लाइव टीवी

IND vs BAN: तीन साल पहले छोटे भाई ने दिलाई थी बड़ी जीत, अब बड़े भाई की वजह से 'हारी' टीम इंडिया

News18Hindi
Updated: November 4, 2019, 2:29 PM IST
IND vs BAN: तीन साल पहले छोटे भाई ने दिलाई थी बड़ी जीत, अब बड़े भाई की वजह से 'हारी' टीम इंडिया
तीन टी20 मैचों की सीरीज के पहले मैच में बांग्लादेश ने भारत को सात विकेट से हराया

तीन साल पहले टी20 वर्ल्ड कप में हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) ने आखिरी ओवर में कमाल करते हुए भारत को बांग्लादेश पर एक रन से जीत दिलाई थी

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 4, 2019, 2:29 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. करीब तीन साल बाद भारत की मेजबानी में टी20 मैच खेलने आई बांग्लादेशी टीम ने तीन मैचों की सीरीज में विजयी आगाज किया. दिल्ली में खेले गए पहले टी20 मैच में बांग्लादेश ने रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की अगुआई वाली टीम इंडिया को सात विकेट से हराकर भारत पर पहली टी20 जीत हासिल की. दोनों टीमों के बीच इससे पहले आठ टी20 मैच खेले गए थे, जिसमें भारत ने जीत हासिल की थी. बांग्लादेश की इस ऐतिहासिक जीत के बाद टीम इंडिया की भी जमकर आलोचना हो रही है. कप्तान रोहित शर्मा, ऋषभ पंत आदि को इसका जिम्मेदार ठहराया जा रहा है, लेकिन हार का सबसे बड़ा कारण क्रुणाल पंड्या (Krunal Pandya) बने. जिन्होंने बांग्लादेश टीम के जीत के हीरो रहे मुशफिकुर रहीम का कैच छोड़ उन्हें जीवनदान दिया था. करीब तीन साल बाद भारत में खेल रही बांग्लादेश टीम को भी ऐसी जीत की उम्मीद नहीं थी. पिछली बार यहां रोमांचक मैच में एक रन से मिली हार का हिसाब बांग्लादेश टीम ने सात विकेट से जीत कर पूरा किया. भारत की उस एक रन की जीत के हीरो हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) रहे थे, लेकिन तीन साल बाद अब उनके बड़े भाई क्रुणाल पंड्या (Krunal Pandya) भारत की इस बड़ी हार का कारण बन गए.

क्रुणाल पंड्या ने दिया रहीम को जीवनदान
पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने निर्धारित ओवर में छह विकेट के नुकसान पर 148 रन बनाए थे, जिसके जवाब में मुश्फिकुर रहीम  (Mushfiqur Rahim) ने नाबाद 60 रन बनाकर बांग्लादेशी टीम को जीत दिला दी.  17वें ओवर तक मैच पर टीम इंडिया की पकड़ थी. 17 ओवर के खेल के बाद बांग्लादेश को जीत के लिए 18 गेंदों में 35 रन की जरूरत थी और रहीम 37 रन पर खेल रहे थे. 18वें ओवर में रहीम को पवेलियन भेजकर बांग्‍लादेश को बड़ा झटका देने का मौका मिला भी था, लेकिन युजवेंद्र चहल की गेंद पर क्रुणाल पंड्या (Krunal Pandya) ने उनका आसान सा कैच टपका दिया. वहीं से मैच भारत के हाथ से निकल गया क्योंकि वो कैच छूटने के बाद रहीम ने 20 रन बना डाले थे. हालांकि इसके बाद रही- सही कसर खलील अहमद के 19वें ओवर में पूरी हो गई. जिसमें रहीम ने लगातार चार चौके जड़े.

india vs bangladesh, hardik pandya, krunal pandya, cricket, sports, भारत बनाम बांग्लादेश, हार्दिक पांड्या, क्रुणाल पंड्या, क्रिकेट
बड़े भाई क्रुणाल पंड्या के साथ हार्दिक पंड्या (फाइल फोटो)


वर्ल्ड कप में हार्दिक पंड्या ने दिलाई थी एक रन से जीत
पिछली बार जब दोनों टीमें भारत में आमने- सामने हुई थी, तो किसी को भी ऐसे रोमांचक मैच की उम्मीद नहीं थी. जिसमें भारत ने हार टालते हुए ए‌क रन से जीत दर्ज ‌की थी. एक समय यह मैच भी भारत के हाथ से फिसलता हुआ नजर आ रहा था. लेकिन क्रुणाल पंड्या के छोटे भाई हार्दिक पंड्या ने ऐसा होने नहीं दिया.  बेंगलुरु में दोनों टीमों के बीच खेले गए टी20 वर्ल्ड कप के सुपर 10 मुकाबले में भारत ने मेहमान टीम को 147 रनों का लक्ष्य दिया था और आखिरी ओवर में बांग्लादेश को 11 रनों की जरूरत थी. मुशफिकुर रहीम ने उस समय आखिरी ओवर की शुरुआत तीन गेंदों पर दो चौके सहित कुल नौ रन जोड़कर की.
इसके बाद बांग्लादेश को तीन गेंदों पर सिर्फ दो रन की जरूरत थी. ऐसी स्थिति में हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) ने अपना कमाल दिखाया और आखिरी ओवर की चौथी गेंद पर रहीम को शिखर धवन के हाथों कैच करवा दिया. पांचवीं गेंद पर उन्होंने महमुदुल्लाह को रवींद्र जडेजा के हाथों कैच करवा दिया. इसके बाद आखिरी गेंद पर बांग्लादेश को दो रन की जरूरत थी. गेंद हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) के हाथों में थी. उन्होंने गेंद फेंकी, जिस पर सुवागता रन लेने के लिए दौड़े, वहीं गेंद धोनी के पास आई और उन्होंने गेंद स्टंप की ओर फेंकने के बजाय दौड़ते हुए बेल्स गिरा दी. हार्दिक पंड्या ने 29 रन देकर दो अहम विकेट लिए थे.जबकि सात गेंदों पर 15 रन बनाकर बल्ले से भी अहम योगदान दिया था.
Loading...

इस खिलाड़ी ने 1 ओवर में ठोके 31 रन, फैंस ने कहा- वर्ल्ड कप में मौका दो

'फ्लॉप' ऋषभ पंत के बचाव में उतरे रोहित शर्मा, कहा उन्हें समय देने की जरूरत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 4, 2019, 2:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...