लाइव टीवी

Ind vs Ban: 'फ्लॉप' ऋषभ पंत के बचाव में उतरे रोहित शर्मा, कहा- उन्हें समय देने की जरूरत

भाषा
Updated: November 4, 2019, 1:07 PM IST
Ind vs Ban: 'फ्लॉप' ऋषभ पंत के बचाव में उतरे रोहित शर्मा, कहा- उन्हें समय देने की जरूरत
ऋषभ पंत बांग्लादेश के खिलाफ न तो बल्ले से कुछ खास कमाल दिखा पाए और न ही विकेटकीपिंग में.

पहले टीम इंडिया (Team India) ने मुशफिकुर रहीम के खिलाफ रिव्यू नहीं लिया तो बाद में ऋषभ पंत (Rishabh pant) के दबाव बनाने पर सौम्या सरकार के खिलाफ गलत रिव्यू ले लिया

  • Share this:
नई दिल्ली. जब सटीक 'रिव्यू' की बात आती है तो महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) का नाम एकदम से जेहन में आ जाता लेकिन सीमित ओवरों के प्रारूप में उनके उत्तराधिकारी माने जा रहे ऋषभ पंत (Rishabh Pant) बांग्लादेश के खिलाफ रविवार को यहां पहले टी20 मैच में इस मोर्चे पर पूरी तरह से नाकाम रहे, जिसके बाद कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने उनका बचाव किया.  मैच के 10वें ओवर में डीआरएस को लेकर फैसले भारत के खिलाफ गये और आखिर में यह गलती टीम को महंगी पड़ी और उसे पहली बार बांग्लादेश से हार का सामना करना पड़ा.
लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल के इस ओवर की तीसरी गेंद पर मुशफिकुर रहीम पगबाधा आउट थे, लेकिन भारत ने 'रिव्यू' नहीं लिया. गेंदबाज या विकेटकीपर पंत ने इसके लिए कप्तान को कोई सलाह भी नहीं दी. रहीम तब छह रन पर खेल रहे थे और बाद में वह 60 रन बनाकर नाबाद रहे.

india vs bangladesh, rohit sharma, Rishabh pant, sports news, cricket, भारत बनाम बांग्लादेश, ऋषभ पंत, क्रिकेट, रोहित शर्मा
भारत के खिलाफ पहले टी20 मैच में शॉट लगाते मुशफिकुर रहीम


सौम्या सरकार के खिलाफ गलत रिव्यू

इसी ओवर की आखिरी गेंद पर सौम्या सरकार के खिलाफ पंत ने विकेट के पीछे कैच की अपील की, जिसे अंपायर ने ठुकरा दिया. पंत ने रोहित पर 'डीआरएस' के लिए दबाव बनाया, लेकिन 'रिव्यू' से स्पष्ट हो गया कि गेंद बल्ले से लगकर नहीं गई थी. दर्शकों ने भी 'धोनी धोनी' की गूंज से पंत को गलती का अहसास कराया. रोहित ने बाद में स्वीकार किया कि इस तरह के 'रिव्यू' में कप्तान पूरी तरह से गेंदबाज और विकेटकीपर पर निर्भर होता है, लेकिन उन्होंने भरोसा जताया कि पंत अभी युवा है और वह समय के साथ बेहतर फैसले करना सीख जाएंगे.

पंत  को समय देने की जरूरत
रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने कहा कि जब आप फैसला करने की सही स्थिति में नहीं होते हैं तो आपको फैसला लेने के लिए अपने गेंदबाज और विकेटकीपर पर भरोसा करना होता है. ऋषभ अभी युवा है और उसने बमुश्किल 10 से 12 टी20 (असल में 21) मैच खेले हैं, इसलिए उसे इस तरह की चीजों को समझने के लिए समय देने की जरूरत है. रोहित ने कहा कि वह इस तरह के फैसला कर सकते हैं या नहीं, इस पर अभी निर्णय करना जल्दबाजी होगी. उसे ऐसे फैसले करने के लिए हमें समय देना होगा. यही बात गेंदबाज पर भी लागू होती है. जब कप्तान फैसला करने के लिए सही स्थिति में नहीं होता है तो गेंदबाज और विकेटकीपर मिलकर फैसला करते हैं. भारतीय कप्तान ने हालांकि माना कि अगर मुशफिकुर रहीम के खिलाफ 'रिव्यू' लेने में गलती नहीं की होती तो टीम यह मैच जीत सकती थी.
Loading...

रोहित शर्मा की टीम हारी लेकिन भारतीय महिला टीम ने हासिल की धमाकेदार जीत

बैन के बाद शाकिब अल हसन को मिला 'तोहफा', दिया ये बयान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 4, 2019, 1:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...