वर्ल्‍ड कप में हार के साइड इफेक्‍ट! टीम इंडिया का साथ छोड़ने की तैयारी में ओप्‍पो

ओप्‍पो ने मार्च 2017 में 1079 करोड़ रुपये में 5 साल के लिए टीम इंडिया की स्‍पॉन्‍सरशिप के अधिकार हासिल किए थे.

News18Hindi
Updated: July 14, 2019, 5:06 PM IST
वर्ल्‍ड कप में हार के साइड इफेक्‍ट! टीम इंडिया का साथ छोड़ने की तैयारी में ओप्‍पो
टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली.
News18Hindi
Updated: July 14, 2019, 5:06 PM IST
वर्ल्‍ड कप 2019 के सेमीफाइनल में हार के बाद अब इंडिया का स्‍पॉन्‍सर ओप्‍पो उससे अलग हो सकता है. जिस तरह की खबरें सामने आ रही हैं उनसे लग रहा है कि चीनी स्‍मार्टफोन कंपनी हटने की तैयारी में है और वह किसी दूसरी कंपनी को यह डील देने पर काम कर रही है. ऐसे में अगले साल टीम इंडिया की जर्सी पर नए स्‍पॉन्‍सर का नाम हो सकता है. माना जा रहा है कि ओप्‍पो ने इस बारे में बीसीसीआई से भी बात की है और बताया है कि वह नए ब्रांड को कॉन्‍ट्रेक्‍ट देने जा रहा है. वर्ल्‍ड कप में इंडिया के सेमीफाइनल में हार के बाद यह खबर सामने आई है.

बीबीके इंडस्‍ट्रीज के मालिकाना हक वाले ब्रांड ओपो ने 2017 में टीम इंडिया के स्‍पॉन्‍सर होने के अधिकार हासिल किए थे. उस समय ओप्‍पो के टीम इंडिया के स्‍पॉन्‍सर बनने पर काफी हंगामा भी हुआ था. इंडिया और चीन के बीच प्रतिस्‍पर्धा है और ऐसे में किसी चीनी कंपनी के स्‍पॉन्सरशिप हासिल करने पर सवाल उठाए गए थे.



इनसाइडरिपोर्ट ने खबर दी है कि एक डिजीटल टेक स्‍टार्ट अप ने ओप्‍पो से स्‍पॉन्‍सरशिप हासिल करने के लिए सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है. ऐसे में जल्‍द ही ओप्‍पो की जगह टीम इंडिया की जर्सी पर नया नाम नजर आ सकता है. हालांकि अभी अंतिम फैसला लेना बाकी है.

indian cricket team, team india, india cricket sponsor, oppo india, oppo india sponsor, ओप्‍पो इंडिया, इंडिया क्रिकेट, इंडियन क्रिकेट टीम, बीसीसीआई
इंडियन टीम की जर्सी.


ओप्‍पो ने मार्च 2017 में 1079 करोड़ रुपये में 5 साल के लिए टीम इंडिया की स्‍पॉन्‍सरशिप के अधिकार हासिल किए थे. उसने वीवो को पछाड़ा था जिसने 768 करोड़ रुपये की बोली लगाई थी. ओप्‍पो अभी बीसीसीआई को हरेक मैच के लिए 4.61 करोड़ रुपये प्रति मैच रकम देती है. वहीं आईसीसी या एशियन क्रिकेट काउंसिल के मैचों में यह रकम 1.56 करोड़ रुपये होती है. यह सबसे बड़ी स्‍पॉन्‍सरशिप रकम है.

इससे पहले सहारा इंडिया 2012-13 में 3.34 करोड़ रुपये हर मैच के हिसाब से देती थी. सहारा के जाने के बाद स्‍टार स्‍पोर्टस को स्‍पॉन्‍सरशिप मिली थी. उसने आईसीसी या एशियन क्रिकेट काउंसिल के मैचों के अलावा बाकी मैचों के लिए 1.92 करोड़ रुपये दिए थे.

बीसीसीआई ने बीच में सौदा तोड़ने पर भारी भरकम जुर्माने का प्रावधान भी कर रखा है. लेकिन ओप्‍पो इससे बच सकता है लेकिन इसके लिए उसे इन्‍हीं शर्तों पर दूसरा ब्रांड ढूंढ़ना होगा.
Loading...

IPL दीवानों को मिलेगी खुशखबरी, 2 नई टीमें होंगी शामिल

टाई हुआ इंग्लैंड-न्यूजीलैंड फाइनल तो ये टीम बनेगी विजेता!
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...