न्यूजीलैंड के खिलाफ पहली पारी में फिर 'फंस' गए विराट कोहली, पुरानी गलती दोहराना पड़ा महंगा

न्यूजीलैंड के खिलाफ पहली पारी में फिर 'फंस' गए विराट कोहली, पुरानी गलती दोहराना पड़ा महंगा
विराट कोहली न्यूजीलैंड दौरे पर सिर्फ एक ही अर्धशतक लगा पाए

न्यूजीलैंड (New Zealand) ने भारत (India) के खिलाफ वेलिंगटन टेस्ट (Wellington Test) के पहले दिन टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 21, 2020, 9:30 AM IST
  • Share this:
वेलिंगटन. न्यूजीलैंड (New Zealand) के खिलाफ वेलिंगटन टेस्ट (Wellington Test) के पहले ही दिन भारतीय टीम मुश्किल में पड़ गई है. टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत ही बेहद खराब रही और टीम के ओपनर पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) 16 रन के कुल स्कोर पर आउट हो गए. देखते ही देखते भारत की आधी टीम 101 रनों तक आते-आते पवेलियन लौट गई. इतना ही नहीं, दुनिया के नंबर वन टेस्ट बल्लेबाज और भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) भी कोई करिश्मा नहीं दिखा सके और महज 2 रनों पर रॉस टेलर को कैच थमाकर चलते बने.

ऑफ स्टंप की पहेली 
इस मुकाबले में यूं तो न्यूजीलैंड (New Zealand) के गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन कर पिच और हालात का भरपूर फायदा उठाया, लेकिन विराट कोहली (Virat Kohli) के आउट होने में सिर्फ उन्हीं का हाथ नहीं था. दरअसल, भारतीय कप्तान लंबे समय से ऑफ स्टंप के बाहर की गेंदों पर इसी अंदाज में विकेट गंवाते रहे हैं और हालिया समय में ये उनकी बड़ी कमजोरी भी बन गई है. वेलिंगटन टेस्ट (Wellington Test) के पहले दिन भी विराट कोहली काइल जैमीसन की ऑफ स्टंप के बाहर की गेंद पर ड्राइव लगाने के चक्कर में स्लिप में कैच दे बैठे. इस दौरान उनका शरीर गेंद से काफी दूर था.

इस फर्क को ऐसे समझें



विराट कोहली (Virat Kohli) को ऑफ स्टंप के बाहर की गेंदों पर ऐसी परेशानी पहले भी हुई थी. साल 2014 में विराट को इस तरह की गेंदों ने खूब तंग किया था. मगर उसके बाद उन्होंने अपनी तकनीक पर काम किया और इस कमजोरी पर काफी हद तक कामयाबी पाई. मगर एक बार फिर अब ये चुनौती उनके सामने आ खड़ी हुई है. दरअसल, तब विराट कोहली विकेट पर सीधे खड़े होते थे और उनके पैरों के बीच का गैप भी काफी कम था. इससे जब वे ऑफ स्टंप के बाहर की गेंदों पर ड्राइव लगाने जाते थे तो उन्हें अपने ऑफ स्टंप को लेकर असमंजस रहता था. इसके बाद उन्होंने विकेट पर थोड़ा टेढ़ा खड़ा होना शुरू किया और पैरों को ज्यादा खोलकर खड़े होने का फैसला किया. इससे उन्हें गेंद की लाइन तक पहुंचने में आसानी हुई.



गेंद की लाइन तक नहीं पहुंच पाए कोहली
मगर पिछली कुछ पारियों से विराट कोहली (Virat Kohli) ऑफ स्टंप के बाहर की गेंदों पर फिर से फंसते नजर आ रहे हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि कई बार वे गेंद की लाइन तक पहुंचने से पहले ही शॉट खेल देते हैं, जिससे गेंद की थोड़ी सी भी मूवमेंट उनके लिए परेशानी बन जाती है. यही वजह है कि ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर एडम जैम्पा ने भी कहा था कि विराट को आउट करने का सही समय उनकी पारी की शुरुआत में ही होता है, जब वह थोड़ा असहज महसूस करते हैं. काइल जैमीसन की गेंद पर भी विराट ने ऐसा ही किया और काफी दूर से शॉट खेलने की भूल कर बैठे. यही वजह है कि वेलिंगटन टेस्ट की पहली पारी में भारतीय कप्तान सिर्फ सात गेंदें ही खेल पाए और दो रन बनाकर चलते बने.

साहा के साथ हुआ 'धोखा', पंत को खिलाने के लिए कोहली ने कर दिया टीम से बाहर

केएल राहुल की फोटो से पंत की गई 'नौकरी', अब उड़ रहा जमकर मजाक
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading