• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • CRICKET INDIA VS NEW ZEALAND BOWLING COMPARISON WTC FINAL

WTC Final: भारत-न्यूजीलैंड में से किसकी गेंदबाजी है ज्यादा मजबूत?

WTC Final: भारत-न्यूजीलैंड में से किसकी गेंदबाजी ज्यादा मजबूत (फोटो-AFP)

भारत और न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) के बीच 18 जून को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मैच खेला जाएगा, जानिये किस टीम की गेंदबाजी ज्यादा मजबूत है?

  • Share this:
    नई दिल्ली. वैसे तो क्रिकेट अब बल्लेबाजों का खेल बनकर रह गया है लेकिन टेस्ट क्रिकेट में ऐसा नहीं है. टेस्ट क्रिकेट में जिस टीम के गेंदबाज 20 विकेट निकालने का दम रखते हैं जीत की संभावना उसी की ज्यादा होती है. कुछ ऐसा ही देखने को मिल सकता है वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल (WTC Final) मैच में, जिसमें भारत और न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) की टक्कर होगी. 18 जून को साउथैंप्टन के मैदान पर ये दोनों टीमें खिताब जीतने के लिए उतरेंगी. यकीन मानिए कौन सी टीम चैंपियन बनेगी इसका फैसला उसके गेंदबाज ही करने वाले हैं.

    दिलचस्प बात ये है कि भारत और न्यूजीलैंड दोनों ही टीमों की गेंदबाजी बेहद मजबूत है. खासतौर पर तेज गेंदबाजी के मोर्चे पर दोनों ही टीमों के पास ऐसे दमखम है कि अच्छे-अच्छे बल्लेबाज उनके आगे नहीं टिक पाते. वैसे टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मैच से पहले भारतीय टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने दावा किया है कि टीम इंडिया की गेंदबाजी न्यूजीलैंड से ज्यादा मजबूत है. मोहम्मद शमी की ये बात कितनी सही है? जानिए इस रिपोर्ट में.

    भारत-न्यूजीलैंड में से किसकी गेंदबाजी ज्यादा मजबूत?
    सबसे पहले अगर भारतीय टीम की गेंदबाजी को देखें तो उसके पास जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज, उमेश यादव जैसे तेज गेंदबाज हैं. इस बॉलिंग अटैक में तेजी, स्विंग और सीम कराने वाले गेंदबाज हैं. न्यूजीलैंड का अटैक भी इससे अलग नहीं. टिम साउदी, ट्रेंट बोल्ट और नील वैगनर के तौर पर उसके पास तीन वर्ल्ड क्लास गेंदबाज हैं जो अतिरिक्त उछाल के साथ गेंद को स्विंग भी कराते हैं. अब तो कीवी टीम में काइल जेमीसन भी आ गए हैं जिनके पास तेजी और बाउंस दोनों है.

    क्या कहते हैं वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के आंकड़े
    वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में भारतीय गेंदबाजों का प्रदर्शन न्यूजीलैंड से बेहतरीन रहा है. भारत के लिए सबसे ज्यादा 67 विकेट आर अश्विन ने लिये हैं. लेकिन अगर तेज गेंदबाजों की बात करें तो शमी-इशांत ने 36-36 विकेट अपने नाम किये हैं और बुमराह ने महज 9 मैचों में 34 विकेट अपने नाम किये हैं. जडेजा ने 28 और अक्षर पटेल ने 27 शिकार किये हैं.

    राहुल द्रविड़ को इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भी बनाएं 'स्पेशल कोच', अर्श पर पहुंच जाएगी टीम इंडिया!

    न्यूजीलैंड के गेंदबाजों की बात करें तो 10 मैचों में 51 विकेट लेकर टिम साउदी टॉप पर हैं. वहीं काइल जेमिसन ने महज 6 मैचों में 36 विकेट चटकाए हैं. नील वैगनर को 7 मैचों में 32 और ट्रेंट बोल्ट को 9 मैचों में 34 विकेट मिले हैं. यहां गौर करने वाली बात ये है कि कीवी टीम अपने तेज गेंदबाजों पर ही ज्यादा आश्रित दिखती है, जबकि भारतीय टीम दोनों मोर्चे पर मजबूत दिखाई दे रही है. माना कि वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल साउथैंप्टन में है जहां गेंद स्विंग होती दिखेगी लेकिन जब इंग्लैंड में धूप आती है तो उसके बाद स्पिनर्स का रोल बढ़ जाता है. इसमें कोई दो राय नहीं है कि न्यूजीलैंड और भारत दोनों ही टीमें फाइनल में इसलिए पहुंची हैं क्योंकि उसके गेंदबाजों ने जोरदार प्रदर्शन किया है. अब देखना ये है कि खिताबी मुकाबले में किसके गेंदबाज ज्यादा दमदार साबित होते हैं.