IND VS ENG: रोहित शर्मा बोले- एमएस धोनी की जगह लेने के लिए जरूरत से ज्यादा तैयार हैं ऋषभ पंत

रोहित शर्मा को वर्ल्ड कप जीतते देखना चाहते हैं अश्विन (फोटो: PTI)

रोहित शर्मा को वर्ल्ड कप जीतते देखना चाहते हैं अश्विन (फोटो: PTI)

ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने अहमदाबाद टेस्ट के दूसरे दिन 101 रनों की पारी खेली, रोहित शर्मा ने जमकर तारीफ की.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत और इंग्लैंड के बीच चौथे टेस्ट का दूसरा दिन ऋषभ पंत (Rishabh Pant) के नाम रहा. बाएं हाथ के इस विकेटकीपर-बल्लेबाज ने 101 रनों की तूफानी शतकीय पारी खेली. पंत ने छक्का लगाकर अपना तीसरा टेस्ट शतक पूरा किया और उनकी इस पारी ने टीम इंडिया के फैंस ही नहीं बल्कि रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को भी उनका मुरीद बना दिया है. रोहित शर्मा ने पंत के इस शतक को बेहद खास बताया.

रोहित शर्मा ने कहा, ऋषभ पंत का ये शतक इसलिए खास है क्योंकि जब वो क्रीज पर आए थे तो टीम की हालत अच्छी नहीं थी. पंत की इस पारी में हर अंदाज दिखा. रोहित ने कहा कि पंत ने पहले क्रीज पर धैर्य से बल्लेबाजी की और उसके बाद मौका मिलने पर अपने शॉट खेले. पंत ने टीम को अच्छी स्थिति में पहुंचा दिया.

सुंदर और पंत ने दिखाया गजब का खेल-रोहित

रोहित शर्मा ने बताया कि सुंदर और पंत ने टीम की रणनीति के मुताबिक ही बल्लेबाजी की. उन्होंने कहा, 'वॉशिंगटन सुंदर और पंत को ये संदेश दिया गया था कि पहले उनके स्कोर तक पहुंचा जाए और उसके बाद अपने शॉट खेले जाएं. उन्होंने दमदार पारी खेली. ऋषभ पंत ने खुद को साबित किया है और वो एमएस धोनी की जगह लेने के लिए बिलकुल तैयार हैं.'
रोहित शर्मा ने आगे कहा, 'पंत का खेलने का अपना तरीका है और टीम इंडिया मैनेजमेंट उन्हें वक्त-वक्त पर मैसेज भेजती रहती है. कैसे उन्हें खेलना चाहिए लेकिन वो अपने ही स्टाइल में ही खेलते हैं और हमें इसकी खुशी है. वो अपना काम करते हैं यही सबसे ज्यादा जरूरी है. अपनी पारी के पहले चरण में उन्होंने अच्छी गेंदों का सम्मान किया. 200 रन पूरे होने के बाद उन्होंने गेंदबाजों पर धावा बोल दिया.'

यह भी पढ़ें: IND VS ENG: ऋषभ पंत हैं टीम इंडिया के नए संकटमोचक, 5 बेमिसाल पारियां हैं सबूत

रोहित शर्मा आगे बोले, 'ऋषभ पंत के आउट होने पर किसी तरह का मुद्दा नहीं बनना चाहिए क्योंकि वो ऐसे ही खिलाड़ी हैं. वो हमेशा शॉट खेलेंगे और आउट भी होंगे लेकिन टीम इंडिया को उनके जैसे खिलाड़ी की जरूरत है जो बेखौफ क्रिकेट खेल विरोधी टीम पर दबाव डालें. पंत को ऐसी स्वतंत्रता देने की जरूरत है आज देखिए उन्होंने टीम को कहां पहुंचा दिया और ऑस्ट्रेलिया में भी उन्होंने ऐसा ही किया था.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज