लाइव टीवी

चाेट के कारण टीम से बाहर रहे, नेट्स में 'रिकॉर्ड' गेंदबाजी कर मैदान पर उतरे, अब भारत के संकटमोचक बने

News18Hindi
Updated: February 22, 2020, 2:39 PM IST
चाेट के कारण टीम से बाहर रहे, नेट्स में 'रिकॉर्ड' गेंदबाजी कर मैदान पर उतरे, अब भारत के संकटमोचक बने
टॉम लाथम के खिलाफ विकेट की अपील करते इशांत शर्मा

इशांत शर्मा (Ishant Sharma) टखने की चोट के कारण करीब महीने भर मैदान से बाहर रहे थे. न्यूजीलैंड इलेवन के खिलाफ वॉर्म अप मैच में भी उन्हें गेंदबाजी करने का मौका नहीं मिल पाया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 22, 2020, 2:39 PM IST
  • Share this:
वेलिंगटन. मेजबान न्यूजीलैंड और भारत (New Zealand vs India) के बीच दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जा रही है. जिसमें भारत की शुरुआत काफी खराब रही और टीम पहली पारी में 165 रन पर सिमट गई. जिसके बाद भारत के तेज गेंदबाज इशांत शर्मा (Ishant Sharma) ने मेजबान के सलामी बल्लेबाजों को जल्दी पवेलियन भेजकर भारत को शुरुआत तो अच्छी दिलाई, मगर इसके बाद कीवी कप्तान केन विलियमसन ने पारी को संभाल लिया.

हालांकि जिस टीम के खिलाफ बाकी भारतीय गेंदबाज 58 ओवर तक पूरी तरह से फ्लॉप रहे, वहीं इशांत ने भारत को शुरआती तीन सफलता दिलाई. जिसमें दोनों सलामी बल्लेबाज टॉम लाथम और टॉम ब्लंडेल शामिल हैं, वहीं अपना 100वां टेस्ट मैच खेल रहे रॉस टेलर का अहम विकेट भी लिया. चोट और रिहै‌बिलिटेशन के कारण करीब एक महीने तक मैदान से बाहर रहे इशांत को न्यूजीलैंड दौरे पर वॉर्म अप मैच में भी गेंदबाजी का मौका नहीं मिल पाया था और वह सीधे वेलिंगटन में मैच खेलने उतरे, जहां वह टीम के अभी तक एकमात्र संकटमोचक साबित हुए. इशांत को विदर्भ के खिलाफ रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) के मुकाबले में टखने में चोट लग गई थी. जिस वजह से वह 19 जनवरी के बाद से कोई मैच नहीं खेल पाए. हालांकि न्यूजीलैंड के खिलाफ उनके उतरने की संभावना भी कम दिख रही थी, मगर एनसीए में चोट से जल्द ही उबरकर उन्होंने फिटनेस टेस्ट पास किया और फिर न्यूजीलैंड के लिए उड़ान भरी.  ‌

नेट्स सेशन में की सबसे ज्यादा गेंदबाजी
करीब महीने भर मैदान से बाहर रहने के बाद इशांत को न्यूजीलैंड (New Zealand) के खिलाफ 14 फरवरी को खेले गए वॉर्म अप मैच में भी गेंदबाजी का मौका नहीं मिल पाया था . हालांकि उन्होंने वेलिंगटन के मैदान पर केन विलियमसन, रॉस टेलर को चुनौती देने के लिए नेट्स सेशन में जमकर पसीना बहाया था, जिसका नतीजा शनिवार को देखने को मिला. इशांत ने नेट्स में करीब एक घंटे 15 मिनट तक गेंदबाजी की थी. उस समय नेट्स में कोई और गेंदबाज उनसे अधिक गेंदबाजी नहीं कर पाया था.



इशांत ने टॉम लाथम (11) और टॉम ब्लंडेल (30) को अपना शिकार बनाकर न्यूजीलैंड को 73 रन पर शुरुआती दाे झटके दिए. इसके बाद उन्होंने रॉस टेलर (44) को आउट करके केन विलियमसन (89) के साथ उनकी 93 रन की साझेदारी को तोड़कर भारत को बड़ी सफलता दिलाई. इशांत के लिए यह मुकाबला काफी खास भी है, क्योंकि यह उनका 97वां इंटरनेशनल टेस्ट मैच है और अगर उनकी जर्सी पर ध्यान दें तो उनकी टेस्ट जर्सी का नंबर भी 97 ही है. भारत के इस तेज गेंदबाज ने पिछली बार 2014 में वेलिंगटन में मेजबान के खिलाफ 6 विकेट लिए थे.

LIVE मैच में खुलेआम फिक्सिंग कर रहे थे पाकिस्तानी खिलाड़ी! शोएब ने दिखाया सबूत

वकील बनना चाहता था, डेब्यू में बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड अब हैट्रिक लेकर किया धमाल

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 22, 2020, 11:11 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर