लाइव टीवी

11 हजार रन बनाकर भी नहीं मिली थी टीम में जगह, अब कोच बनकर विराट कोहली की नाक में किया दम!

News18Hindi
Updated: October 4, 2019, 5:16 PM IST
11 हजार रन बनाकर भी नहीं मिली थी टीम में जगह, अब कोच बनकर विराट कोहली की नाक में किया दम!
साउथ अफ्रीका ने तीसरे दिन 385/8 रन बनाए

साउथ अफ्रीका के बल्लेबाजों ने विशाखापत्तनम टेस्ट में सभी को चौंकाते हुए भारतीय स्पिनर्स के खिलाफ अच्छी गेंदबाजी की, जिसके पीछे उनके बैटिंग कोच अमोल मजूमदार (Amol Mazumdar) का भी हाथ है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 4, 2019, 5:16 PM IST
  • Share this:
India vs South Africa: पिच सूखी हो, खेल का तीसरा दिन चल रहा हो, विरोधी टीम में अश्विन और जडेजा जैसे दो बेहतरीन स्पिनर्स हों तो आपको यही लगेगा कि अब बल्लेबाजों की शामत आने वाली है. लेकिन साउथ अफ्रीका ने सभी को चौंकाते हुए जबर्दस्त बल्लेबाजी की. साउथ अफ्रीका के ओपनर डीन एल्गर ने बेहतरीन शतक लगाते हुए 160 रन बनाए. विकेटकीपर डीकॉक ने 111 रनों की पारी खेली. साउथ अफ्रीकी कप्तान फाफ डुप्लेसी ने भी 55 रनों की पारी खेली. अश्विन और जडेजा ने लगातार गेंदबाजी की लेकिन साउथ अफ्रीकी बल्लेबाजों ने संयम से खेलते हुए रनों का अंबार लगा दिया. आप जानते हैं ये सब कैसे हुआ? साउथ अफ्रीकी टीम की अच्छी बल्लेबाजी के पीछे जो दिमाग है वो एक भारतीय है. जी हां, साउथ अफ्रीका के बैटिंग कोच अमोल मजूमदार (Amol Mazumdar) की टिप्स ने साउथ अफ्रीकी बल्लेबाजों को काफी फायदा पहुंचाया है.

मजूमदार का मंत्र
अमोल मजूमदार (Amol Mazumdar) ने सीरीज शुरू होने से पहले साउथ अफ्रीकी बल्लेबाजों के साथ काफी काम किया. उन्होंने साउथ अफ्रीकी बल्लेबाजों के टेम्परामेंट और तकनीक को भारतीय पिचों के हिसाब से ढालने की कोशिश की जिसमें वो सफल भी हुए.

राजस्थान रॉयल्स के बल्लेबाजी कोच भी रह चुके हैं अमोल मजूमदार


इसके अलावा मजूमदार ने साउथ अफ्रीकी बल्लेबाजों के जहन से भारतीय स्पिनर्स का खौफ निकाला. यही वजह है कि साउथ अफ्रीकी टीम ने 5वें और छठे विकेट के लिए दो शतकीय साझेदारियां कर डाली. पहले डुप्लेसी और एल्गर के बीच 115 रनों की साझेदारी हुई और उसके बाद डीकॉक और एल्गर ने मिलकर 164 रन जोड़ डाले.

भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए साउथ अफ्रीका के बैटिंग कोच हैं मजूमदार


अमोल मजूमदार का इतिहास
Loading...

आपको बता दें अमोल मजूमदार भारतीय घरेलू क्रिकेट इतिहास के सबसे अच्छे बल्लेबाजों में से एक थे, उन्होंने मुंबई के लिए खेलते हुए फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 11167 रन बनाए. हालांकि इसके बावजूद उन्हें कभी टीम इंडिया के लिए नहीं चुना गया. साल 2014 में रिटायरमेंट का ऐलान करने के बाद वो कई टीमों के साथ बतौर कोच जुड़े. अमोल (Amol Mazumdar) के पास बीसीसीआई और क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया का हाई परफॉर्मेंस कोचिंग सर्टिफिकेट है. अमोल मजूमदार आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के बल्लेबाजी कोच भी रहे हैं. दिसंबर 2013 में वो नीदरलैंड्स के बल्लेबाजी कोच भी रहे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 4, 2019, 5:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...