दुर्गम पहाड़ों से निकलकर श्वेता वर्मा ने बनाई भारतीय महिला क्रिकेट टीम में जगह

IND VS SA: श्वेता वर्मा ने कैसे बनाई टीम इंडिया में जगह, जानिये कहानी. (फोटो-श्वेता वर्मा ट्विटर)

IND VS SA: श्वेता वर्मा ने कैसे बनाई टीम इंडिया में जगह, जानिये कहानी. (फोटो-श्वेता वर्मा ट्विटर)

भारत-साउथ अफ्रीका महिला टीमों (India Women vs South Africa Women) के बीच 5 वनडे और 3 टी20 मैचों की सीरीज होगी, सभी मैच 7 मार्च से लखनऊ में खेले जाएंगे

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 28, 2021, 10:47 PM IST
  • Share this:
पिथौरागढ़. इरादा अगर मजबूत हो तो कोई भी मुकाम हासिल किया जा सकता है. साउथ अफ्रीका सीरीज के लिए भारतीय महिला क्रिकेट टीम मे चुनी गई श्वेता वर्मा (Sweta Verma) ने ये साबित कर दिखाया है. श्वेता बॉर्डर डिस्ट्रिक के दुर्गम क्षेत्र थल में रहतीं हैं. थल में रामगंगा के किनारे ही श्वेता ने शुरूआती दिनों में क्रिकेट सीखा. इंटर की पढ़ाई भी श्वेता ने थल इंटर कॉलेज से ही की है.

श्वेता का चयन साउथ अफ्रीका में पांच टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए भारतीय महिला टीम में बतौर बल्लेबाज-विकेट कीपर के लिए हुआ है. इंटर तक की पढ़ाई थल से करने के बाद श्वेता ने आगे की पढ़ाई के लिए अल्मोड़ा का रूख किया. अल्मोड़ा मे रहकर ही श्वेता ने कोच लियाकत अली ने उन्हें इस काबिल बनाया कि वे भारतीय महिला क्रिकेट टीम का हिस्सा बनीं हैं.

7 साल पहले अल्मोड़ा में ट्रेनिंग लेने पहुंचीं थी श्वेता
श्वेता के कोच लियाकत अली बताते हैं कि उन्हें श्वेता के बेहतरीन खिलाड़ी होने के बारे पता था. लेकिन वे ये भी जानते थे कि थल जैसी छोटी जगह में रहकर पेशेवर क्रिकेट का हुनर शायद उनमें निखरे. इसीलिए उन्होनें करीब 7 साल पहले श्वेता को अल्मोड़ा बुलाकर प्रशिक्षण देना शुरू कर दिया था.
मोटेरा के मैदान पर लेटे हुए नजर आए रोहित शर्मा, पूछा-चौथे टेस्ट में पिच कैसी होगी?



पहाड़ की लड़कियों के लिए मिसाल हैं श्वेता
श्वेता पहले मानसी और एकता बिष्ट भी उत्तराखंड से भारतीय महिला टीम का हिस्सा रह चुकी हैं. श्वेता 2016 से उत्तर प्रदेश की महिला क्रिकेट टीम से खेल रही हैं. बीते साल श्वेता का चयन भारतीय महिला क्रिकेट टीम’ए’ के लिए हुआ था. बहुत ही सामान्य परिवार से निकलीं श्वेता के पिता का पहले ही निधन हो चुका है, जबकि उनकी मां आंगनबाड़ी वर्कर हैं.छोटे से कस्बे से निकलकर भारतीय महिला क्रिकेट टीम का हिस्सा बनकर श्वेता ने पहाड़ की लड़कियों के सामने एक मिशाल पेश की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज