वेस्टइंडीज के खिलाफ जीत के बावजूद बढ़ी टीम इंडिया की टेंशन, ये है 3 वजह

India vs West Indies: टीम इंडिया(Indian Cricket Team) भले ही मैच जीती हो लेकिन विराट कोहली(Virat Kohli) के सामने कुछ ऐसी परेशानियां खड़ी हो गई हैं जिनका जल्द हल निकालना बेहद जरूरी है

News18Hindi
Updated: August 12, 2019, 7:51 AM IST
वेस्टइंडीज के खिलाफ जीत के बावजूद बढ़ी टीम इंडिया की टेंशन, ये है 3 वजह
विराट कोहली ने लगाया शानदार शतक
News18Hindi
Updated: August 12, 2019, 7:51 AM IST
त्रिनिडाड टोबैगो में खेले गए दूसरे वनडे में भारतीय क्रिकेट टीम(Indian Cricket Team) ने वेस्टइंडीज (West Indies) को हरा दिया. इस जीत के साथ टीम इंडिया 3 मैचों की वनडे सीरीज में 1-0 से आगे निकल गई. इस जीत में कप्तान विराट कोहली ने शानदार शतक ठोका, वहीं भारतीय टीम में वापसी कर रहे श्रेयस अय्यर ने भी अर्धशतकीय पारी खेली. हालांकि, इस जीत के बावजूद टीम इंडिया और कप्तान विराट कोहली की टेंशन जरूर बढ़ गई होंगी. आइए डालते हैं टीम इंडिया को टेंशन में डालने वाली 3 वजहों पर.

ऋषभ पंत- भले ही पंत को एम एस धोनी का उत्तराधिकारी माना जाता हो लेकिन उनकी बल्लेबाजी की शैली अब टीम इंडिया की चिंता की वजह भी बन चुकी है. ऋषभ पंत की कमजोरी उनका जल्दी आउट होना नहीं बल्कि खराब शॉट सेलेक्शन है. त्रिनिडाड में खेले गए दूसरे वनडे में पंत ने बेहद ही खराब शॉट खेल अपना विकेट गंवाया. पंत को ब्रेथवेट ने बोल्ड किया. पंत ने सेट होने के बाद गेंद की लाइन पर आने के बजाए अजीबोगरीब अंदाज में क्रॉस बैट से शॉट खेला जिसकी वजह से वो बोल्ड हो गए. पंत के अंदर टैलेंट है इसमें कोई दो राय नहीं, लेकिन जिस अंदाज में वो आउट होते हैं वो टीम इंडिया के लिए बड़ी टेंशन है.

ऋषभ पंत


शिखर धवन- धवन भले ही वनडे फॉर्मेट में टीम इंडिया के अहम खिलाड़ी हों, लेकिन जब से वो चोट से उबरकर वापस लौटे हैं उनकी फॉर्म कहीं खो सी गई है. वर्ल्ड कप में शतक लगाकर चोटिल होने वाले धवन ने वापसी के बाद से 2, 3, 23 और 1 रन की पारी खेली है. धवन 4 में से 3 पारियों में दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू पाए हैं. उनका फुटवर्क काफी धीमा लग रहा है, साफ है उनकी फॉर्म अच्छी नहीं चल रही है. धवन का आउट ऑफ फॉर्म होना टीम इंडिया के लिए अच्छी खबर नहीं है.

शिखर धवन


स्लॉग ओवर्स- पिछले काफी समय से टीम इंडिया को एक बड़ी समस्या ने घेरा हुआ है और वो है स्लॉग ओवर्स में खराब बल्लेबाजी. वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे वनडे में भी यही देखने को मिला. भारतीय टीम ने 40 ओवर में 3 विकेट पर 212 रन बना लिए थे और विराट कोहली-श्रेयस अय्यर की जोड़ी क्रीज पर थी. टीम इंडिया पूरी तरह सेट थी और उससे 300 रनों की उम्मीद की जा रही थी लेकिन ऐसा हो नहीं पाया. भारतीय टीम ने आखिरी 10 ओवर में महज 67 रन बनाए और उसके 4 विकेट गिरे. इस सीरीज में भले ही धोनी और हार्दिक पंड्या नहीं खेल रहे हैं लेकिन उनकी मौजूदगी में भी कई बार ऐसी स्थिति पैदा हुई है जब टॉप ऑर्डर ने रन बनाए लेकिन मिडिल ऑर्डर स्लॉग ओवर्स में रन नहीं बना पाया.

सर्जरी के लिए तैयार नहीं थे रैना, मगर दर्द ने कर दिया मजबूर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 12, 2019, 7:22 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...