IND VS ENG: भारतीय टेस्ट टीम में इन 3 खिलाड़ियों को मिलना चाहिए मौका, कामयाबी चूमेगी कदम

India vs England Test Series: टीम इंडिया में 3 बड़े बदलाव करने का वक्त (AFP)

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल (WTC Final) गंवाने के बाद अब भारतीय टीम इंग्लैंड (India vs England) के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी जिसके लिए उसे मजबूत प्लेइंग इलेवन बनानी होगी.

  • Share this:
    नई दिल्ली. वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल (WTC Final) में भारतीय क्रिकेट टीम को करारी हार मिली. पूरे टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन करने वाली भारतीय टीम फाइनल में लड़खड़ा गई और न्यूजीलैंड पहला वर्ल्ड टेस्ट चैंपियन बनने में कामयाब रहा. टीम इंडिया की हार की बड़ी वजह उसका गलत प्लेइंग इलेवन का चयन और बड़े खिलाड़ियों की खराब फॉर्म रही. बता दें लगातार फ्लॉप होने के बावजूद कुछ खिलाड़ियों को मौका दिया जा रहा है लेकिन वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की हार के बाद अब टीम में बदलाव करने का वक्त आ गया है. भारत को इंग्लैंड (India vs England Test Series) के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है जिसमें जीत हासिल करने के लिए विराट कोहली और टीम मैनेजमेंट को कुछ बड़े फैसले लेने होंगे.

    टीम इंडिया की मौजूदा प्लेइंग इलेवन पर नजर डालें तो उसके तीन खिलाड़ी बेहद कमजोर कड़ी दिखाई देते हैं. शुभमन गिल (Shubman Gill) टैलेंटेड जरूर हैं लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज, आईपीएल और फिर वर्ल्ड टेस्ट सीरीज के फाइनल में वो पूरी तरह फ्लॉप साबित हुए. चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) तो पिछले दो सालों से खराब फॉर्म में हैं. वर्ल्ड टेस्ट सीरीज में उनका औसत महज 28 का है. वहीं इंग्लैंड में जिस तरह की पिच बनती हैं उसके मुताबिक टीम इंडिया को तेज गेंदबाजी करने वाला ऑलराउंडर चाहिए और इसमें रवींद्र जडेजा फिट बैठते नहीं दिखाई देते. आइए आपको बताते हैं कि टीम इंडिया को इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में किन 3 खिलाड़ियों को मौका देना चाहिए.

    मयंक अग्रवाल की वापसी जरूरी- दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने टेस्ट क्रिकेट में अबतक जबर्दस्त प्रदर्शन किया है. लेकिन 2-3 टेस्ट मैचों में फ्लॉप होने के बाद ही उन्हें प्लेइंग इलेवन ही नहीं बल्कि टेस्ट के 15 खिलाड़ियों की लिस्ट से भी बाहर कर दिया गया. शुभमन गिल को मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) जगह ओपनिंग का मौका मिला और वो ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद बुरी तरह नाकाम रहे हैं. अब टीम इंडिया को चाहिए कि मयंक अग्रवाल को दोबारा ओपनिंग का मौका दिया जाए. मयंक अग्रवाल ने अबतक 14 टेस्ट मैचों में 45.73 की औसत से 1052 रन बनाए हैं. जिसमें 3 शतक भी शामिल हैं. मयंक अग्रवाल ने 2 दोहरे शतक भी ठोके हैं. हाल ही में मयंक अग्रवाल ने आईपीएल 2021 में भी कमाल की बल्लेबाजी की थी.



    केएल राहुल की वापसी जरूरी- इंग्लैंड में अच्छी बल्लेबाजी के लिए बेहतर तकनीक की जरूरत होती है और भारतीय क्रिकेट टीम में केएल राहुल (KL Rahul) से अच्छी तकनीक शायद ही किसी दूसरे बल्लेबाज की हो. इस वक्त चेतेश्वर पुजारा बेहद खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं ऐसे में टीम इंडिया को अब एक बार फिर केएल राहुल को मौका देना चाहिए. केएल राहुल ने बतौर ओपनर टेस्ट करियर का आगाज किया था. लेकिन ये बल्लेबाज नंबर 3 पर भी बल्लेबाजी कर सकता है. केएल राहुल ने 36 टेस्ट मैचों में 2006 रन बनाए हैं और उनके नाम 5 शतक भी हैं. केएल राहुल के पास फॉर्म भी है जिसका सबूत उन्होंने आईपीएल 2021 मे दिया है. इंग्लैंड के खिलाफ केएल राहुल का टेस्ट औसत 58.25 है और वो उसके खिलाफ एक टेस्ट शतक भी लगा चुके हैं. वैसे हनुमा विहारी को भी नंबर 3 पर मौका दिया जा सकता है लेकिन काउंटी सीजन में वो भी काफी संघर्ष करते नजर आए थे.

    WTC Final: विराट कोहली का न्यूजीलैंड की वेबसाइट ने किया अपमान, गले में डाला पट्टा!

    शार्दुल ठाकुर हैं ऑलराउंडर का विकल्प- इंग्लैंड की परिस्थितियों में तेज गेंदबाजी के साथ-साथ लोअर ऑर्डर में अच्छी बल्लेबाजी करने का हुनर सिर्फ और सिर्फ शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) के पास है. शार्दुल ठाकुर गेंद को स्विंग कराना जानते हैं और अपनी बल्लेबाजी का जलवा वो ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ गाबा टेस्ट में दिखा चुके हैं. शार्दुल ठाकुर ने अबतक 2 टेस्ट मैचों में 7 विकेट झटके हैं. वहीं बल्लेबाजी में वो एक अर्धशतक की मदद से 73 रन बना चुके हैं. इंग्लैंड की पिचों पर ये खिलाड़ी टीम इंडिया का तुरुप का इक्का साबित हो सकता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.