भारत का 'गैरी सोबर्स', 26 टेस्‍ट मैच बाद ही खत्‍म हो गया जिसका करियर

भारत का 'गैरी सोबर्स', 26 टेस्‍ट मैच बाद ही खत्‍म हो गया जिसका करियर
रुसी सुरती ने भारत की तरफ से 26 टेस्‍ट मैच खेले थे (फाइल फोटो)

रूसी सुरती (Rusi Surti) को बेहतरीन फील्डिंग के लिए जाना जाता था. उन्‍होंने मौका मिलने पर गेंदबाजी के साथ-साथ बल्‍लेबाजी से भी टीम को जीत दिलाई

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्‍ली. रूसी सुरती  (Rusi Surti) ...एक ऐसा नाम, जिन्‍हें सिर्फ 26 टेस्‍ट मैचों में ही भारत की गैरी सोबर्स माना जाने लगा था. रूसी को बेहतरीन फील्डिंग और कैचिंग के लिए याद किया जाता है. 25 मई 1936 को गुजरात में जन्‍में रूसी ने अपने बेहतरीन खेल के दम पर जल्‍द ही अपनी ए‍क अलग पहचान बना ली थी, मगर भारत के गैरी सोबर्स का इंटरनेशनल करियर सिर्फ 26 टेस्‍ट तक का ही रहा और फिर वो ऑस्‍ट्रेलिया बस गए. रूसी ने 2013 में दुनिया को अलविदा कह दिया था.

रूसी ने गुजरात और राजस्‍थान का रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) में प्रतिनिधित्‍व किया और उन्‍होंने क्‍वींसलैंड के साथ अपना फर्स्‍ट क्‍लास करियर खत्‍म किया. भारत की तरफ से 26 टेस्‍ट में  उन्‍होंने 1263 रन बनाए और 42 विकेट लिए. उन्‍होंने 9 अर्धशतक जड़े, जबकि 26 कैच लिए. 160 फर्स्‍ट क्‍लास मैच में उनके नाम 8 हजार 66 रन बनाए, जिसमं छह शतक और 54 अर्धशतक शामिल है. उनका सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन नाबाद 246 रन की पारी रही. रूसी ने 122 कैच और 284 विकेट लिए . हालांकि 1970 में वह क्‍वींसलैंड में बस गए थे.

गेंदबाजी में काबिलियत
रूसी बेहतरीन फील्‍डर थे . बल्‍लेबाजी की जिम्‍मेदारी भी संभाल लेते थे. गेंदबाजी की बात करे तो सीम, स्विंग और स्पिन भी करवाते थे. वो भी बाएं हाथ से. इसी कारण उन्‍हें भारत का सोबर्स कहा जाने लगा था. रूसी ने 1960 में पाकिस्‍तान के खिलाफ इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्‍यू किया था. इंटरनेशनल डेब्‍यू से पहले उन्‍होंने 18 फर्स्‍ट क्‍लास मैचों में बतौर ऑलराउंडर प्रभावित किया था. इसके बाद उन्‍होंने वेस्‍टइंडीज, इंग्‍लैंड, ऑस्‍ट्रेलिया और न्‍यूजीलैंड के खिलाफ भी खेला था.



ऑस्‍ट्रेलिया और न्‍यूजीलैंड दौरे पर किया यादगार प्रदर्शन


रूसी का बेहतरीन प्रदर्शन 1967- 68 के दौरान ऑस्‍ट्रेलिया और न्‍यूजीलैंड दौरे पर दिखा. ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर रूसी ने 367 रन बनाए थे. एडिलेड टेस्‍ट में 70, 53, मेलबर्न में 30 और 43, ब्रिस्‍बेन में 52, 64 और सिडनी में 29, 26 रन की पारी खेली थी. जबकि न्‍यूजीलैंड दौरे पर उन्‍होंने 321 रन बनाए थे. यही नहीं गेंदबाजी से कमाल करते हुए उन्‍होंने ऑस्‍ट्रेलिया में कुल 15 विकेट लिए थे. मगर 1969 में भारत दौरे पर आई ऑस्‍ट्रेलिया टीम के खिलाफ पहला टेस्‍ट मैच खेलने के बाद उन्‍हें टीम से बाहर कर दिया गया और ये मैच उनका आखिरी मैच साबित हुआ. इसके बाद भारत के इस गैरी सोबर्स को क्‍वींसलैंड जाना पड़ा.

धोनी और युवराज को लेकर रोहित का चौंकाने वाला खुलासा, कहा-दौड़ना पसंद नहीं करते

कोरोना वायरस के खौफ के बीच शुरू हुई क्रिकेट लीग, बाउंड्री तक की गई सेनेटाइज
First published: May 25, 2020, 6:17 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading