टीम इंडिया पर '160 ग्राम का खतरा', वेस्टइंडीज को इंग्लैंड से मिला जीत का मंत्र!

Anoop Dev Singh | News18Hindi
Updated: August 21, 2019, 3:24 PM IST
टीम इंडिया पर '160 ग्राम का खतरा', वेस्टइंडीज को इंग्लैंड से मिला जीत का मंत्र!
टीम इंडिया के लिए खतरा है ड्यूक गेंद

भारत और वेस्टइंडीज (India vs West Indies) के बीच गुरुवार से टेस्ट सीरीज (Test Series) का आगाज हो रहा है, जिसे जीतने के लिए मेजबान टीम ने बड़ा प्लान बनाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 21, 2019, 3:24 PM IST
  • Share this:
टी20 और वनडे सीरीज जीतने के बाद अब टीम इंडिया के सामने टेस्ट सीरीज (India vs West Indies) जीतने की चुनौती है. हालांकि क्रिकेट के सबसे लंबे फॉर्मेट में वेस्टइंडीज को हराना इतना आसान नहीं होगा. वेस्टइंडीज की टीम कमजोर जरूर है, लेकिन उसके पास जीत का एक ऐसा मंत्र है, जो विराट एंड कंपनी को चौंका सकता है. वेस्टइंडीज ने अपनी इसी रणनीति के दम पर इंग्लैंड जैसी मजबूत टीम को मात दी थी. इसी साल वेस्टइंडीज ने घरेलू सीरीज में इंग्लैंड (England) जैसी मजबूत टेस्ट टीम को 2-1 से हराया था. आइए आपको बताते हैं कि आखिर वेस्टइंडीज के पास ऐसा क्या मंत्र है जो टीम इंडिया के लिए मुश्किल का सबब बन सकता है

ड्यूक गेंद का इस्तेमाल करेगा वेस्टइंडीज
वेस्टइंडीज की टीम भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में ड्यूक गेंद (Duke Bowl) का इस्तेमाल कर सकती है. ये वही ड्यूक गेंद है, जिसके खिलाफ भारतीय बल्लेबाज काफी परेशान दिखते हैं. इंग्लैंड में भी ड्यूक गेंद का इस्तेमाल होता है और भारतीय बल्लेबाज इसकी स्विंग के सामने परेशान से दिखते हैं. इसी साल इंग्लैंड की टीम वेस्टइंडीज दौरे पर आई थी और मेजबान टीम ने ड्यूक गेंद का इस्तेमाल किया था. हालांकि इंग्लैंड की टीम भी ड्यूक गेंद से ही घरेलू क्रिकेट खेलती है और वेस्टइंडीज के इस फैसले का विरोध हो रहा था, लेकिन बावजूद इसके वेस्टइंडीज की टीम को फायदा हुआ.

ड्यूक गेंद का इस्तेमाल कर विंडीज ने इंग्लैंड को हराया


वेस्टइंडीज ने इंग्लैंड की मजबूत टीम को टेस्ट सीरीज में 2-1 से मात दी. ब्रिजटाउन में खेले पहले टेस्ट में वेस्टइंडीज ने इंग्लैंड को 381 रनों के बड़े अंतर से हराया था और पहली पारी में इंग्लैंड की टीम सिर्फ 77 रनों पर ढेर हो गई थी. दूसरे टेस्ट में भी वेस्टइंडीज ने इंग्लैंड को 10 विकेट से मात देकर सीरीज अपने नाम कर ली थी. नॉर्थ साउंड में खेले गए दूसरे टेस्ट की दोनों पारियों में इंग्लैंड की टीम दोनों पारियों में सिर्फ 187 और 132 का स्कोर ही बना सकी थी.

वेस्टइंडीज को मिला ड्यूक गेंद से फायदा
इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाजों को ड्यूक गेंद और उछाल भरी पिच का फायदा मिला था. वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाज कीमार रोच ने सीरीज में सबसे ज्यादा 18 विकेट लिए थे. ऐसे में वेस्टइंडीज की टीम इसी रणनीति के साथ भारतीय टीम के खिलाफ भी उतर सकती है. एंटीगा की पिच को तेज उछाल भरी बनाकर और उसपर ड्यूक गेंद का इस्तेमाल कर टीम इंडिया के बल्लेबाजों को परेशान किया ही जा सकता है.
Loading...

राहुल,पंत और हनुमा विहारी ड्यूक गेंद के खिलाफ असहज


टीम इंडिया की बल्लेबाजी कमजोर
इसमें कोई दो राय नहीं है कि टीम इंडिया (Indian Cricket Team) की गेंदबाजी के मुकाबले उसकी बल्लेबाजी कमजोर है. विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा के अलावा दूसरा कोई ऐसा बल्लेबाज नहीं है जो पिच पर टिके और रन बनाए. अजिंक्य रहाणे बेहद खराब फॉर्म में चल रहे हैं. रोहित शर्मा टेस्ट क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहते हैं. केएल राहुल और ऋषभ पंत पर भी पूरी तरह भरोसा नहीं किया जा सकता.

ड्यूक गेंद से तेज गेंदबाजों को ज्यादा मदद मिलती है


ड्यूक गेंद के खिलाफ भारतीय बल्लेबाजों का प्रदर्शन
टीम इंडिया ने आखिरी बार ड्यूक बॉल (Duke Bowl) से इंग्लैंड दौरे पर टेस्ट सीरीज खेली थी जहां विराट कोहली के अलावा दूसरा कोई बल्लेबाज अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सका था. इंग्लैंड के खिलाफ विराट कोहली ने 59 से ज्यादा के औसत से 593 रन बनाए थे, उन्होंने दो शतक और 3 अर्धशतक लगाए थे लेकिन केएल राहुल ने 29, हनुमा विहारी ने 28, पंत ने 27 की औसत से रन बनाए. चेतेश्वर पुजारा का औसत भी 39 का रहा था. वेस्टइंडीज की कंडिशंस इंग्लैंड जैसी तो नहीं है लेकिन ड्यूक गेंद जरूर भारत को परेशान कर सकती है.

विराट कोहली ने खड़े किए टीम इंडिया के बल्लेबाजों पर सवाल

ऋषभ पंत के बाद हार्दिक पांड्या बने बेबीसिटर, देखें Video

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 21, 2019, 2:39 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...