लाइव टीवी

IND vs NZ: न्यूजीलैंड के खिलाफ 10 विकेट से हार के बाद बोले कप्तान विराट कोहली- फर्क नहीं पड़ता

News18Hindi
Updated: February 24, 2020, 10:51 AM IST
IND vs NZ: न्यूजीलैंड के खिलाफ 10 विकेट से हार के बाद बोले कप्तान विराट कोहली- फर्क नहीं पड़ता
हार के बाद मैदान से बाहर जाते कप्तान विराट कोहली

न्यूजीलैंड (New Zealand) ने पहले टेस्ट मैच में टीम इंडिया (Team India) को 10 विकेट से हरा दिया. विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में भारत की यह पहली हार है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 24, 2020, 10:51 AM IST
  • Share this:
वेलिंगटन. मेजबान न्यूजीलैंड (New Zealand) ने दो टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट मैच में भारत को 10 विकेट के बड़े अंतर से  मात दे दी. विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (ICC World Test Championship) में यह भारत की पहली हार है. सीरीज शुरू होने से पहले किसी को भी उम्मीद नहीं थी कि पहले ही मैच में भारत को इतनी बड़ी हार मिलेगी. दोनों पारियों में भारत का बल्लेबाजी क्रम मेजबान अटैक के सामने धवस्त हो गया. मैच के बाद खुद कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने भी स्वीकार किया कि उनकी टीम ने पर्याप्त प्रतिस्पर्धा नहीं दिखाई.


कोहली ने कहा, 'हम जानते हैं कि हमने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया. मगर यदि लोग इसे बड़ा बनाना चाहते हैं, तिल का ताड़ बनाना चाहते हैं तो वह इसमें कुछ नहीं कर सकते, क्योंकि हम ऐसा नहीं सोचते. हार के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में भारतीय कप्तान ने कहा कि कुछ लोगों के लिए यह हार ऐसी हो सकती है, जैसे दुनिया शायद खत्म हो गई, मगर ऐसा नहीं है. हमारे लिए यह क्रिकेट का एक मैच है. जिसे हम हार गए और आगे बढ़ गए.





कोहली ने कहा कि टीम जानती है कि हार को कैसे स्वीकार करना है. उन्होंने कहा कि हम समझते हैं कि यहां हमने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं किया और इसे स्वीकार करने में कोई शर्म नहीं है, ना ही कोई नुकसान है. हम अगले मैच में अच्छी रणनीति के साथ वापसी करेंगे.




आखिरी के तीन विकेट ने मैच से बाहर किया
कोहली  (Virat Kohli) ने कहा कि अगर 220-230 रन भी बने होते तो इससे अंतर पैदा हो सकता था. गेंदबाजी में हमने अच्छा खेल दिखाया. पहली पारी के खराब प्रदर्शन से हम पिछड़ गए और इसके बाद न्यूजीलैंड (New Zealand) की पहली पारी की बढ़त से हम अधिक दबाव में आ गए. आखिर के तीन विकेट और उन 120 रन ने हमें मैच से बाहर कर दिया था. कोहली ने कहा कि हम उनकी बढ़त 100 रन से कम रखना चाहते थे, लेकिन उनके निचले क्रम के बल्लेबाजों ने जो रन बनाए उससे मुश्किलें बढ़ी. गेंदबाज अब भी अधिक अनुशासित हो सकते हैं, वे अपने गेंदबाजी प्रदर्शन से खुश नहीं थे. पृथ्वी शॉ और मयंक अग्रवाल जैसे युवा बल्लेबाजों के बारे में कोहली ने कहा कि आप शॉ जैसे बल्लेबाजों को लेकर कड़क रवैया नहीं अपना सकते हैं. उनका विदेश में यह पहला टेस्ट मैच था. वह रन बनाने के तरीके ‌निकाल लेंगे. (भाषा इनपुट के साथ)

सिर्फ इन दो को छोड़कर बाकी सभी बल्लेबाजों से नाराज हैं कप्तान कोहली



News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 24, 2020, 10:13 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर