IND VS ENG: रविचंद्रन अश्विन ने कहा- रोहित शर्मा को वर्ल्ड कप जीतते देखना चाहता हूं

रोहित शर्मा को वर्ल्ड कप जीतते देखना चाहते हैं अश्विन (फोटो: PTI)

रोहित शर्मा को वर्ल्ड कप जीतते देखना चाहते हैं अश्विन (फोटो: PTI)

रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने भारत-इंग्लैंड टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा 32 विकेट चटकाए, वो मैन ऑफ द सीरीज बने

  • Share this:
नई दिल्ली. अपनी फिरकी से अंग्रेजों की नाक में दम करने वाले रविचंद्रन अश्विन ने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बाद बड़ी बात कह दी है. अश्विन (Ravichandran Ashwin)  ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने के बाद कहा कि वो रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को वर्ल्ड कप जीतते देखना चाहते हैं. रोहित शर्मा ने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में भारत की ओर से सबसे ज्यादा रन बनाए जिसके बाद अश्विन ने उनकी जमकर तारीफ की.

आर अश्विन ने मीडिया से बातचीत में कहा, 'रोहित शर्मा जो कुछ टेस्ट क्रिकेट में कर रहे हैं उससे कोई हैरान नहीं होगा. मैं चाहता हूं कि वो वर्ल्ड कप जीतें.' बता दें रोहित शर्मा को साल 2011 वर्ल्ड कप की भारतीय टीम में जगह नहीं मिली थी. उनकी जगह यूसुफ पठान को चुना गया था. हालांकि अब रोहित शर्मा के पास टेस्ट का वर्ल्ड कप जीतने का मौका है. रोहित शर्मा के दमदार प्रदर्शन की बदौलत भारतीय टीम अब 18 जून को न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलेगी. ये मुकाबला लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर होगा.

IND VS ENG: पहले टेस्ट मैच में हार के बावजूद 3-1 से सीरीज जीता भारत, ये रहे जीत के 5 हीरो



रोहित शर्मा का सीरीज में प्रदर्शन
रोहित शर्मा ने मौजूदा टेस्ट सीरीज में भारत की ओर से सबसे ज्यादा 4 मैचों में 345 रन बनाए. उन्होंने एक शतक और एक अर्धशतक लगाया. रोहित शर्मा का बल्लेबाजी औसत भी 57.50 रहा. एक ओर जहां विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा का डिफेंस स्पिन फ्रेंडली विकेटों पर नाकाम साबित हुआ वहां रोहित शर्मा ने जबर्दस्त पारियां खेली.

आर अश्विन ने दिखाया कमाल
भारतीय ऑफ स्पिनर आर अश्विन ने भी टेस्ट सीरीज में कमाल दिखाया. उन्होंने चार टेस्ट में 32 विकेट अपने नाम किये. अश्विन को मैन ऑफ द सीरीज अवॉर्ड चुना गया. अश्विन ने इस जीत के बाद कहा कि वो भारत को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने पर बेहद खुश हैं. अश्विन ने कहा कि आईसीसी ने बीच टूर्नामेंट में इसका अंक सिस्टम बदल दिया जिससे कि भारत को अच्छे खेल के बावजूद फाइनल में पहुंचने के लिए अंत तक संघर्ष करना पड़ा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज