लाइव टीवी

IND vs SA: दोहरा शतक लगाने के बाद कोहली ने किया खुलासा, कप्तान बनने से पहले बड़ी पारी न खेल पाने की बताई वजह

भाषा
Updated: October 12, 2019, 8:09 AM IST
IND vs SA: दोहरा शतक लगाने के बाद कोहली ने किया खुलासा, कप्तान बनने से पहले बड़ी पारी न खेल पाने की बताई वजह
विराट कोहली ने अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ नाबाद 254 रन की पारी खेली

दोहरा शतक जड़ने के बाद कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने कहा कि जिम्मेदारी मिलने के बाद आप सिर्फ अपने खेल के बारे में नहीं सोच सकते

  • Share this:
पुणे. भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने कहा कि टीम की अगुआई की जिम्मेदारी ही उन्हें चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में सीमाओं से आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करती है जिससे अंत में बड़े टेस्ट शतक जड़ने में मदद मिलती है. किसी भी भारतीय बल्लेबाज के टेस्ट में कोहली से ज्यादा दोहरे शतक नहीं हैं. भारतीय कप्तान ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट के दूसरे दिन करियर की सर्वश्रेष्ठ 254 रन की नाबाद पारी खेलकर कई रिकॉर्ड अपने नाम किए.

कोहली ने बीसीसीआई (BCCI) डाॅट टीवी से कहा कि अपने करियर में इस तरह की छोटी- छोटी उपलब्धियां हासिल करना अच्छा है, सबसे ज्यादा दोहरे शतक बनाना. उन्होंने कहा कि मुझे शुरू में बड़ा स्कोर बनाने में परेशानी होती थी, लेकिन जैसे ही मैं कप्तान बना तो आप हमेशा हर वक्त टीम के बारे में ही सोचते हो. आप सिर्फ अपने खेल के बारे में नहीं सोच सकते. इसी प्रक्रिया में आप अपनी सोच से ज्यादा बल्लेबाजी कर लेते हो, अब लंबे समय से मानसिकता यही रही है.

Loading...



जडेजा के साथ तेज दौड़ना जरूरी 
अपनी नाबाद पारी के बारे में उन्होंने कहा कि टीम के बारे में सोचने से उन्हें इस गर्मी और उमस भरे हालात में मैराथन पारी खेलने में मदद मिली. उन्होंने कहा कि यह मुश्किल है, लेकिन अगर आप टीम के बारे में सोचते रहते तो आप खुद को उस सीमा से आगे ले जाते हो जो आमतौर पर आम नहीं कर सकते. गर्मी और उमस में यही चीज अहम रही, परिस्थितियां चुनौतीपूर्ण हो तो आप टीम के बारे में सोचते हो और आप तीन-चार घंटे और बल्लेबाजी कर लेते हो. उन्होंने कहा कि यही सबसे चुनौतीपूर्ण चीज थी और फिर रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) बल्लेबाजी के लिए आए और जड्डू के साथ आपको तेज दौड़ना पड़ता है. यह शारीरिक और मानिसक रूप से चुनौतीपूर्ण था लेकिन बतौर अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी आपको तैयार करता है.

अपने दोहरे शतक के बारे में बात करते हुए कोहली ने कहा कि शीर्ष दो दोहरे शतक एंटीगा और मुंबई वाले होंगे, जिसमें से एक इंग्लैंड (England) के खिलाफ था. वैसे सारे दोहरे शतक विशेष होते हैं लेकिन ये दोनों ज्यादा विशेष हैं क्योंकि एक विदेशी सरजमीं पर था और एक इंग्लैंड के खिलाफ चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में, जब बहुत गर्मी और उमस थी.

'सुपरमैन' कोहली का करिश्‍मा, एक दोहरे शतक से तोड़े ये 17रिकॉर्ड

पुणे टेस्‍ट: कोहली का रिकॉर्डतोड़ दोहरा शतक, दक्षिण अफ्रीका के 3 विकेट गिरे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 12, 2019, 8:06 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...