होम /न्यूज /खेल /IND vs BAN: भारत ने पहले वनडे में की थी 3 गलतियां, दूसरे मैच में दोहराई तो सीरीज हाथ से फिसल जाएगी

IND vs BAN: भारत ने पहले वनडे में की थी 3 गलतियां, दूसरे मैच में दोहराई तो सीरीज हाथ से फिसल जाएगी

IND vs BAN 2nd ODI: टीम इंडिया ने पहले वनडे में 3 बड़ी गलतियां की थी, अगर दूसरे मैच में दोहराई तो सीरीज हारना तय है. (AP)

IND vs BAN 2nd ODI: टीम इंडिया ने पहले वनडे में 3 बड़ी गलतियां की थी, अगर दूसरे मैच में दोहराई तो सीरीज हारना तय है. (AP)

IND vs BAN 2nd ODI: भारत ने बांग्लादेश के खिलाफ मीरपुर में हुए पहले वनडे में 3 गलतियां की थी, जिसका उसे खामियाजा उठाना ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

भारत-बांग्लादेश के बीच दूसरा वनडे मीरपुर में खेला जाएगा
भारत को पहले वनडे में की गलतियों को दोहराने से बचना होगा

नई दिल्ली. भारत और बांग्लादेश के बीच 3 वनडे की सीरीज का दूसरा मुकाबला मीरपुर के शेर-ए-बांग्ला स्टेडियम में खेला जाएगा. पहले वनडे में जीत की दहलीज पर पहुंचने के बाद टीम इंडिया चूक गई. 136 रन से स्कोर पर बांग्लादेश के 9 विकेट गिराने के बावजूद भारतीय गेंदबाज बांग्लादेश की ताबूत में आखिरी कील नहीं ठोक पाए. मुस्तफिजुर रहमान और मेहंदी हसन मिराज ने आखिरी विकेट के लिए 41 गेंद में नाबाद 51 रन की साझेदारी कर भारत के हाथ से जीत छीन ली. य मैच में बांग्लादेश की तरफ से सबसे बड़ी साझेदारी रही. इस मैच में भारत ने वैसे तो कई गलतियां कीं, जिसका खामियाजा उसे हार के रूप में उठाना पड़ा. लेकिन, मोटे तौर पर 3 गलतियां टीम इंडिया पर सबसे ज्यादा भारी पड़ी. आइए एक-एककर इसे समझते हैं.

पिच के हिसाब से सही शॉट सेलेक्शन नहीं
बांग्लादेश के खिलाफ पहले वनडे में केएल राहुल ने भारत के लिए 70 गेंद में 73 रन की पारी खेली. वो टॉप स्कोरर रहे. मैच के बाद उन्होंने अपनी इस पारी को लेकर एक बात कही थी. उन्होंने कहा था कि मैच से पहले ही हमें यह अंदाजा लग गया था कि मीरपुर का विकेट बल्लेबाजी के लिए मुश्किल होगा. गेंद इस पर रूककर आएगी. क्योंकि प्रैक्टिस विकेट का मिजाज बिल्कुल मैच के लिए इस्तेमाल हुए विकेट जैसा ही था. अब जब राहुल को यह अंदाजा लग गया था तो बाकी बल्लेबाजों को भी यह बात पता ही होगी. लेकिन, बल्लेबाजी के दौरान किसी ने इसका ध्यान नहीं रखा और अच्छी गेंद के बजाए भारतीय बल्लेबाज खराब शॉट खेलकर आउट हुए.

शिखर धवन रन बनाने के लिए संघर्ष कर रहे थे. 7वीं गेंद पर उनका खाता खुला था. वो आमतौर पर रिवर्स स्वीप कम ही खेलते हैं. लेकिन, डॉट बॉल के कारण उन पर रन बनाने का दबाव था. इसी वजह से धवन ने मेहदी हसन मिराज की गेंद पर रिवर्स स्वीप लगाने की कोशिश की. गेंद उनके हाथ से टकराकर विकेट पर जा लगी. श्रेयस अय्यर ने भी यही गलती की. शॉर्ट बॉल उनकी कमजोरी है और उन्होंने भी पुल शॉट मारने के चक्कर में विकेट गंवा दिया.

केएल राहुल भी इसी राह पर चलते नजर आए और गलत मौके पर पुल शॉट खेलने के चक्कर में पवेलियन लौट गए. जब राहुल आउट हुए, तब 10 ओवर बाकी थे. अगर वो आखिरी ओवर तक रहते तो भारत 200 रन के पार पहुंच जाता और मैच का नतीजा कुछ और होता. दूसरे वनडे में भी विकेट का मिजाज ऐसा ही रहेगा. दोहरे उछाल के साथ ही पिच से स्पिन गेंदबाजों को मदद मिलेगी. ऐसे में पहले वनडे में शॉट सेलेक्शन को लेकर की गलती, टीम इंडिया को दूसरे मैच में दोहराने से बचनी होगी.

खराब फील्डिंग का खामियाजा भुगता
भारत ने पहले वनडे में खराब फील्डिंग की और बल्लेबाजी के साथ हार की एक बड़ी वजह यह भी रही. अहम मौके पर दीपक चाहर की नो-बॉल भी भारत पर भारी पड़ी. भारत ने 43वें ओवर की लगातार दो गेंद पर मेहदी हसन मिराज का कैच लपकने का मौका गंवा दिया. एक बार विकेटकीपर केएल राहुल ने गलती की. शार्दुल की गेंद पर मिराज ने जोरदार शॉट लगाया. लेकिन, गेंद हवा में काफी ऊंची गई. केएल राहुल गेंद के नीचे आ भी गए थे. लेकिन, उन्होंने कैच गंवा दिया.

इसकी ठीक अगली गेंद पर भी मिराज को जीवनदान मिल गया. गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर डीप थर्डमैन की तरफ गई. वहां वॉशिंगटन सुंदर तैनात थे. गेंद उनके सामने गिरी. लेकिन, सुंदर ने कैच की कोशिश ही नहीं की. शायद लाइट की वजह से उन्हें गेंद नजर ही नहीं आई. लेकिन, इंटरनेशनल मैच में इस तरह की चूक का बड़ा नुकसान होता है और भारत को यह झेलना पड़ा. दूसरे वनडे में भारत को इस गलती को दोहराने से बचना होगा.

IND vs BAN, 2nd ODI: चोटिल शार्दुल ठाकुर को रिप्लेस कर सकते हैं उमरान मलिक, जानें कैसी होगी प्लेइंग XI

IND vs BAN 2nd ODI Live Streaming: भारत बनाम बांग्लादेश दूसरे वनडे मैच का फ्री में लुत्फ उठाने के लिए आजमाएं ये तरीका

4 ऑलराउंडर के साथ उतरने की रणनीति काम नहीं आई
भारत पहले वनडे में 4 ऑलराउंडर के साथ उतरा. वॉशिंगटन सुंदर, शाहबाज अहमद, शार्दुल ठाकुर और दीपक चाहर यह चारों ऐसे खिलाडी हैं, जो गेंदबाजी के साथ अच्छी बल्लेबाजी भी कर लेते हैं. भारत को पहले वनडे में गेंदबाजी में तो इनका फायदा मिला. लेकिन, बल्लेबाजी में सुंदर (19) को छोड़ दें तो बाकी तीनों नाकाम रहे. शाहबाज और चाहर तो खाता भी नहीं खोल पाए. शार्दुल के बल्ले से भी 2 रन ही निकले. यानी चारों ऑलराउंडर ने मिलकर 21 रन बनाए. भारत ने आखिरी 6 विकेट महज 34 रन में गंवाए. यह 2011 के विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच के बाद भारत का सबसे खराब प्रदर्शन था. तब भारत ने 13 रन पर 6 विकेट गंवाए थे.

वैसे, एक मैच के आधार पर 4 ऑलराउंडर के साथ उतरने की रणनीति पर कुछ भी कहना जल्दबाजी होगा. लेकिन, पहले वनडे में बल्लेबाजी और मीरपुर के विकेट को देखते हुए भारत के लिए दूसरे वनडे में एक अतिरिक्त स्पेशलिस्ट बल्लेबाज के साथ उतरना ज्यादा अच्छा रहेगा.

Tags: India vs Bangladesh, KL Rahul, Rohit sharma, Shikhar dhawan, Team india

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें