IND VS ENG: रोहित शर्मा बोले-अहमदाबाद की पिच पर रन बनाने का जज्बा चाहिए होता है

IND VS ENG: रोहित शर्मा ने अहमदाबाद की पिच को बताया सामान्य(.फोटो: PTI)

IND VS ENG: रोहित शर्मा ने अहमदाबाद की पिच को बताया सामान्य(.फोटो: PTI)

अहमदाबाद की पिच पर लगातार कई क्रिकेट दिग्गज सवाल खड़े कर रहे हैं लेकिन भारतीय कप्तान विराट कोहली और ओपनर रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने इस पिच को सामान्य बताया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 26, 2021, 5:49 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत की इंग्लैंड पर 10 विकेट की जीत के बाद से अहमदाबाद की पिच पर सवाल खड़े हो रहे हैं. तीसरा टेस्ट महज 2 दिन में खत्म हुआ और खेल के दूसरे दिन 17 विकेट गिरे जिसके बाद कई क्रिकेट एक्सपर्ट ने इस पिच को खराब बताया. हालांकि भारतीय ओपनर रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को ऐसा नहीं लगता. उन्होंने इस पिच को सामान्य करार देते हुए कहा कि ऐसी पिच पर रन बनाने के लिए जज्बे की जरूरत होती है. भारतीय बल्लेबाज रोहित शर्मा ने पहली पारी में अपने अर्धशतक के लिये अपने सकारात्मक रवैये को श्रेय दिया कि उन्होंने ‘दिलचस्प’ नहीं बल्कि ‘सामान्य’ विकेट पर सिर्फ डटे रहने की कोशिश नहीं की बल्कि रन बनाने का प्रयास भी किया जिस पर इंग्लैंड को 10 विकेट से हार का सामना करना पड़ा.

इस सीनियर सलामी बल्लेबाज ने भारत के लिये मैच की एकमात्र अर्धशतकीय पारी खेली जबकि घरेलू टीम के स्पिनरों ने 19 विकेट झटके. इंग्लैंड के बल्लेबाजों को अक्षर पटेल की सीधी गेंदों ने चकमा दिया जो टर्न लेने के बजाय सीधे ‘स्किड’ कर रही थीं. रोहित ने मैच के समाप्त होने के बाद वर्चुअल कांफ्रेंस में कहा, 'जब आप ऐसी पिच पर खेलते हो तो आपके अंदर जज्बा होना चाहिए और साथ ही आपको रन बनाने की कोशिश भी करनी चाहिए. आप सिर्फ ब्लॉक नहीं कर सकते. जैसा कि आपने देखा कि कोई कोई गेंद टर्न भी ले रही थी और जब आप टर्न के लिये खेलते तो कोई गेंद स्टंप की ओर ‘स्किड’ (फिसल) भी रही थी.'

अहमदाबाद जैसी पिचों पर रन बनाने की कोशिश करनी चाहिए-रोहित शर्मा
रोहित को लगता है कि 66 रन की पारी के दौरान वह इंग्लैंड के गेंदबाजों से दो कदम आगे थे. उन्होंने कहा, 'आपको कभी कभार थोड़ा आगे रहकर रन बनाने के तरीके ढूढने की कोशिश करने की जरूरत होती है. मेरी इच्छा सिर्फ टिकने की नहीं थी बल्कि रन बनाने की कोशिश करने की भी थी जिसमें अच्छी गेंदों को सम्मान करना भी शामिल था. बस मैंने इतना ही करने की कोशिश की.'
यह भी पढ़ें: IND vs ENG: पिता से उधार लेकर खेला क्रिकेट, जानें क्यों पंत ने अक्षर को कहा 'जयसूर्या'



हरभजन-लक्ष्मण ने पिच को बताया खराब, गावस्कर सहमत नहीं
भारत के हरभजन सिंह और वीवीएस लक्ष्मण सहित कई पूर्व खिलाड़ियों ने गुरुवार को कहा कि मोटेरा की टर्निंग पिच टेस्ट क्रिकेट के लिये आदर्श नहीं है लेकिन दिग्गज सुनील गावस्कर की राय इसके विपरीत है. गावस्कर ने कहा कि बल्लेबाजों ने बेहद रक्षात्मक रवैये के कारण अपने विकेट गंवाये और उनमें से अधिकतर सीधी गेंदों पर आउट हुए. गावस्कर ने जीत का श्रेय भारतीय स्पिनरों अश्विन और पटेल को दिया. उन्होंने कहा, 'इसी पिच पर रोहित और क्राउली ने अर्धशतक जमाये. इंग्लैंड रन बनाने के बजाय विकेट बचाये रखने के बारे में सोच रहा था. अक्षर पटेल को श्रेय देना चाहिए जिस तरह से उसने खास गेंदों का उपयोग किया. अश्विन और अक्षर का प्रदर्शन शानदार था. ' पूर्व बल्लेबाज लक्ष्मण ने कहा, 'यह टेस्ट मैच के लिये आदर्श पिच नहीं थी. यहां तक कि भारतीय बल्लेबाज भी नहीं चले. ' भारत की तरफ से 400 विकेट लेने वाले गेंदबाजों में शामिल हरभजन का भी ऐसा मानना था. इस 40 वर्षीय ऑफ स्पिनर ने कहा, 'यह आदर्श पिच नहीं थी. अगर इंग्लैंड अपनी पहली पारी में 200 रन बना लेता तो भारत भी संकट में होता. लेकिन दोनों टीमों के लिये पिचें समान हैं. '
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज