हैदराबाद टेस्ट: ऋषभ पंत, रहाणे का कमाल, वेस्टइंडीज बैकफुट पर

वेस्टइंडीज के गेंदबाजों ने पहले सत्र के खराब प्रदर्शन की इस सत्र में भरपाई की. उसने न सिर्फ दूसरे सत्र में विकेट निकाले, बल्कि अतिरिक्त रन भी कम खर्च किए

News18Hindi
Updated: October 13, 2018, 7:25 PM IST
हैदराबाद टेस्ट: ऋषभ पंत, रहाणे का कमाल, वेस्टइंडीज बैकफुट पर
वेस्टइंडीज के गेंदबाजों ने पहले सत्र के खराब प्रदर्शन की इस सत्र में भरपाई की. उसने न सिर्फ दूसरे सत्र में विकेट निकाले, बल्कि अतिरिक्त रन भी कम खर्च किए
News18Hindi
Updated: October 13, 2018, 7:25 PM IST
हैदराबाद टेस्ट में दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक भारत का स्कोर 308/4 है. रिषभ पंत 85 और रहाणे 75 रन बनाकर खेल रहे हैं. पहली पारी में 311 रन बनाने वाली वेस्टइंडीज की लीड सिर्फ 3 रनों की बची है. रहाणे और पंत के बीच पांचवें विकेट के लिए 146 रनों की साझेदारी हो गई है. तीसरे दिन ये दोनों ही बल्लेबाज अपने शतक पूरे करना चाहेंगे.

इन दोनों के अलावा भारत की ओर से पृथ्वी शॉ ने 70, कोहली ने 45, पुजारा ने 10 और राहुल ने 4 रन बनाए. वेस्टइंडीज की ओर से जेसन होल्डर ने 2, गैब्रियल और वैरिकन ने 1-1 विकेट झटके. दिलचस्प बात यह रही कि टीम इंडिया ने आखिरी सेशन में कोई विकेट नहीं गंवाया.

भारतीय टीम को अच्छी शुरुआत मिली थी. टीम इंडिया ने पहले सत्र में एक विकेट खोकर 80 रन बनाए थे लेकिन दूसरे सत्र में भारतीय बल्लेबाज विकेट पर टिक नहीं सके. विंडीज ने इस सत्र में मेजबान टीम के तीन बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा. पहले सत्र में भारत ने सिर्फ लोकेश राहुल (4) का विकेट खोया था जबकि युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (70) ने अपने करियर की दूसरी ही पारी में एक और अर्धशतक जमाया.


पृथ्वी ने अहमदाबाद में खेले गए पहले टेस्ट मैच में शतक जड़ा था. उन्होंने अपनी उस फॉर्म को इस मैच में भी जारी रखा. विंडीज के गेंदबाज हालांकि, इस मैच में इस युवा बल्लेबाज के खिलाफ बदली हुई रणनीति के साथ उतरे. पिछले मैच में पृथ्वी ने स्क्वॉयर ऑफ द विकेट ज्यादा रन बनाए थे. इसलिए इस बार मेहमान गेंदबाजों ने इस युवा बल्लेबाज के खिलाफ फुल लेंथ गेंदबाजी करने की नीति अपनाई.

पृथ्वी ने हालांकि बेहद आसानी ने फुल लेंथ गेंदों पर ड्राइव मारते हुए तेज अर्धशतक लगाया. पृथ्वी 19वें ओवर की चौथी गेंद पर इस रणनीति में फंस ही गए और जोमेल वारिकेन की गेंद को सीधे एक्स्ट्रा कवर पर खड़े शिमरोन हेटमायेर के हाथों में खेल बैठे. पहले सत्र में नाबाद लौटने वाले पृथ्वी ने दूसरे सत्र में 11 गेंदों का और सामना किया जिनपर 18 रन बटोरे. उन्होंने अपनी पारी में कुल 53 गेंदें खेली और 11 चौकों के अलावा एक छक्का मारा.

ये भी पढ़ें: लसिथ मलिंगा ने दांबुला वनडे में किया बड़ा कारनामा, मैक्‍ग्रा पीछे छूटे

चार रन बाद चेतेश्वर पुजार (10) गेब्रिएल की गेंद पर स्थापन्ना विकेटकीपर जाहमेर हेमिल्टन को कैच दे बैठे. यहां से कप्तान विराट कोहली (45) और उप-कप्तान रहाणे ने टीम को बचाने की कोशिश करते हुए चौथे विकेट के लिए 160 रनों की साझेदारी की. कोहली जब अपने अर्धशतक की तरफ बढ़ रहे थे तभी विपक्षी टीम के कप्तान जेसन होल्डर की गेंद पर एलबीडब्ल्यू करार दे दिए गए. कोहली ने इस पर रिव्यू लिया, लेकिन फैसला उनके पक्ष में नहीं गया.
Loading...

वेस्टइंडीज के गेंदबाजों ने पहले सत्र के खराब प्रदर्शन की इस सत्र में भरपाई की. उसने न सिर्फ दूसरे सत्र में विकेट निकाले, बल्कि अतिरिक्त रन भी कम खर्च किए. पहले सत्र में विंडीज ने 16 ओवरों के खेल में 15 अतिरिक्त रन दिए थे, लेकिन दूसरे सत्र में उसने सिर्फ 1 ही अतिरिक्त रन दिया.

इससे पहले, उमेश यादव ने अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए वेस्टइंडीज को दूसरे दिन अपने स्कोर में ज्यादा इजाफा नहीं करने दिया. मेहमान टीम ने दिन की शुरुआत सात विकेट के नुकसान पर 295 रनों के साथ की थी. टीम अपने खाते में सिर्फ 16 रन ही जोड़ पाई. तीनों विकेट उमेश यादव ने लिए. उन्होंने पहली पारी में कुल छह विकेट अपने नाम किए. यह उनके करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है.

किसी तेज गेंदबाज द्वारा इस मैदान पर किया गया है यह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी है. उमेश ने दिन के पहले ओवर में ही देवेंद्र बिशू (2) को पवेलियन भेजा. अगले ओवर में रोस्टन चेज (106) ने अपने टेस्ट करियर का चौथा शतक पूरा किया.

उमेश ने ही चेज को बोल्ड कर विंडीज को नौवां झटका दिया. चेज ने अपनी पारी में 189 गेंदों का सामना करते हुए आठ चौकों के अलावा एक छक्का लगाया. अगली ही गेंद पर उमेश ने शेनन गेब्रिएल को आउट कर विंडीज की पारी को समाप्त कर दिया. विंडीज के लिए चेज के अलावा कप्तान जेसन होल्डर ने 52 रन बनाए.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर