश राहुल (KL Rahul) पर भी दबाव होगा जो टेस्ट टीम में अपनी जगह गंवाने के बाद टी20 एकादश में अपनी जगह पक्की करने की कोशिशों में जुटे हैं.भारत के युवा खिलाड़ियों से रविवार को काफी उम्मीदें थी लेकिन श्रेयस अय्यर को छोड़कर कोई भी प्रभाव नहीं छोड़ पाया. ऋषभ पंत (Rishabh Pant), क्रुणाल पंड्या और पिछले मैच में पदार्पण करने वाले ऑलराउंडर शिवम दुबे को अपने चयन को सही साबित करते हुए मुश्किल हालात में योगदान देना होगा.
यह देखना होगा कि टीम प्रबंधन दुबे को एक और मौका देता है या केरल के विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन को अंतिम एकादश में शामिल करता है. कर्नाटक के बल्लेबाज मनीष पांडे को भी मौका मिल सकता है.

खलील अहमद की शार्दुल को मिल सकता है मौका
भारत की अनुभवहीन गेंदबाजी भी टीम प्रबंधन के लिए चिंता का विषय है. तेज गेंदबाज खलील अहमद ने दिल्ली में चार ओवर में 37 रन लुटाए थे और 19वें ओवर में उनकी गेंदों पर विरोधी टीमें ने लगातार चार चौके मारे थे. दूसरे टी20 में उनकी जगह शार्दुल ठाकुर को अंतिम एकादश में शामिल किया जा सकता है.
युजवेंद्र चहल, क्रुणाल पंड्या (Krunal Pandya) और वाशिंगटन सुंदर की स्पिन तिकड़ी को विरोधी टीम की रन गति पर अंकुश लगाने के अलावा विकेट भी चटकाने होंगे. दूसरी तरफ नौ मैचों में भारत के खिलाफ पहली जीत दर्ज करने के बाद बांग्लादेश की टीम सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगी.

एडम गिलक्रिस्ट ने दी ऋषभ पंत को महेंद्र सिंह धोनी जैसा ना बनने की सलाह

दूसरे टी20 मैच पर महा चक्रवात का साया, खुला आसमान देखकर जगी उम्मीदें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 7, 2019, 2:09 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...