वेलिंगटन टेस्ट में हार के बाद इस खिलाड़ी पर गिर सकती है गाज, होगा टीम से बाहर?

साल के आखिर में भारत को ऑस्‍ट्रेलिया का दौरा करना है.

भारतीय टीम को न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) ने वेलिंगटन टेस्ट में 10 विकेट से हराया, अब 29 फरवरी से शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट मैच के लिए टीम इंडिया बड़ा बदलाव कर सकती है

  • Share this:
    वेलिंगटन. न्यूजीलैंड दौरे का जितना शानदार आगाज टीम इंडिया (India Vs New Zealand) ने किया था उसका अंत उतना ही खराब हो रहा है. न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में क्लीन स्वीप झेलने के बाद भारतीय टीम 2 टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मैच 10 विकेट से हार गई. भारतीय टीम दोनों पारियों में 200 रनों का आंकड़ा भी नहीं छू सकी. हार के बाद कप्तान विराट कोहली ने बल्लेबाजों के रक्षात्मक रवैये पर सवाल खड़े कर दिये. साफतौर पर इस हार की वजह से ड्रेसिंग रूम के माहौल में थोड़ी हलचल मची होगी. अब जो बीत गई सो बात गई लेकिन अब यहां सवाल ये है कि भारतीय टीम कैसे इस सीरीज में वापसी करेगी. अगला टेस्ट मैच 29 फरवरी से क्राइस्टचर्च में खेला जाएगा और मुमकिन है कि विराट कोहली अपनी प्लेइंग इलेवन में बदलाव करें. ऐसा माना जा रहा है कि आर अश्विन (R Ashwin) को प्लेइंग इलेवन से बाहर किया जा सकता है, आइए जानते हैं ऐसा क्यों है?

    अश्विन होंगे बाहर?
    आर अश्विन (R Ashwin) ने टीम इंडिया में अपनी जगह बतौर ऑफ स्पिनर नहीं बल्कि एक ऑलराउंडर के तौर पर बनाई थी. अश्विन ने टेस्ट में 4-4 शतक ठोके हैं. मगर अश्विन की बल्लेबाजी की वो फॉर्म गायब हो गई है, जिसका नुकसान भारतीय टीम को उठाना पड़ रहा है. अश्विन जब बेसिन रिजर्व की पिच पर दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने आए थे तो उनका औसत साल 2017 से महज 17.78 था. जबकि उससे पहले उनका औसत 34.92 था. वेलिंगटन टेस्ट की पहली पारी में अश्विन पहली ही गेंद पर बोल्ड हो गए और दूसरी पारी में वो महज 4 रन बना सके. साल 2017 के बाद से अश्विन 20वीं बार 30 गेंद खेलने से पहले ही निपट गए. इस दौरान उन्होंने 6 पारियां ऐसी खेली हैं जिसमें उन्होंने 30 से 50 गेंदों का सामना किया है.

    उनकी सबसे बड़ी पारी अगस्त 2017 में श्रीलंका के खिलाफ आई थी जब अश्विन ने 54 रन बनाए थे. साल 2017 से लेकर आजतक अश्विन ने 36 टेस्ट पारियों में महज 17.36 की औसत से 573 रन बनाए हैं, जिसमें उनके बल्ले से एक शतक भी आया है. लेकिन अश्विन हर 33वीं गेंद पर आउट होते हैं जो कि भारत के लिए बुरी खबर है. ऐसे में मुमकिन है कि अश्विन की बल्लेबाजी की फॉर्म और न्यूजीलैंड की पिचों को देखते हुए विराट कोहली दूसरे टेस्ट में उन्हें प्लेइगं इलेवन से बाहर करें.

    अश्विन की जगह कौन लेगा?
    अब सवाल ये है कि अश्विन की जगह प्लेइंग इलेवन में कौन शामिल होगा? इस सवाल का एक ही जवाब है- रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja). एक तरफ जहां अश्विन का बल्ला उनसे रूठा हुआ है, वहीं जडेजा का बल्ला रनों का अंबार लगा रहा है. जडेजा ने साल 2017 से अबतक 31 पारियों में 49.8 के धमाकेदार औसत से 996 रन बनाए हैं. इस दौरान उनके बल्ले से 10 शतक और एक शतक निकला है. जडेजा टेस्ट ही नहीं बल्कि क्रिकेट के हर फॉर्मेट में रन बना रहे हैं. इसके अलावा जडेजा की गेंदबाजी भी अच्छी इसलिए है क्योंकि वो ज्यादा रन नहीं खर्च करते हैं और विरोधी बल्लेबाजों पर दबाव बनाकर रखते हैं. हो सकता है क्राइस्टचर्च टेस्ट में जडेजा को अश्विन की जगह प्लेइंग इलेवन में मौका मिले.

    गलत साबित हुए कोहली! शर्मनाक हार के बाद आंकड़ाें ने खोल दी सारी पोल

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.