INDvsWI: बुमराह मान चुके थे 'हार', लेकिन विराट कोहली की जिद ने पूरा किया सपना

News18Hindi
Updated: September 1, 2019, 12:28 PM IST
INDvsWI: बुमराह मान चुके थे 'हार', लेकिन विराट कोहली की जिद ने पूरा किया सपना
जसप्रीत बुमराह को विश्वास नहीं था कि रोस्टज चेज आउट हैं. इसके बाद विराट कोहली ने विश्वास जताया और रिव्यू लिया.

जसप्रीत बुमराह (Jasprit bumrah) की हैट्रिक बॉल पर रोस्टन चेज के खिलाफ एलबीडब्ल्यू‍ की अपील की गई, जिसे अंपायर ने नकार दिया. इसके बाद विराट कोहली (Virat Kohli) ने रिव्यू लिया

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 1, 2019, 12:28 PM IST
  • Share this:
क्रिकेट के सबसे पुराने और लंबे फॉर्मेट में देश के लिए खेलना हर खिलाड़ी का सपना होता है. जहां बल्लेबाज शतक जड़ने के बारे में सोचते हैं तो गेंदबाजों की इच्छा हैट्रिक लेने पर होती है, लेकिन ऐसे गिनती के ही गेंदबाज होते हैं, जिनका ये सपना हकीकत बनता है. जसप्रीत बुमराह  (Jasprit Bumrah)  उन्हीं में से एक हैं. शायद उनका भी यह सपना ही अधूरा रह जाता, अगर विराट कोहली (Virat Kohli)  जिद नहीं करते.

जसप्रीत बुमराह  (Jasprit Bumrah) ने वेस्टइंडीज के खिलाफ जमैका टेस्ट के दूसरे दिन हैट्रिक लेकर इतिहास रच दिया. बुमराह ने 16 रन देकर छह विकेट लिए. उन्होंने डेरेन ब्रावो  (Darren Bravo), शमारा ब्रूक्स (Shamarh Brooks) और रोस्टन चेज (Roston Chase) का विकेट लेकर अपनी हैट्रिक पूरी की. नौवें ओवर की दूसरी, तीसरी और चौथी गेंद पर  यॉर्करमैन में लगातार तीन विकेट लेकर टेस्ट क्रिकेट में हैट्रिक लेने वाले तीसरे भारतीय बन गए हैं, लेकिन उनकी हैट्रिक के पीछे जितनी को‌शिश उनकी है उतना ही कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) का भी हाथ है.

जसप्रीत बुमराह ने 16 रन देकर छह विकेट लिए


दरअसल बुमराह  (Jasprit Bumrah) ने अपने ओवर की दूसरी गेंद पर डेरेन ब्रावो को केएल राहुल (KL Rahul) के ‌हाथों कैच करवा दिया. इसके अगली गेंद पर उन्‍होंने ब्रुक्स को एलबीडब्‍ल्यू किया. तीसरी गेंद उनकी हैट्रिक बॉल थी. सामने रोस्टन चेज खड़े थे. बुमराह की गेंद चेज के पैड पर जाकर लगी. टीम इंडिया की ओर से एलबीडब्‍ल्यू के लिए अपील किया गया, जिसे अंपायर ने नकार दिया.

रिव्यू नहीं लेना चाहते थे बुमराह

बुमराह (Jasprit Bumrah) को भी विश्वास नहीं था कि गेंद बल्ले से पहले पैड पर लगी, लेकिन कप्तान कोहली को यकीन था कि यह विकेट है. बुमराह रिव्यू नहीं लेना चाहते थे, लेकिन कोहली ने रिव्यू लिया, जिसमें साफ हो गया कि गेंद बल्ले से पहले पैड पर लगी और वह लेग स्टंप को हिट कर ही थी. अंपायर को अपना फैसला बदलना पड़ा और रोस्‍टन चेज को पवेलियन लौटना पड़ा. इसी के साथ बुमराह (Jasprit Bumrah)  ने जमैका में इतिहास रच दिया.

डीआरएस पर फैसला बदलवाकर हैट्रिक लेने वाले तीसरे गेंदबाज 
Loading...

डीआरएस पर फैसला बदलवाकर बुमराह (Jasprit Bumrah)  ने हैट्रिक पूरी की. इसके साथ ही वह उन खिलाड़ियों की सूची में शामिल हाे गए हैं, जिनकी हैट्रिक बॉल पर तीसरे शिकार को नॉट आउट दिया गया और बाद में डीआरएस पर फैसला बदलवाकर हैट्रिक पूरी की. बुमराह (Jasprit Bumrah) से पहले 2016 में गॉल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ श्रीलंकाई गेंदबाज रंगना हेराथ और 2017 में द ओवल में साउथ अफ्रीका के खिलाफ इंग्लिश गेंदबाज मोईन अली (Moeen Ali ) ने इसी तरह से अपनी हैट्रिक पूरी की थी.

हैट्रिक लेने से पहले बुमराह (Jasprit Bumrah) ने सलामी बल्लेबाज जॉन कैंपबेल को ऋषभ पंत (Rishabh Pant) के हाथों कैच करवाकर वेस्टइंडीज को पहला झटका दे  दिया था और जैसे ही उन्होंने भारत को पहली सफलता दिलाई. कप्तान‌ विराट कोहली (Virat Kohli) भी उनके कायल हो गए. पहले विकेट के बाद कोहली ने उनकी तारीफ करते हुए कहा कि क्या बॉलर है. कप्तान की ये तारीफ स्टंप माइक में रिकॉर्ड हो गई थी.

3 गेंद, 3 विकेट, जानिए बुमराह ने कैसे बुना है‌ट्रिक का जाल

बुमराह ने 35 गेंदों में रचा इतिहास, बने पहले भारतीय

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 1, 2019, 11:42 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...