IND W vs SA W: क्‍लीन स्‍वीप से बचने साउथ अफ्रीका के खिलाफ मैदान पर उतरेगी भारतीय महिला टीम

भारतीय महिला टीम पहले ही सीरीज गंवा चुकी है

भारतीय महिला टीम पहले ही सीरीज गंवा चुकी है

भारतीय महिला टीम मंगलवार को साउथ अफ्रीका ने खिलाफ तीसरा और आखिरी टी20 मैच खेलने मैदान पर उतरेगी और उसकी कोशिश जीत के साथ सीरीज का अंत करने की होगी

  • Share this:


लखनऊ. भारतीय महिला टीम सीरीज पहले ही गंवा चुकी है, लेकिन साउथ अफ्रीका के खिलाफ मंगलवार को यहां होने वाला तीसरा और अंतिम टी20 इंटरनेशनल मैच अब भी उसके लिए महत्वपूर्ण है जिसमें वह क्लीन स्वीप से बचकर सकारात्मक अंत करने के लिए मैदान पर उतरेगी. भारतीय टीम ने इससे पहले वनडे सीरीज 1-4 से गंवाई थी और पहले दो टी20 मैचों में भी उसके लिए परिणाम अनुकूल नहीं रहे. साउथ अफ्रीका ने 2-0 की अजेय बढ़त हासिल करके पहली बार भारत के खिलाफ सीरीज जीती है और अब उसकी निगाह क्लीन स्वीप करने पर लगी है.

भारतीय टीम की पिछले एक साल में यह पहली सीरीज है और वह इसमें वनडे विश्व कप की तैयारियों को ध्यान में रखकर उतरी थी, लेकिन चीजें भारत के अनुकूल नहीं रही और उसे सीमित ओवरों के दोनों फॉर्मेट में साउथ अफ्रीका से करारी हार झेलनी पड़ी, जबकि इससे पहले वह इस प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ हमेशा अच्छा प्रदर्शन करता रहा था.

बल्‍लेबाजी और गेंदबाजी में सुधार की जरूरत
भारत को अपनी बल्लेबाजी और गेंदबाजी के अलावा क्षेत्ररक्षण में बहुत सुधार करने की जरूरत है. ऋचा घोष, राजेश्वरी गायकवाड़ और अरूंधति रेड्डी के लचर क्षेत्ररक्षण का भारत ने खामियाजा भुगता है. दीप्ति शर्मा की बल्लेबाजी में नाकामी भारत को भारी पड़ रही है. यही नहीं स्मृति मंधाना की कप्तानी में कमजोरी पहले दो मैचों में खुलकर सामने आई और ऐसे में कुछ भी भारत के अनुकूल नहीं रहा.

भारत पहले मैच में छह विकेट पर 130 रन ही बना पाया था. उसने दूसरे मैच में चार विकेट पर 158 रन बनाए, लेकिन साउथ अफ्रीका ने खराब क्षेत्ररक्षण और कमजोर गेंदबाजी का फायदा उठाकर छह विकेट से जीत दर्ज कर दी. इन दोनों मैचों में हरलीन देओल और शैफाली वर्मा ने रन बनाए, लेकिन मंधाना, जेमिमा रोड्रिग्स और ऋचा घोष की खराब फॉर्म का भारत को नुकसान हुआ है. भारत को नियमित कप्तान हरमनप्रीत कौर की बहुत कमी खल रही है जो कूल्हे की चोट के कारण नहीं खेल पा रही हैं.

यह भी पढ़ें : 



मैच फिक्सिंग मामले में अजहरुद्दीन की बढ़ सकती है मुश्किलें, TCA ने दोबारा CBI जांच की मांग की

IND vs ENG: भारत और इंग्लैंड का मैच टाई हुआ तो भी एक टीम बनेगी विजेता, सीरीज में नया नियम लागू है

शानदार लय में साउथ अफ्रीका के बल्‍लेबाज और गेंदबाज

गेंदबाजी विभाग में भी गायकवाड़, पूनम यादव और स्पिन ऑलराउंडर दीप्ति उम्मीदों पर खरा नहीं उतरी, जबकि तेज गेंदबाज अरूंधति रेड्डी और सिमरन दिल बहादुर भी असर नहीं छोड़ पाई. दूसरी तरफ साउथ अफ्रीका के बल्लेबाजों और गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया है. लीजेल ली, एनेके बोश और लॉरा वोलवार्ट ने बल्लेबाजी में शानदार फॉर्म दिखाई है. कप्तान सुन लुस भी अच्छी लय में हैं जबकि मिगनॉन डु प्रीज मध्यक्रम में अपनी भूमिका निभाने के लिये तैयार है. शबनीम इस्माइल और बोश ने गेंदबाजी में अहम भूमिका निभाई है.


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज