लाइव टीवी

विराट कोहली की कप्‍तानी में बढ़ी भारतीय गेंदबाजी की ताकत, पिछले 10 टेस्‍ट में पेसर्स का जलवा

भाषा
Updated: November 17, 2019, 5:54 PM IST
विराट कोहली की कप्‍तानी में बढ़ी भारतीय गेंदबाजी की ताकत, पिछले 10 टेस्‍ट में पेसर्स का जलवा
भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण.

इशांत शर्मा (Ishant Sharma), मोहम्मद शमी (Mohammed Shami), जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah), उमेश यादव (Umesh Yadav) जैसे तेज गेंदबाजों ने भारत ही नहीं विदेशों में भी अपने कौशल का डंका बजाया है.

  • Share this:
नई दिल्ली: भारतीय गेंदबाजों (Indian Bowlers) ने पिछले दस टेस्ट मैचों में 186 विकेट हासिल किए  जिसमें से 123 विकेट तेज गेंदबाजों के खाते में गए, जो पिछले कुछ वर्षों में भारतीय आक्रमण में सीम और स्विंग की बढ़ती ताकत का सबूत है. इशांत शर्मा (Ishant Sharma), मोहम्मद शमी (Mohammed Shami), जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah), उमेश यादव (Umesh Yadav) जैसे तेज गेंदबाजों ने भारत ही नहीं विदेशों में भी अपने कौशल का डंका बजाया है और कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने भी उन पर पूरा भरोसा दिखाया है. आंकड़े इस बात के गवाह हैं कि भारतीय टीम (Indian Team) अगर पिछले एक साल में दस में से आठ मैच जीतने में सफल रही तो उसमें तेज गेंदबाजों का योगदान अहम रहा जिन्होंने इन मैचों में 102 विकेट हासिल किए. रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) और रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) की अगुवाई में स्पिनरों ने ऐसे मैचों में 54 विकेट लिए.

केवल शमी ने पिछले 10 मैच खेले
यह तेज गेंदबाजों के बढ़ते दबदबे का ही असर है कि केवल एक गेंदबाज पिछले सभी दस मैचों में खेला और वह शमी हैं जिन्होंने इस बीच 18.42 की औसत से 45 विकेट लिए. उनके अलावा बुमराह ने छह मैचों में 34, इशांत ने आठ मैचों में 27 और उमेश ने चार मैचों में 17 विकेट हासिल किए. स्पिनरों में अश्विन (पांच मैच) और जडेजा (आठ मैच) ने 26-26 विकेट चटकाए.

indian cricket team, indian fast bowlers, virat kohli, indian test team, mohammed shami, umesh yadav, ishant sharma, भारतीय टेस्‍ट टीम, भारतीय तेज गेंदबाजी, विराट कोहली
इशांत शर्मा और मोहम्‍मद शमी टीम इंडिया के अनुभवी गेंदबाज हैं.


भारत की पहचान रहा है स्पिन आक्रमण
भारत 1932 से टेस्ट क्रिकेट खेल रहा है और लंबे समय तक उसका आक्रमण स्पिनरों पर निर्भर रहा. भारत ने अब तक 539 मैच खेले हैं जिनमें गेंदबाजों ने 7760 विकेट लिए जिनमें से तेज या मध्यम गति के 112 गेंदबाजों ने 3260 और 97 स्पिनरों ने 4401 विकेट प्राप्त किए. बाकी 99 विकेट ऐसे गेंदबाजों ने लिए जो स्पिन और मध्यम गति दोनों तरह से गेंदबाजी करते थे जैसे दत्तू फडकर जिन्होंने अपने करियर में 62 विकेट लिए.

india bangladesh test, ind vs ban live score, live cricket score, indore test score, ind vs ban live, mohammed shami wickets, indore test news, इंदौर टेस्‍ट स्‍कोर, इंडिया बांग्‍लादेश लाइव स्‍कोर, लाइव क्रिकेट स्‍कोर, लाइव इंदौर टेस्‍ट
मोहम्‍मद शमी, उमेश यादव और इशांत शर्मा की तेज गेंदबाजी लगातार जादू बिखेर रही है.

Loading...

इन 539 मैचों में से कोहली 52 मैचों में टीम की कप्तानी कर चुके हैं जिनमें गेंदबाजों ने 911 विकेट लिए हैं. इसमें तेज गेंदबाजों का योगदान 434 विकेट और स्पिनरों का 477 विकेट है. स्पिनरों ने इनमें से 307 विकेट घरेलू सरजमीं पर खेले गए 25 मैचों में लिए जबकि तेज गेंदबाजों ने ऐसे मैचों में 151 विकेट हासिल किए.

पिछले 4 साल में तेज गेंदबाजों का प्रदर्शन जबरदस्‍त
इंदौर में बांग्लादेश के खिलाफ खेले गए मैच में तेज गेंदबाजों ने 14 विकेट हासिल किए. यह घरेलू मैदानों पर एक मैच में भारतीय तेज गेंदबाजों का सातवां सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. रिकॉर्ड 17 विकेट का है जो उन्होंने 2017 में श्रीलंका के खिलाफ कोलकाता में बनाया था. इससे पता चलता है कि पिछले कुछ वर्षों में तेज गेंदबाजों ने देश और विदेश दोनों जगह अपनी छाप छोड़ी है. पिछले चार वर्षों के आंकड़ों पर गौर करें तो इस बीच तेज गेंदबाजों को 408 और स्पिनरों को 418 विकेट मिले.

india bangladesh test, ind vs ban live score, live cricket score, indore test score, ind vs ban live, mohammed shami wickets, indore test news, इंदौर टेस्‍ट स्‍कोर, इंडिया बांग्‍लादेश लाइव स्‍कोर, लाइव क्रिकेट स्‍कोर, लाइव इंदौर टेस्‍ट
मोहम्‍मद शमी ने जसप्रीत बुमराह की कमी नहीं खलने दी है.


धोनी की कप्‍तानी में मिले सबसे ज्‍यादा विकेट
कोहली अभी तक 52 मैचों में कप्तानी कर चुके हैं जिनमें से भारत को रिकॉर्ड 32 मैचों में जीत मिली है. इन जीते गए मैचों में स्पिनरों ने अगर 346 विकेट लिए तो तेज गेंदबाज भी 275 विकेट लेकर बहुत पीछे नहीं रहे. कोहली की कप्तानी में भारत ने 19 मैच स्वदेश में जीते हैं.
अगर अन्य भारतीय कप्तानों के कार्यकाल में तेज और स्पिन गेंदबाजों के रिकॉर्ड पर गौर करें तो महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में गेंदबाजों को अब तक सर्वाधिक 936 विकेट मिले.
धोनी ने हालांकि 60 मैचों में कप्तानी की जिनमें 466 विकेट तेज गेंदबाजों और 470 विकेट स्पिनरों ने लिए.

बाकी कप्‍तानों के कार्यकाल में ऐसा रहा गेंदबाजों का प्रदर्शन
भारत के सबसे सफल कप्तानों में से एक सौरव गांगुली के कप्तानी में 49 मैचों में स्पिनरों ने 404 और तेज गेंदबाजों ने 361, मोहम्मद अजहरूद्दीन (47 मैच) की अगुवाई में स्पिनरों ने 379 और तेज गेंदबाजों ने 319, सुनील गावस्कर (47 मैच) के नेतृत्व में स्पिनरों ने 310 और तेज गेंदबाजों ने 304, मंसूर अली खां पटौदी (40) की अगुवाई में स्पिनरों ने 468 और तेज गेंदबाजों ने 109, कपिल देव (34) के नेतृत्व में स्पिनरों ने 228 और तेज गेंदबाजों ने 211, सचिन तेंदुलकर (25) की अगुवाई में स्पिनरों ने 157 और तेज गेंदबाजों ने 182 तथा राहुल द्रविड़ (25) की कप्तानी में स्पिनरों ने 186 और तेज गेंदबाजों ने 211 विकेट लिए थे.

भारतीय बल्‍लेबाज ने 14 गेंद में ठोके 50 रन, बाल-बाल बचा युवराज का रिकॉर्ड

मोहम्मद शमी-मयंक अग्रवाल को इंदौर टेस्ट में रिकॉर्ड तोड़ प्रदर्शन का मिला इनाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 17, 2019, 5:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...