India vs England: दुनिया के सबसे बड़े स्टेडियम में इंग्लैंड ने बनाया सबसे छोटा स्कोर, भारत को जीत के चाहिए सिर्फ 49 रन

भारत ने इंग्लैंड की दूसरी पारी सिर्फ 81 रनों पर समेट दी. (फोटो-PTI)

भारत ने इंग्लैंड की दूसरी पारी सिर्फ 81 रनों पर समेट दी. (फोटो-PTI)

India vs England: इंग्लैंड ने भारत के सामने जीत के लिए सिर्फ 49 रनों का लक्ष्य रखा है. टेस्ट क्रिकेट इतिहास में इंग्लैंड ने अपना दूसरा सबसे छोटा स्कोर बनाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 25, 2021, 7:05 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत और इंग्लैंड के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का तीसरा मुकाबला मोटेरा में खेला जा रहा है. मैच के दूसरे दिन ही इंग्लैंड की दूसरी पारी सिर्फ 81 रनों पर सिमट गई. दूसरी पारी में अक्षर पटेल ने पांच विकेट, रविचंद्रन अश्विन ने चार और वॉशिंगटन सुंदर ने एक विकेट लिया है. इंग्लैंड ने भारत के सामने जीत के लिए सिर्फ 49 रनों का लक्ष्य रखा है. टेस्ट क्रिकेट इतिहास में इंग्लैंड ने अपना दूसरा सबसे छोटा स्कोर बनाया है. इंग्लैंड दोनों पारियों में सिर्फ 193 रन ही बना सका. इससे पहले इंग्लैंड की टीम ने 1983/84 में न्यूजीलैंड के खिलाफ महज 175 (93 और 82 रन) ही बना सकी थी.

इंग्लैंड ने भारत के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में अपना न्यूनतम स्कोर बनाया है. भारत के खिलाफ इंग्लैंड की टीम ने लगातार 5वीं पारी में 200 से कम स्कोर बनाया है. चेन्नई में खेले गए पहले टेस्ट की दूसरी पारी में इंग्लैंड की टीम ने 178 रन बनाए थे. चेन्नई में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में 134 और 164 रन बनाकर आउट हो गई थी. इसके बाद मोटेरा में तीसरे टेस्ट में इंग्लैंड की पारी 112 रनों पर सिमट गई.

अश्विन के 400 विकेट पूरे
पिछले एक दशक से अपनी बलखाती गेंदों से दुनियाभर के बल्लेबाजों को चकमा देने वाले भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन गुरुवार को यहां 400 विकेट लेने वाले गेंदबाजों के विशिष्ट क्लब में शामिल हो गये. अश्विन ने जोफ्रा आर्चर का विकेट लेकर यह उपलब्धि हासिल की. उन्हें इस मुकाम पर पहुंचने के लिये इस मैच से पहले छह विकेट की जरूरत थी. अश्विन ने पहली पारी में तीन विकेट लिये थे. आर्चर को पगबाधा आउट करने से पहले उन्होंने गुरुवार को बेन स्टोक्स और ओली पोप को पवेलियन भेजा था. अश्विन टेस्ट मैचों में 400 विकेट लेने वाले दुनिया के 16वें और भारत के चौथे गेंदबाज बन गये हैं. वह छठे स्पिनर हैं जिन्होंने टेस्ट मैचों में 400 विकेट लिये हैं.
भारत की तरफ से उनसे पहले अनिल कुंबले (619), कपिल देव (434) और हरभजन सिंह (417) इस मुकाम पर पहुंचे थे. अश्विन से पहले यह उपलब्धि हासिल करने वाले स्पिनरों में मुथैया मुरलीधरन (800), शेन वार्न (708), कुंबले, रंगना हेराथ (433) और हरभजन शामिल हैं. अश्विन ने अपने 77वें मैच में यह उपलब्धि हासिल की और इस तरह से मुरलीधरन (72) मैच के बाद सबसे तेज इस मुकाम पर पहुंचे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज