IND VS ENG: विराट कोहली का ध्यान भटकाने के लिए अजिंक्य रहाणे के नाम का इस्तेमाल!

IND VS ENG: विराट कोहली के समर्थन में उतरे केविन पीटरसन .(PIC: AP)

India vs England: इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में हार के बाद इंग्लैंड के कुछ खिलाड़ियों ने अजिंक्य रहाणे को विराट कोहली (Virat Kohli) से बेहतर कप्तान बताया था, सोशल मीडिया पर भी विराट की कप्तानी की आलोचना हुई थी.

  • Share this:
    नई दिल्ली. इंग्लैंड के पूर्व बल्लेबाज केविन पीटरसन (Kevin Pitersen) को निकट भविष्य में विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी को कोई खतरा नजर नहीं आता लेकिन उनकी कप्तानी में भारत के लगातार चार टेस्ट गंवाने के बाद वह इसे लेकर को रही बहस को समझ सकते हैं. कोहली की कप्तानी में भारत ने पिछले साल की शुरुआत में न्यूजीलैंड में दो टेस्ट गंवाए थे जबकि इसके बाद टीम को आस्ट्रेलिया में दिसंबर में एडीलेड में पहले टेस्ट में शर्मनाक हार का सामना पड़ा और फिर इस हप्ते की शुरुआत में चेन्नई में इंग्लैंड ने मेजबान टीम को करारी शिकस्त दी.

    पीटरसन ने ‘बेटवे’ के लिए अपने ब्लॉग पोस्ट में लिखा, 'मैं चीजों के बदलने की बिलकुल भी उम्मीद नहीं की है लेकिन भारत की टेस्ट कप्तानी को लेकर जारी बहस से बचना असंभव है.'उन्होंने कहा, 'विराट कोहली ने कप्तान के रूप में अब लगातार चार टेस्ट गंवाए है और टीम में अजिंक्य रहाणे हैं जिनकी अगुआई में भारत ने हाल में आस्ट्रेलिया में शानदार सीरीज जीती.' कोहली की गैरमौजूदगी में रहाणे ने खिलाड़ियो की चोटों की समस्या से जूझ रही भारतीय टीम की अगुआई की जिसने आस्ट्रेलिया में चार टेस्ट की सीरीज 2-1 से जीती. ऑस्ट्रेलिया में मिली इस शानदार जीत से इस बहस को हवा मिली कि कोहली की जगह रहाणे को भारतीय टेस्ट कप्तान बनाया जाना चाहिए.

    कोहली के समर्थन में आए पीटरसन
    इंग्लैंड के पूर्व कप्तान ने हालांकि कोहली का समर्थन करते हुए कहा कि वह अपनी कप्तानी में टीम को जीत दिलाने में पूरी तरह सक्षम हैं. पीटरसन ने कहा, 'सोशल मीडिया पर, प्रत्येक रेडियो स्टेशन, हर टेलीविजन चैनल और प्रत्येक समाचार चैनल, जो होना चाहिए उसे लेकर वहां काफी गहन चर्चाएं हो रही हैं. देश की कप्तानी करना काफी मुश्किल होता है और दुर्भाग्य से यह इस काम की प्रकृति है.' उन्होंने कहा, 'यह ध्यान भटकाने की एक और चीज है जिसकी कोहली को जरूरत नहीं है लेकिन बेशक चीजों को शांत करने के लिए वह दूसरे टेस्ट में अपनी कप्तानी में टीम को जीत दिलाने में सक्षम है.'

    IND VS ENG: अजिंक्य रहाणे बोले- पहले टेस्ट की हार भूल गई है टीम इंडिया, अब सीरीज जीतने पर ध्यान 

    पीटरसन का साथ ही मानना है कि पहले टेस्ट में जेम्स एंडरसन की शानदार गेंदबाजी के बाद दूसरे टेस्ट में इंग्लैंड के अनुभवी तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड पर अच्छा प्रदर्शन करने का दबाव होगा.
    इंग्लैंड की रोटेशन नीति के तहत ब्रॉड को पहले टेस्ट से आराम दिया गया था लेकिन वह दूसरे टेस्ट में खेलने के लिए तैयार हैं और पीटरसन का मानना है कि इस तेज गेंदबाज के पास भारत में अपनी छाप छोड़ने का शायद यह आखिरी मौका है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.