Home /News /sports /

IND VS ENG: जो रूट को 'गुरु' बनाएं विराट कोहली, शतक से सीखनी चाहिए 3 बातें

IND VS ENG: जो रूट को 'गुरु' बनाएं विराट कोहली, शतक से सीखनी चाहिए 3 बातें

IND VS ENG: जो रूट से विराट कोहली को 3 बातें सीखनी चाहिए (AP)

IND VS ENG: जो रूट से विराट कोहली को 3 बातें सीखनी चाहिए (AP)

India vs England, 3rd Test: इंग्लैंड के कप्तान जो रूट (Joe Root) ने भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में लगातार तीन शतक ठोक दिये हैं, वहीं दूसरी ओर भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) पिछली 50 पारियों से सेंचुरी नहीं जड़ पाए हैं. जानिए विराट कोहली को इंग्लैंड के कप्तान से क्या सीख लेनी चाहिए.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. इंग्लैंड के कप्तान जो रूट (Joe Root) ने अपनी शानदार फॉर्म लीड्स टेस्ट (India vs England, 3rd Test) में भी जारी रखी. जो रूट ने लीड्स टेस्ट में 121 रनों की पारी खेली और टेस्ट सीरीज में लगातार तीसरा शतक ठोका. जो रूट ने जब शतक लगाने के बाद बल्ला उठाया तो उन्हें भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) भी देख रहे थे. स्लिप में खड़े विराट कोहली के चेहरे पर ना खुशी थी ना दुख. उनकी आंखों और चेहरे पर एक गहरा सन्नाटा था जिसे शायद उनके फैंस ने भी महसूस किया होगा.

सोशल मीडिया पर भी कुछ ऐसा ही दिखाई दिया, जो रूट का शतक लगते ही अचानक लोग विराट कोहली की बातें करने लगें. हो भी क्यों ना…इंग्लैंड के कप्तान ने महज 21 पारियों में 6 शतक जड़ दिये हैं और भारतीय कप्तान को शतक लगाए 50 पारियां बीत चुकी हैं. वैसे जो रूट भले ही विराट कोहली के प्रतिद्वंदी हों लेकिन उनसे सीखने में कोई हर्ज नहीं है. जानिए विराट कोहली को जो रूट से क्या सीखना चाहिए ताकि उनके बल्ले से भी शतक निकले.

जो रूट के फुटवर्क से सीखना होगा
जो रूट के लिए लीड्स में शतक बनाना थोड़ा आसान जरूर था. ओपनर हसीब हमीद और रॉरी बर्न्स ने अच्छी शुरुआत दे दी थी. गेंद थोड़ी पुरानी थी जिसपर रूट आते ही सेट हो गए लेकिन इंग्लैंड में आपको फिर भी शतक लगाने के लिए स्पेशल बल्लेबाजी करनी होती है जो कि इंग्लिश कप्तान ने किया. जो रूट की सबसे खास बात ये रही कि वो पारी की शुरुआत में गेंद पर ड्राइव लगाने से बचते नजर आए. वो गेंद को काफी लेट खेले और उन्होंने उसे बल्ले तक आने दिया. मतलब उन्होंने फ्रंटफुट से ज्यादा अपने पिछले पांव का इस्तेमाल किया और इसी वजह से गेंद को वो काफी देरी से खेलने में कामयाब रहे. पूर्व क्रिकेटर अजित अगरकर ने भी कमेंट्री के दौरान ये बताया कि इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने फ्रंटफुट की गेदों को भी बैकफुट पर खेलने की कोशिश की और वो स्विंग और सीम पर काबू करने में कामयाब रहे.

विराट को पीछे वार करना जरूरी!
जो रूट के शॉट सेलेक्शन से भी विराट कोहली को काफी कुछ सीखने की जरूरत है. एक ओर जहां विराट कोहली वी एरिया में रन बनाने की कोशिश करते दिख रहे हैं. उनका फेवरेट शॉट कवर ड्राइव है और वो क्रीज पर आते ही इसे खेलने की कोशिश कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर इंग्लैंड के कप्तान रूट इसके बिल्कुल उलट कर रहे हैं. जो रूट ने लीड्स में थर्डमैन, प्वाइंट की ओर ज्यादा शॉट खेले. मतलब रूट ने विकेट के आगे से ज्यादा पीछे की ओर रन बनाने की कोशिश की.

विराट कोहली के स्टांस में दिक्कत?
साल 2014 में जब विराट कोहली इंग्लैंड दौरे पर बुरी तरह फ्लॉप साबित हुए थे तो उन्होंने भारत आकर सबसे पहले अपने बल्लेबाजी स्टांस पर काम किया था. साल 2018 में उन्होंने इंग्लैंड में 2 शतक ठोके लेकिन अब एक बार फिर विराट कोहली के स्टांस में कुछ कमी नजर आ रही है. शायद यही वजह है कि दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने उन्हें सचिन से बात करने की सलाह भी दे दी है. वैसे कोहली का मौजूदा बल्लेबाजी स्टांस 2018 से काफी अलग है.

विराट कोहली के स्टांस में दिक्कत है?

IND VS ENG: जो रूट के शतक में उड़े कई रिकॉर्ड, भारत के खिलाफ सैकड़ा लगाना बाएं हाथ का खेल!

लाइव मैच के दौरान एक ग्राफिक्स के जरिए कोहली के स्टांस में अंतर दिखाया गया. 2021 में कोहली के कंधे और पांव ज्यादा खुले हुए हैं. साथ ही उनका शरीर मिड ऑन की ओर ज्यादा घूमा हुआ है. यही वजह है कि विराट कोहली ड्राइव खेलने की ज्यादा कोशिश कर रहे हैं और नतीजा उन्हें नाकामी मिल रही है. दूसरी ओर जो रूट इससे बिल्कुल उलट सीधे खड़े हुए हैं. उनके पांव कम खुले हैं और वो क्रीज की गहराई का इस्तेमाल कर रहे हैं. साफ है विराट कोहली को जल्द से जल्द अपनी बल्लेबाजी पर काम करना होगा. क्योंकि बिन विराट की बल्लेबाजी के इंग्लैंड में सीरीज जीतना टीम इंडिया के लिए इतना आसान नहीं होगा.

Tags: Cricket news, India vs England 2021, India vs England Test Series, Joe Root, Joe Root Virat Kohli

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर